Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




मसीह का परखा जाना व शैतान का पतन!

THE TEMPTATION OF CHRIST
AND THE FALL OF SATAN!
(Hindi)

डॉ आर एल हायमर्स‚ जूनि.
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

ल्यॉस ऐंजीलिस के बैपटिस्ट टैबरनैकल में रविवार सुबह
२९ जुलाई‚ २०१८ को प्रचार किया गया संदेश
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Morning, July 29, 2018


प्रभु यीशु मसीह का सामना शैतान से होता है। इस वर्णन के लिये मत्ती की पुस्तक अध्याय ४:१ खोल लीजिए। स्कोफील्ड स्टडी बाइबल में ये वर्णन आप को पेज संख्या ९९७ पर मिलेगा।

‘‘तब उस समय आत्मा यीशु को जंगल में ले गया ताकि इब्लीस से (द्वारा) उन की परीक्षा हो" (मत्ती ४:१)

अब देखिये। पहला नाम जो शैतान को यहां दिया गया‚ वह ‘‘इब्लीस" है। यूनानी शब्द ‘‘डायबोलोस" के अनुवाद से यह शब्द आया है‚ इसका अर्थ है‚ ‘‘निंदक" या ‘‘बदनाम करने वाला"। उसने यीशु की परीक्षा इस उददेश्य से ली कि अगर वे उसके सामने समर्पण करते तो उसे उन्हें ‘‘बदनाम करने" का अवसर मिल जाता। अब पद तीन को पढ़िये‚

‘‘तब परखने वाले ने पास आकर उस से कहा‚ यदि तू परमेश्वर का पुत्र है, तो कह दे‚ कि ये पत्थर रोटियां बन जाएं" (मत्ती ४:३)

दूसरा नाम जो शैतान को यहां दिया गया‚ वह है ‘‘परखने वाला।" यह यूनानी शब्द ‘‘पैराजो" का अनुवाद है‚ जिसका अर्थ है‚ ‘‘परखना" या ‘‘जांचना"। प्रत्युत्त्तर में यीशु बाइबल की व्यवस्थाविवरण की पुस्तक के अध्याय ८:३ पद को दोहराते हैं‚ ‘‘मनुष्य केवल रोटी ही से नहीं‚ परन्तु हर एक वचन से जो परमेश्वर के मुख से निकलता है‚ जीवित रहेगा" (मत्ती ४:४) ।

रोचक बात यह है कि अब शैतान स्वयं बाइबल के पद दोहराता है। शैक्सपीयर ने सही कहा था, ‘‘शैतान अपने उददेश्य के लिये पवित्र बाइबल के पद दोहरा सकता है।" उसने भजन संहिता ९१:११—१२ से लेकर एक पद दोहराया। यद्यपि, उसने सही — सही नहीं दोहराया। यहोवा विटनेस और मार्मंस भी बाइबल से पद दोहराते हैं, किंतु सही प्रयोग नहीं करते हैं। जबकि, यीशु, शैतान को बिल्कुल ठीक उत्तर देते हैं,

‘‘यीशु ने उत्तर दिया कि‚ लिखा है कि मनुष्य केवल रोटी ही से नहीं‚ परन्तु हर एक वचन से जो परमेश्वर के मुख से निकलता है जीवित रहेगा" व्यवस्थाविवरण ६:१६ (मत्ती ४:७)

तब शैतान यीशु को तीसरी बार परखता है‚ यह कहकर कि वह इस संसार का समस्त वैभव उन्हें सौंप देगा‚ अगर वे उसे झुककर एक बार प्रणाम करें। अब मत्ती की पुस्तक अध्याय ४:१० को देखिये‚

‘‘तब यीशु ने उस से कहा‚ हे शैतान दूर हो जा‚ क्योंकि लिखा है‚ कि तू प्रभु अपने परमेश्वर को प्रणाम कर और केवल उसी की उपासना कर" व्यवस्थाविवरण ६:१३ और १०:२: (मत्ती ४:१०)

डॉ जे वर्नान मैगी ने कहा था कि‚ ‘‘प्रभु यीशु ने हर बार वचन अर्थात (बाइबल) में से पद लेकर शैतान को उत्तर दिये। शैतान यह सोचता हुआ प्रतीत हुआ कि (बाइबल) ने बिल्कुल उचित उत्तर दिये। क्योंकि इसके अगले ही पद में हम पढ़ते हैं कि ‘तब शैतान उनके पास से चला गया’ (मत्ती ४:११)" (जे वर्नान मैगी‚ थ्रू दि बाइबल, मत्ती ४:१—११ पर व्याख्या)

ध्यान दीजिए‚ पद दस में यीशु ने शैतान को तीसरा नाम दिया‚ ‘‘हे शैतान दूर हो जा.........।" यह यूनानी शब्द ‘‘सैटानज" का अनुवाद है। जिसका अर्थ है ‘‘दोष लगाने वाला।" यीशु परखे गये, यह प्रमाणित करने के लिये कि वे झुके नहीं, टूटे नहीं। मैं जानता हूं कि आप और हम प्रभु यीशु के समान ताकतवर नहीं हैं। पर हम कम से कम उनके उदाहरण को तो अपना सकते हैं। एक आत्मिक योद्धा और उनके शिष्य के रूप में प्रशिक्षण ले सकते हैं! यह भी ध्यान दीजिए‚ प्रभु यीशु ने हर परीक्षा का उत्तर वचन से दिया अर्थात बाइबल के पदों से जवाब दिया। उन्होंने ऐसा नहीं कहा‚ ‘‘कि मेरा ऐसा मानना है" या ‘‘ओह‚ मैं सोचता हूं कि यह अधिक अच्छी बात है।" यीशु ने वचन अर्थात बाइबल से बिल्कुल उचित और सही पद लेकर शैतान को जवाब दिया। मैंने धर्मविज्ञान में मास्टर्स डिग्री बहुत ही उदारवादी और बाइबल को नहीं मानने वाली सेमनरी से पूर्ण की। मैं वहां इसलिये अध्ययन करने गया था क्योंकि मेरे पास इतना पर्याप्त धन नहीं था कि मैं‚ जैसे अभी जॉन कैगन एक अच्छी सेमनरी में पढ़ रहे हैं‚ वैसी किसी सेमनरी में पढ़ पाता। पर उस बुरी सेमनरी में मैंने एक बात सीखी। मैंने बाइबल से पद लेकर प्रोफेसर्स को जवाब देना सीखा। वे मुझे संकीर्ण दिमाग का पुरातन पंथी इंसान कहते रहे। उनके कहने से मैं बिल्कुल भी विचलित नहीं होता था! मैं यीशु का अनुसरण कर रहा था। मैं यीशु का चेला था — न कि उनका!

इसलिए आप के लिए यह आवश्यक है कि आप यहां वापस आवें और बाइबल से सीखें। किसी अन्य चर्च या बाइबल अध्ययन के लिए कहीं ओर भागने की कतई आवश्यकता नहीं है। जो व्यक्ति उस समूह का संचालन कर रहे होते हैं‚ जरूरी नहीं कि वे बाइबल के अच्छे ज्ञाता हों। इसलिए वे आप को मसीह के सच्चे शिष्य के रूप में प्रशिक्षित भी नहीं कर सकते हैं। अगर आप यहां आते रहे तो हम आप को परमेश्वर यहोवा का शुद्ध वचन सिखाएंगे और कई मुख्य पद स्मरण करवायेंगे। आज के दिन जो पद आप को स्मरण करना है वह इस प्रकार है।

‘‘मैं ने तेरे वचन को अपने हृदय में रख छोड़ा है, कि तेरे विरुद्ध पाप न करूं" (भजन ११९:११)

अब मैं चाहता हूं कि आप बाइबल अर्थात यहोवा परमेश्वर के वचन से देखें कि शैतान की उत्पत्ति कहां से हुई है। कुछ नये बने प्रचारक आप को सिखायेंगे कि शैतान के बारे में जानना इतना महत्वपूर्ण नहीं है। मगर आप जब मसीह के शिष्य बनना चाहते हैं तो आप के लिए शैतान के बारे में कुछ जानना आवश्यक है! बाइबल से यशायाह की पुस्तक १४:१२—१५ अध्याय खोल लीजिए। यह पद स्कोफील्ड स्टडी बाइबल की पेज संख्या ७२६ पर मिलता है। कृपया अपने स्थानों पर खड़े हो जावें और जब मैं उंचे स्वर में इसको पढ़ता हूं‚ आप भी शांति से इसका वाचन कीजिए।

‘‘हे भोर के चमकने वाले तारे तू क्योंकर आकाश से गिर पड़ा है? तू जो जाति जाति को हरा देता था‚ तू अब कैसे काट कर भूमि पर गिराया गया है? तू मन में कहता तो था कि मैं स्वर्ग पर चढूंगा‚ मैं अपने सिंहासन को ईश्वर के तारागण से अधिक ऊंचा करूंगा और उत्तर दिशा की छोर पर सभा के पर्वत पर बिराजूंगा‚ मैं मेघों से भी ऊंचे ऊंचे स्थानों के ऊपर चढूंगा‚ मैं परमप्रधान के तुल्य हो जाऊंगा। परन्तु तू अधोलोक में उस गड़हे की तह तक उतारा जाएगा" (यशायाह १४:१२—१५)

अब आप बैठ सकते हैं।

१२ वें पद में शैतान को लूसीफर कहा गया है। इब्रानी भाषा में ‘‘लूसीफर" का अर्थ ‘‘चमकता हुआ तारा" होता है। शैतान के नाम को ‘‘चमकता हुआ तारा" कहना‚ आप में से कईयों को उसके बारे में समझने में बहुत सहायता करेगा। कुछ क्रिश्चयंस समूह और पेंटीकॉस्टल्स में लोग ‘‘चमकते प्रकाश" को देखते हैं और सोचते हैं कि यह पवित्र आत्मा है। नहीं! नहीं! यह शैतान है! यह लूसीफर है! बाइबल में दूसरा कुरूंथियों की पुस्तक अध्याय ११:१४ में लिखा हुआ है‚ ‘‘शैतान आप भी ज्योतिमर्य स्वर्गदूत का रूप धारण करता है।" जब आप किसी के सिर पर प्रकाश देखते हैं तो वह शैतान है! वह यहोवा परमेश्वर नहीं है वह पवित्र आत्मा नहीं है! यह शैतान है जो ‘‘ज्योतिमर्य स्वर्गदूत के रूप में परिवर्तित हो गया है। आजकल ऐसी पुस्तकें प्रचलन में है कि जो लोगों के मरने के बारे में बताती हैं‚ वे मरकर स्वर्ग जाते हैं और फिर पृथ्वी पर वापस आते हैं। लगभग सभी कहते हैं कि हमने स्वर्ग में ‘‘प्रकाश देखा।" वास्तव में ऐसी सभी मामलों में‚ वे शैतान द्वारा ठगे जाते हैं — वे देखते शैतान को हैं और भ्रम में बने रहते हैं कि यहोवा परमेश्वर को देखा! यह संभव नहीं है। मसीह ने हमको बतलाया था‚

‘‘परमेश्वर को किसी ने कभी नहीं देखा" (यूहन्ना १:१८)

अगर उन्होंने सच में ‘‘ज्योति" देखी है‚ तो वह यहोवा परमेश्वर नहीं थे! वह या तो लूसीफर (शैतान) था या उसी की सहयोगी दुष्टात्माओं में से कोई एक! परन्तु परमेश्वर तो कदापि नहीं!

वापस यशायाह १४:१२ पर आ जाते हैं। लूसीफर ने स्वर्ग से निकाले जाने पर ‘‘अनेक राष्ट्र को कमजोर किया"। मूलत: लूसीफर स्वर्ग में एक शक्तिशाली स्वर्गदूत था। किंतु यहोवा परमेश्वर का स्थान लेने की चाह में‚ वह स्वर्ग से बाहर गिरा दिया गया। यशायाह १४:१३—१५ को पढ़िये‚ जब मैं फिर से इस भाग को पढ़ता हूं। कृपया अपने स्थानों पर खड़े हो जाइये।

‘‘तू मन में कहता तो था कि मैं स्वर्ग पर चढूंगा‚ मैं अपने सिंहासन को ईश्वर के तारागण से अधिक ऊंचा करूंगा और उत्तर दिशा की छोर पर सभा के पर्वत पर बिराजूंगा‚ मैं मेघों से भी ऊंचे ऊंचे स्थानों के ऊपर चढूंगा‚ मैं परमप्रधान के तुल्य हो जाऊंगा। परन्तु तू अधोलोक में उस गड़हे की तह तक उतारा जाएगा" (यशायाह १४:१३—१५)

स्कोफील्ड में पेज ७५६ पर व्याख्या को पढ़िये। यहां लिखा हुआ है‚ ‘‘अंतत: पद १२—१४ शैतान के बारे में लिखा गया है.........यह आश्चर्यजनक पाठयांश संसार में पाप की शुरूआत को अंकित करता है। जहां लूसीफर ने कहा‚ ‘मैं करूंगा’ वहीं से पाप आरंभ हुआ।" अब प्रकाशितवाक्य १२:९ को देखिये। यह बाइबल के अंत में पेज संख्या १३४१ पर मिलता है। जब मैं इसे पढ़ता हूं‚ मेरे पीछे पीछे पढ़िये।

‘‘और वह बड़ा अजगर अर्थात वही पुराना सांप‚ जो इब्लीस और शैतान कहलाता है और सारे संसार का भरमाने वाला है‚ पृथ्वी पर गिरा दिया गया और उसके दूत उसके साथ गिरा दिए गए" (प्रकाशितवाक्य १२:९)

वह बड़ा अजगर यहां लूसीफर‚ शैतान है‚ ‘‘वही पुराना सांप‚ जो इब्लीस और शैतान कहलाता है।" आज के आधुनिक विद्धान कहते हैं‚ संसार के अंत में ये फिर से शैतान के बाहर निकाल दिये जाने का वर्णन है । यह पद यशायाह १४ में वर्णित उसी निकाले जाने को समझाने में सहायता करता है। दोनों ही मामलों में बताया गया है कि शैतान कहां से आया था। पद ९ में हमें यह भी बताया गया है ‘‘उसके दूत उसके साथ गिरा दिए गए।" ये विद्रोही स्वर्गदूत‚ वे दुष्टात्माएं बन गयीं‚ बाइबल में प्रभु यीशु से जिनका सामना होता था। प्रकाशितवाक्य १२:९ में एक और पद गौर करने लायक है‚ ‘‘शैतान‚ सारे संसार का भरमाने वाला है।"

विंस्टन चर्चिल यद्यपि चर्च जाने वाले क्रिश्चयन नहीं थे‚ तथापि वे समझते थे कि शैतान का अस्तित्व है। चर्चिल जानते थे कि द्धितीय विश्व युद्ध में हिटलर और जर्मनी की दुष्ट ताकतों के पीछे शैतान था। इसी कारण चर्चिल जान गये थे कि हिटलर के साथ उनका मेल नहीं हो सकता था। दूसरे अन्य लोग जैसे चैंबरलेन‚ लार्ड हैलीफैक्स और अन्य लोग जो ‘‘शांति के पहलकर्ता" थे‚ सोच रहे थे कि हिटलर के साथ शांति समझौता किया जा सकता था। किंतु चर्चिल जानते थे कि इस संसार की शैतानी ताकत को रोकना आवश्यक था अन्यथा फिर जैसा चर्चिल ने कहा था कि यह ‘‘ईसाई सभ्यता" का अंत होता।

हमें भी मसीह के शिष्यों के रूप में ऐसे ही लड़ना चाहिये। मेरे सहयोगी‚ रेव्ह जॉन कैगन आज रात ६:१५ पर‚ हमारे बैरी — अर्थात शैतान — पर प्रचार करेंगे। हम आप के लिये एक अच्छा गर्म भोजन तैयार रखेंगे‚ उसके पश्चात आप पास्टर जॉन को प्रचार करते सुनेंगे। आज की रात ६:१५ पर अपना आना सुनिश्चित कीजिए!

कृपया खड़े होकर लूथर का महान गीत गाइये‚ ‘‘ए माइर्टी फोर्टेस इज अवर गॉड" गाइये। आप के गीत की पुस्तिका में ये पेज संख्या १ पर अंकित है। कृपया खड़े होकर इसे गाइये!

परमेश्वर यहोवा हमारा पराक्रमी गढ़ है‚ एक शहरपनाह न हो विफल‚
   इस संसार की बुराई की बाढ़ के बीच में‚ हमारा सहायक ठहरा है।
हमारा पुराना बैरी अभी भी खोजता है कि हमें उदास करे;
   उसका छल और ताकत बड़ी है‚ वह नफरत से भरा हुआ है‚
यह भूतल उसके बराबर नहीं है।

क्या हम अपनी ताकत का भरोसा करते‚ संघर्ष हमें डूबोता है‚
   गर सही जन हमारे साथ न हो‚ खुद यहोवा का चुना हुआ न हो।
मत पूछो कि कौन हो सकता हैं वह? मसीह यीशु ही हैं‚ वह जन:
   सब्त का प्रभु‚ उनका नाम है‚ युगानुयुग जो समान हैं‚
उन्हें ही युद्ध जीतना है।
      (‘‘ए माइर्टी फोर्टेस इज अवर गॉड" रचयिता मार्टिन लूथर‚ १४८३—१५४६)


अगर इस संदेश ने आपको आशीषित किया है तो डॉ हिमर्स आप से सुनना चाहेंगे। जब आप डॉ हिमर्स को पत्र लिखें तो आप को यह बताना आवश्यक होगा कि आप किस देश से हैं अन्यथा वह आप की ई मेल का उत्तर नहीं दे पायेंगे। अगर इस संदेश ने आपको आशीषित किया है तो डॉ हिमर्स को इस पते पर ई मेल भेजिये उन्हे आप किस देश से हैं लिखना न भूलें।। डॉ हिमर्स को इस पते पर rlhymersjr@sbcglobal.net (यहां क्लिक कीजिये) ई मेल भेज सकते हैं। आप डॉ हिमर्स को किसी भी भाषा में ई मेल भेज सकते हैं पर अंगेजी भाषा में भेजना उत्तम होगा। अगर डॉ हिमर्स को डाक द्वारा पत्र भेजना चाहते हैं तो उनका पता इस प्रकार है पी ओ बाक्स १५३०८‚ लॉस ऐंजील्स‚ केलीफोर्निया ९००१५। आप उन्हें इस नंबर पर टेलीफोन भी कर सकते हैं (८१८) ३५२ − ०४५२।

(संदेश का अंत)
आप डॉ.हिमर्स के संदेश इंटरनेट पर प्रति सप्ताह पढ सकते हैं
www.sermonsfortheworld.com पर
''पांडुलिपि संदेशों'' पर क्लिक कीजिये।

पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना डॉ.
हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। यद्यपि डॉ.
हिमर्स के सारे विडियो संदेश का कॉपीराईट है और उन्हें
अनुमति से उपयोग में ला सकते हैं।

संदेश के पूर्व मि बैंजामिन किकेंड ग्रिफिथ द्वारा एकल गान:
‘‘ए माइर्टी फोर्टेस इज अवर गॉड" (रचयिता मार्टिन लूथर‚ १४८३—१५४६)