Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




उसने धार्मिक प्रवचन सुनें परन्तु कभी भी बचाया नहीं गया!

HE HEARD THE SERMONS BUT WAS NEVER SAVED!
(Hindi)

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की षाम, 2 दीसंबर, 2012 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, December 2, 2012

‘‘क्योंकि हेरोदेस यूहन्ना को धर्मी और पवित्र पुरूश जानकर उससे डरता था, और उसे बचाए रखता था, और उसकी बातें सुनकर बहुत घबराता था, पर आनन्द से सुनता था’’ (मरकुस 6:20)।


हेरोदेस ऐन्टीपास (Antipas), महान् हेरोदेस के पुत्रों में से एक था, जो जब यीषु जन्में तब षासक था। हेरोदस ऐन्टीपास (Antipas) कहा जाता था ‘‘हेरोदेस तेत्राक (Tetrarch)’’ क्योंकि वो गलील के एक चौथाई हिस्से का षासक बनाया गया था। वो गलीलवासीयों द्वारा ‘‘राजा हेरोदेस’’ भी कहा गया। उसने हेरोदियास से विवाह किया जो उसके भाई फिलिप्पुस की पत्नी थी। बपतीस्मा देनेवाला यूहन्ना ने धिक्कारा कि इस्त्राएल में षासक ऐसा कलंक लगानेवाला पाप करेगा। उसने हेरोदेस को इसके लिये कठोरता से निन्दा की। हेरोदेस ने यूहन्ना को बन्दीगृह में डाला क्योंकि हेरोदियास ऐसा चाहती थी। उसे बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना से तिरस्कार था उसके विवाह के विरूद्ध हेरोदेस से बातें करने के कारण। उसे ‘‘लोमड़ी’’ (लूका 13:32) कहते हुए यीषु ने दिखायी उनकी घृणा हेरोदेस के कपटी और धूर्त चरित्र की। हेरोदेस बहुत अंधश्रधालु, भयभीत और दोहरे विचार वाला था। ‘‘हेरोदियास (बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना) से बैर रखती थी और यह चाहती थी कि उसे मरवा डाले; परन्तु ऐसा न हो सका’’ (मरकुस 6:19)।

‘‘क्योंकि हेरोदेस यूहन्ना को धर्मी और पवित्र पुरूश जानकर उससे डरता था, और उसे बचाए रखता था, और उसकी बातें सुनकर बहुत घबराता था, पर आनन्द से सुनता था’’ (मरकुस 6:20)।

इस पाठ में हम देखते है कि हेरोदेस ने बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना को आदर दिया, आनन्द से उनको प्रचार करते सुना, बहुत सी चीजें की जो यूहन्ना ने उसे करने को कहा, और फिर भी वो सदा के लिये नश्ट हो गया।

थोड़े हफते पहले मैं फेलीक्स पर बात कर रहा था, रोमी सरकार जिसे प्रेरितो पौलुस ने प्रचार किया प्रेरितो 24 में। जब पौलुस बोला तब फेलिक्स भयभीत हो उठ-़ा, परन्तु उसे पश्चाताप नहीं हुआ और मसीह का भरोसा नहीं किया। उसे पौलुस के लिये कई बार भेजा गया, ‘‘और उसके बातें की’’ (प्रेरितो 24:26)। परन्तु वो परिवर्तित कभी भी नहीं हुआ। मैंने कहा मैं नयी नियमावली में किसी ओर आदमी के बारे में नहीं सोच सका जिसने बहुत धार्मिक प्रवचन सुने बचाये जाने के बिना। मेरे बोलने के बाद श्रीमान ग्रीफिथ ने मुझे हेरोदेस तेत्राक (Tetrarch) का स्मरण कराया, जिसके बारे में हमारे पाठ में कहा गया है,

‘‘क्योंकि हेरोदेस यूहन्ना को धर्मी और पवित्र पुरूश जानकर उससे डरता था, और उसे बचाए रखता था, और उसकी बातें सुनकर बहुत घबराता था, पर आनन्द से सुनता था’’ (मरकुस 6:20)।

यहाँ, फिर, आदमी है जो चित्रण करता है उनका जो कलीसिया में आते है और आनंद से धार्मिक प्रवचन सुनते है, जो अपने जीवन में कुछ बदलते है, परंतु पष्चाताप और मसीह पर भरोसा नहीं करते। अगर आप कलीसिया आते हो, परंतु परिवर्तित नहीं हुए हो, तो हेरोदेस के जीवन की कुछ चीजों के बारे में सोचो और अपने आप से उसकी तुलना करो।

1. पहला, हेरोदेस ने यूहन्ना की प्रषंसा की।

‘‘क्योंकि हेरोदेस यूहन्ना को धर्मी और पवित्र पुरूश जानकर उससे ड़रता था ...’’ (मरकुस 6:20)

मेथ्यु हेन्री ने कहा, ‘‘यह षक्य है कि आदमी को षायद बड़ा आदर हो ... अच्छे सेवको के लिये ... और फिर भी वो बुरा आदमी हो’’ (स्वयं)।

आप प्रचारक का आदर कर सकते हो। आप कह सकते हो कि वे ‘‘धर्मी और पवित्र पुरूश’’ है - और अभी तक बचाया नहीं गया। मुझे स्मरण है उस आदमी का जो चीनी बप्तीस कलीसिया में आया जब मैं वहाँ था। उसने कहा याजक, डो. लीन, महान् आदमी था, जैसे हकीकत में वे थे। इस आदमी ने सोचा डो. लीन इतने बुद्धिषाली और पवित्र बाइबल षिक्षक थे कि वह अपने पूरे परिवार के साथ दूसरे बेपटीस्ट कलीसिया से यहाँ स्थान - परिवर्तिन करे ताकि वे सारे हर रविवार डो. लीन को सुन सके। वो कलीसिया में रविवार को बैठेगा मग्न ध्यान में जब डो. लीन बोलते है। वो डो. लीन को लगभग हर समय कथन करता जब आप उससे बात करते। परन्तु कुछ वर्शों बाद उसने जर्मन गुप्त लेखक जेकब बोएमे (1575-1624) का लिखा हुआ पढ़ना षुरू किया। बोएमे बहुत अनोखा अपारंपारिक लेखक था, पवित्रषास्त्र के बहुत लाक्षणिक और असामान्य व्याख्या के साथ इस आदमीने ने बोएमे को डो. लीन के पास कथन करना षुरू किया, और प्रार्थना सभा में भी बोएमे की लिखाई का हिस्सा पढ़ने खड़ा रहता था। वह इस गुप्त लिखावट के साथ इतना गहरा गया कि वह डो. लीन के साथ विवाद करने लगा और कलीसिया छोड़ दिया। फिर से सोचते हुए, मुझे संदेह है कि वो आदमी हकीकत में परिवर्तित हुआ था। उसने डो. लीन को आदर और सम्मान से पूजा था। परंतु अन्त में, हेरोदेस ऐन्टीपास की तरह, उसने याजक का अस्वीकार किया, जैसे हेरोदेस ने आखिरकार बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना का अस्वीकार किया था।

कुछ मुददे पर व्यक्ति को प्रचारक की सीमा से बाहर आकर देखना चाहिए और स्वयं मसीह को देखना चाहिए। प्रचारक लोगों को सूचना देने के लिये होते है जबतक वे पश्चाताप करे और मसीह यीषु में सत्य का स्वीकार करें (देखिये 2 तीमुथियुस 2:25)। हेरोदेस कभी भी बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना के सम्मान और प्रषंसा से ऊपर आया ही नहीं। वो कभी यीषु के पास नहीं आया, कभी भी बचाया नहीं गया। स्पर्जन ने कहा,

      चाहे उसने यूहन्ना से प्रेम किया, (हेरोदेस) ने कभी भी यूहन्ना के (मास्टर) स्वामी को नहीं देखा। यूहन्ना कभी नहीं चाहता था कोई भी उसका चेला बने, परंतु वो चिल्लाया ‘‘देखो प्रभु का मेम्ना’’। हेरोदेस, चुनने के बाद यूहन्ना का अनुकरण करनेवाला था, पर कभी भी यीषु का अनुकरण करनेवाला नहीं। आपके लिये यह आसान है प्रचारक को सुनना और उनको प्रेम करना और उनकी प्रषंसा करना और फिर भी प्रचारक के स्वामी षायद आपके लिये अनजान ही हो। मैं आपसे विनंती करता हूँ, प्यारे मित्रो, आप में से किसी के साथ भी ऐसा किस्सा न होने दे ... मसीह के पास अपको जाना ही चाहिए; हमारी सारी सेवा का अंत है यीषु मसीह। हम चाहते है आपको वहाँ सीधा जाने, उनसे माफी लेने, उनसे पाप की मुक्ति, उनसे मन का फिराव, उनसे नया जीवन, क्योंकि यह सब व्यर्थ होगा अगर आपने सबसे विष्वासु प्रचारक के स्वामी को नहीं सुना और उनके सुसमाचार को नहीं माना। आप हेरोदेस होंगे और ज्यादा कुछ नहीं, जब तक अनुग्रह आपको यीषु मसीह तक नहीं ले जाता (सी.एच. स्पर्जन, ‘‘यूहन्ना और हेरोदेस’’, ध मेट्रोपोलीटन टबरनेकल पुलपीट, भाग XXVI, पीलग्रीम प्रकाषन, 1972, पृश्ठ 404)।

2. दूसरा, हेरोदेस ने बहुत सी चीजें की जब उसने यूहन्ना को प्रचार करते सुना।

‘‘क्योंकि हेरोदेस यूहन्ना को धर्मी और पवित्र पुरूश जानकर उससे डरता था, और उसे बचाए रखता था, और उसकी बातें सुनकर बहुत घबराता था, पर आनन्द से सुनता था’’ (मरकुस 6:20)।

हेरोदेस ने बहुत सी चीजें की जिसके बारे में उसने यूहन्ना का प्रचार सुना था। परन्तु वो हेरोदियास से छुटकारा न पा सका। वो उसकी अपनी भतीजी थी, और उसके अपने भाई से षादी की थी। वह अपने स्वयं के भाई द्वारा हुए बच्चों की माँ थी। और फिर भी हेरोदेस ने अपनी पहली पत्नी को बाहर निकाल दिया, जो उसे बहुत वर्शों तक विष्वासु थी, और इस दुश्ट, अईष्वरीय औरत, हेरोदियास ने उसकी जगह ली। हेरोदेस उसके साथ व्यभिचार करता था। इस औरत का प्रभाव था उसका षाप और नाष।

बहुत से आदमी और औरते नश्ट हुए है अपरिवर्तित व्यक्ति से करीबी संबंध रखने के द्वारा। बाइबल कहता है,

‘‘अविष्वासियों के साथ असमान जूए में न जुतो’’ (2 कुरिन्थियों 6:14)

बाइबल कहता है,

‘‘उनके बीच में से निकलो और अलग रहो’’ (2 कुरिन्थियों 6:17)।

बाइबल कहता है,

‘‘अतः जो कोई संसार का मित्र होना चाहता है, वह अपने आप को परमेष्वर का बैरी बनाता है’’ (याकूब 4:4)।

हमने युवा लेाग देखे है जो इतनी मजबूती से खोए हुए मित्रों के प्रभाव के वष में है कि वे उन लोगों से फिर कर मसीह के पास नहीं आते। स्पर्जन ने कहा, ‘‘यह सदा खतरनाक है अपरिवर्तित व्यक्ति के प्रभाव के अधीन होना, कितने भी प्रोत्साहक वे हो ... परमेष्वर आपको इससे ऊपर उठ़ने को सहाय करते है (या) आप अन्त में हेरोदेस बनोगे, और उससे ज्यादा कुछ नहीं’’ (ibid, पृश्ठ 406)।

हेरोदेस ‘‘ने बहुत सी चीजें की’’ जो उसने बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना के प्रचार में सुनी - परन्तु वो इस घृणित औरत से दूर नहीं किया गया। बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना ने उसे चेतावनी दी, ‘‘अपने भाई की पत्नी को रखना तुझे उचित नहीं’’ (मरकुस 6:18)। अगर उसने पष्चाताप किया होता और उसे दूर भेजा होता, और यीषु पर भरोसा किया होता, हेरोदेस बचाया गया होता। ‘‘परंतु’’, कोई षायद कहे, ‘‘वो उसके लिये षायद कठिन हुआ होगा ऐसा करना’’। हाँ, मैं जानता हूँ, यह सदा ‘‘कठिन’’ लगता है खोए मित्र को, या प्यारे पाप को छोड़ देना। परंतु ऐसे पाप को पकड़े रहना अन्त में सदा ही कठिन होता है। क्योंकि अन्त में हेरोदियास ने हेरोदेस से युक्ति से प्रचारक की हत्या करवाई जिसका वो कभी आदर करता था। और हेरोदेस ने हत्या करनेवाले सिपाही को भेजा बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना का सिर काटने, और वह इस सिर को एक थाल में लाया उस नीच और घृणा योग्य औरत के पास जो उसे मसीह से अधिक आवष्यक थी!

स्पर्जन ने कहा, ‘‘इसलिये ऐसा हुआ बहुत से आषावादी सुननेवालों के साथ; वे प्रचारक को कलंक फैलानेवाले और दुःख देनेवाले बन गए जिनके सामने पहले वे डरते थे, और जितना हो सके उतना अपने सिर उन्हें निकाल देते थे। कुछ समय बाद आदमी निंदा किए जाने को ना पसंद करने लगे, और वे अपनी नापसंद में आगे बढ़ते गये तबतक जबतक वे चीजों पर आक्षेप करने लगे जिसका कभी वे सम्मान करते थे ... सावधान! क्येंकि पाप का रास्ता नाष का रास्ता है। व्यक्ति षायद सुसमाचार प्रचार प्रेरित हो ... और फिर भी, अगर वो किसी निष्चित स्थिति के अधीन रखा जाता है, वो षायद तिरस्कार और बाधा करनेवाला बन जाये सच्चाई को कभी उसने स्वीकारा था’’ (ibid, पृश्ठ 407)।

जैसे आप षायद जानते हो, उनमें से कुछ जो तीव्रता से इस कलीसिया का तिरस्कार करते है, और हम पर दुश्टता से हमला करते है, जो कभी हमारे मित्र थे, जिन्होंने हमारे साथ प्रार्थना की और कहा वे हमें प्रेम करते है। उनके तिरस्कार की जड़े उस हकीकत में है कि वे पाप से प्यार करते है, और इसके लिये डाँटने पर नफरत करते है। यीषु ने कहा,

‘‘यदि तुम संसार के होते, तो संसार अपनों से प्रेम रखता; परन्तु इस कारण कि तुम संसार के नहीं, वरन् मैं ने तुम्हें संसार में से चुन लिया है, इसी लिये संसार तुम से बैर रखता है’’ (यूहन्ना 15:19)।

3. तीसरा, हेरोदेस का अंतःकरण उसे विश्राम नहीं देगा।

पवित्रषास्त्र का हिस्सा जो डो. चान ने यह धार्मिक प्रवचन षुरू होने पहले पढ़ा था, वो इन षब्दों से था,

‘‘और हेरोदेस राजा ने भी उसकी (यीषु) चर्चा सुनी ... और उसने कहा, यूहन्ना बपतिस्मा देनेवाला मरे हुओं में से जी उठा है, इसलिये उससे ये सामर्थ्य के काम प्रगट होते है’’ (मरकुस 6:14)।

मेथ्यु हेन्री ने कहा, ‘‘जब वो जीवित था उसे यूहन्ना का भय था, और अब जब उसने सोचा उसे उनसे (छुटकारा) मिला, दस गुना ज्यादा ड़र है जब वो मरा हुआ है। कोई षायद दानवों से और तीव्र क्रोध से डरते हो, जैसे अपराधी ठहराने वाले अंतःकरण के भय के साथ।’’

अन्त में, हेरोदेस की कोई भी धूर्तता और राजनीतिज्ञता उसे बचा नहीं सकी। राजा आरेतास (Aretas), नाबाटीयन (Nabatean) षासक जिसकी पुत्री हेरोदेस की पहली पत्नी थी, उसे हेरोदियास के लिये छोड़ने से पहले, उसने अपनी सेना को भेजा हेरोदेस के सामने उसकी पुत्री का बदला ले। इससे हेरोदेस एन्टीपास का पतन षुरू हुआ। वो आखिरकार रोमी सम्राट केलीगुला (Caligula) के सामने बुलाया गया। सम्राट ने उसकी सारी संपति ले ली और उसे फ्रान्स की गहरी अन्धेरी जगह में भेज दिया। बाद में वो स्पेन भेजा गया, जहाँ वो गरीबी में मर गया। इस प्रकार उसका सांसारिक जीवन खत्म हुआ, ‘‘और अधोलोक में उसने पीड़ा में पड़े हुए अपनी आँखे उठाई’’ (लूका 16:23)।

हेरोदेस ने, बपतिस्मा देनेवाले यूहन्ना का प्रचार सुना, ‘‘और बातें सुनकर बहुत घबराता था, पर आनन्द से सुनता था’’ - परंतु उसे कभी भी पष्चाताप न हुआ और उसने कभी यीषु पर भरोसा नहीं किया। यूहन्ना ने उसे यीषु का प्रचार दिया, परंतु उसने कभी भी उद्धारक का भरोसा नहीं किया।

यहाँ इस षाम आप में से कुछ है जो हमारी कलीसिया में प्रचार सुनने आये है। आप आते हो, परन्तु आप पष्चाताप नहीं करते, और आप यीषु पर भरोसा नहीं करते। मैं आपको चेतावनी देता हूँ, आपका अन्त हेरोदेस ऐन्टीपास से अधिक बेहतर नहीं होगा। आप बहुत कुछ करते हो। आप षायद कलीसिया के लिये अच्छे कपड़े पहन कर तैयार हो। आप षायद स्कोफिल्ड स्टडी बाइबल ले जाओ। आप षायद भक्तिगीत गाओ, आप षायद सुसमाचार प्रचार करने भी जाओ। हाँ, आप षायद बहुत सी चीजें करो, जैसे हेरोदेस ने की। परन्तु यीषु के बारे में क्या?

हेरोदेस ने एकबार यीषु को देखा, बहुत संक्षेप में, उद्धारक को क्रूस पर चढ़ाने से पहिले। परंतु ‘‘हेरोदेस अपने सिपाहियों के साथ ... अपमान करके ठट्ठों में उड़ाया ... और उसे पिलातुस रोमी प्रधान के पास लौटा दिया’’ (लूका 23:11)। इस समय तक हेरोदेस का मन पाप द्वारा इतना कठोर हो गया था कि उसने परमेष्वर के पुत्र के चेहरे पर अपमान और ठट्ठा किया! वैसा ही होगा आपको भी, अगर आप धार्मिक प्रवचन सुनते ही रहोगे परंतु यीषु पर भरोसा करने का अस्वीकार करोगे। चाहे वे क्रूस पर मरे हमारे पाप को चुकाने, और हमारे न्याय के लिये फिर से उठे, एक दिन आप दे दिये जाओगे कठोर मन और अधोलोक की अन्नत ज्वाला को, जैसे हेरोदेस एन्टीपास। उसने धार्मिक प्रवचन सुने, परंतु वो कभी भी बचाया नहीं गया! ओह, वो षायद आपका दुःखद अन्त न हो! आमीन!

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।


रूपरेखा

उसने धार्मिक प्रवचन सुनें परन्तु कभी भी बचाया नहीं गया!

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा

‘‘क्योंकि हेरोदेस यूहन्ना को धर्मी और पवित्र पुरूश जानकर उससे डरता था, और उसे बचाए रखता था, और उसकी बातें सुनकर बहुत घबराता था, पर आनन्द से सुनता था’’ (मरकुस 6:20)।

(लूका 13:32; मरकुस 6:19; प्रेरितो 24:26)

1.    पहला, हेरोदेस ने यूहन्ना की प्रषंसा की, मरकुस 6:20(अ); सीएफ.
2 तीमुथियुस 2:25।

2.    दूसरा, हेरोदेस ने बहुत सी चीजें की जब उसने यूहन्ना को प्रचार करते सुना,
मरकुस 6:20ब; 2 कुरिन्थियों 6:14, 17; याकूब 4:4;
मरकुस 6:18; यूहन्ना 15:19।

3.   तीसरा, हेरोदेस का अंतःकरण उसे विश्राम नहीं देगा, मरकुस 6:14;
लूका 16:23; 23:11।