Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




परमेष्‍वर जो अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है और प्रकट करते है

THE GOD WHO HIDES AND REVEALS HIMSELF
(Hindi)

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्‍तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की सुबह, 28 अक्‍टुबर, 2012
को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Morning, October 28, 2012

‘‘हे इस्‍त्राएल के परमेष्‍वर, हे उद्धारकर्ता, निष्‍चय तू ऐसा परमेष्‍वर है जो अपने को गुप्‍त रखता है''। (यषायाह 45:15)


रषिया का अवकाषयात्री (astronaut) गेरमन टीटोव साम्‍यवादी था जिसने प्रभु के अस्‍तित्‍व का अस्‍वीकार किया था जब वो बाहरी अवकाषीदुनिया से लौटकर आया था। उसने कहा, ‘‘कुछ लोग कहते है वहाँ बाहर प्रभु है, परंतु मेरे दुनिया के आस पास के सफर में, मैंने आसपास देखा और उन्‍हें नहीं देख पाया। मैंने ना परमेष्‍वर देखा ना ही स्‍वर्गदूत देखे ... मैं परमेष्‍वर में नहीं मानता। मैं आदमी में मानता हूँ।

परन्‍तु अमरिका का अवकाषयात्री ज्‍मेल्‍स. ए. मेकडीवीट्ट ने उसको जवाब दिया था। पृथ्‍वी की 62 बार प्रदिक्षणा (orbiting) करनेके बाद, जेमीनी 4 में चढ़ने के बाद, मेकडीवीट्ट ने कहा, ‘‘मैंने प्रभु को नहीं देखा मेरे यान के कक्ष की खड़ीकी से अन्‍दर देखते हुए, जैसे मैं प्रभु को मेरी कार की खीड़की से पृथ्‍वीपर अन्‍दर झाँकते नहीं देखता। परन्‍तु मैं उनका काम पहचान सकता हूँ, सितारों में और फूलो की वाटिका के बीच से चलते हुए। अगर आप धरती पर परमेष्‍वर के साथ हो सकते हो, आप अवकाष में भी प्रभु के साथ हो सकते हो।''

ये दो आदमी दिखाते है मूल फर्क लोगों में जो प्रभु में मानते है और वे जो उनमें विष्‍वास नहीं करते। नास्‍तिक प्रभु के षारीरिकरूपों को देखता है। जब वो इसे नहीं देख पाता, वो गलत मानता है कि वहाँ परमेष्‍वर नहीं है। दूसरी ओर मसीही देखते है प्रभु के विलक्षण काम को उसके सर्जन में।

हमारा पाठ दिखाता है कि प्रभु अनात्‍मवादी (Materialist) के सामने प्रकट नहीं हुए है, जो मांगता है कि प्रकभु उसके पास आए चिल्‍लाते और ढोल बजाते, और खिडकियों से झाँकते हुए। हास्‍यास्‍पद! बाइबल में हम कहीं भी नहीं पाते कि प्रभु ‘‘प्रभावित'' करते है उनका अस्‍तित्‍व नास्‍तिाके को इस प्रकार। हमारा पाठ कहता है,

‘‘हे इस्‍त्राएल के परमेष्‍वर, हे उद्धारकर्ता, निष्‍चय तू ऐसा परमेष्‍वर है जो अपने को गुप्‍त रखता है''। (यषायाह 45:15)

ध्‍यान दिजीये कि हमारा पाठ किसी भी परमेष्‍वर का संदर्भ नहीं करता। ये बात नहीं करता झूठे प्रभु धार्मिक विधि की उपासना करनेवालो या दूसरे विष्‍व के धर्म के प्रभु के बारे में। पाठ बात करता है सिर्फ सच्‍चे परमेष्‍वर की, ‘‘इस्‍त्राएल के प्रभु, उद्धारक।'' ये सच्‍चे प्रभु है जो अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है पापभरे आदमी से, और सिर्फ उनके सामने प्रकट होते जिसे वे बचाते है - ‘‘हे इस्‍त्राएल के परमेष्‍वर, उद्धारक।'' फिर चलिए थोड़ी मीनट के लिये समझते है परमेष्‍वर की ये दोनो बाजु - हकीकत की वे अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है इस पापभरे विष्‍व से, और हकीकत की वे प्रकट होते है उनके सामने जिसे वे बचाते है।

1. पहला, ये परमेष्‍वर है जो अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है।

भविश्‍यवक्‍ता यषायाह ने कहा, ‘‘तू ऐसा परमेष्‍वर है जो अपने को गुप्‍त रखता ...'' हकीकत में, वे अपने स्‍वयं को पाप भरे आदमी से गुप्‍त रखते है। (59) उन्‍साठ वे पाठ में भविश्‍यवक्‍ता यषायाह ने कहा, ‘‘तुम्‍हारे अधर्म के कामों ने तुम को तुम्‍हारे पापों के कारण उसका मुँह तुम से ऐसा छिपा है कि वह नहीं सुनता'' (यषायाह 59:2)।

जब हमारे पहले माता-पिता ने अदन की वाटिका में पाप किया, वे तुरंत ही प्रभु से काटे गए थे। वे उनको स्‍वयं को उससे छिपाते हैं। फिर वे वाटिका से बाहर ले गए और प्रभु के साथ संगति में नहीं चले। उनका पहला जन्‍मा पुत्र बनाया गया था जैसे ‘‘समानता'' और ‘‘प्रतिमा जैसे उनके पाप भरे पिता (उत्‍पति 5:3)। जब से कैन पापी जन्‍मा था उसने परमेष्‍वर के सामने द्रोह किया एकदम वैसे ही जैसे ही उसके पिता ने किया था। उसने उसके भाई की हत्‍या की और प्रभु ने उसको कुचला। पष्‍चाताप के बदले कैनने परमेष्‍वर से षिकायत की,

‘‘देख, तू ने आज के दिन मुझे भूमि पर से निकाला है, और मैं तेरी दृश्‍टि की आड़ में रहूँगा...'' (उत्‍पति 4:14)।

‘‘तब कैन यहोवा के सम्‍मुख से निकल गया, और नोद नामक देष मे ंजो ... रहने लगा'' (उत्‍पति 4:16)।

षब्‍द ‘‘नोद'' (Nod) का अर्थ है ‘‘भटकना''। पश्‍चाताप करने के बदले कैन प्रभु के सम्‍मुख से निकल गया और भटकनेवाला बन गया, ‘‘पृथ्‍वी पर भटकनेवाला और भगोड़ा'' (उत्‍पति 4:12)। प्रभु, कितनी बार हम वो होते हुए देखते है! एक युवा व्‍यक्‍ति कलीसिया में द्रोह, पाप करता है, पश्‍चाताप करने का अस्‍वीकार करता है, और कलीसिया छोड़ता है, बाहर ‘‘परमेष्‍वर के सम्‍मुख से निकल जाता है'', और जीवनभर का भगोड़ा, ‘‘भटकनेवाला और भगोड़ा'' बन जाता है पृथ्‍वी पर! कितना ज्‍यादा दुःखद।

ये पूरे बाइबल में स्‍पश्‍ट है कि पाप परमेष्‍वर स्‍वयं को गुप्‍त रखने का कारन है द्रोही आदमी से। यषायाह 1:15 में भु ने पाप से लदे हुए राश्‍ट्र से कहा,

‘‘जब तुम मेरी ओर हाथ फैलाओ, जब मैं तुम से मुख फेर लूँगा; तुम कितनी भी प्रार्थना क्‍यों न करो, तौ भी मैं तुम्‍हारी न सुनूँगा; क्‍योंकि तुम्‍हारे हाथ खून से भरे है'' (यषायाह 1:15)।

भविश्‍यवक्‍ता मीकाने कहा,

‘‘वे उस समय यहोवा की दोहाई देंगे, परन्‍तु वह उनकी न सुनेगा, वरन्‌ उस समय वह उनके बुरे कामों के कारण उन से मुँह मोड़ लेगा'' (मीका 3:4)।

फिर से, भविश्‍यवक्‍ता यषायाह ने कहा,

‘‘क्‍योंकि हमारे अधर्म के कामों के कारण तू ने हमसे अपना मुँह छिपा लिया है और हमें हमारी बुराइयों के वष में छोड़ दिया है'' (यषायाह 64:7)।

रेजीनाल्‍ड हेबर (1783-1826) ने यह सत्‍य को अपने महान्‌ भक्‍तिगीत में बहुत स्‍पश्‍ट किया है,

पवित्र, पवित्र, पवित्र! चाहे अन्‍धेरा आपको गुप्‍त रखे
   चाहे पाप भरे आदमी की आँखे,
षायद आपकी महिमा न देखे, सिर्फ आपका ही काम पवित्र;
   वहाँ पर कोई आपके बाजु में नहीं,
एकदम पूर्ण सामर्थ्‍य, प्रेम और षुद्धता में।
(‘‘पवित्र, पवित्र, पवित्र'' रेजीनाल्‍ड हेबर द्वारा, 1783-1826)।

2. दूसरा, उन्‍होंने उनको स्‍वयं को बे-गवाह नहीं रखा।

यही है जो प्रेरितो पौलुसने कहा मूर्ति पूजा करनेवालों को लुस्‍त्रा (Lystra) में। पौलुस ने उनको कहा कि प्रभु ने उन सारे आदमीयों को ‘‘अपने - अपने मार्गो में चलने दिया। तौ भी उसने अपने आप को बे-गवाह न छोड़ा'' (प्रेरितो 14:16-17)। उसने कहा कि बारिष और खाना और दूसरी अच्‍छी चीजे, गवाही देते है हकीकत को की परमेष्‍वर जीवित है। रोमियों के पहले पाठ में, प्रेरितो ने कहा,

‘‘उसके अनदेखे गुण, अर्थात्‌ उसकी सनातन सामर्थ्‍य और परमेष्‍वरत्‍व, जगत की सृश्‍टि के समय से उसको कामों के द्वारा देखने में आते है, यहाँ तक कि वे निरूत्‍तर है'' (रोमियों 1:20)।

प्रेरितो पौलुस ने कहा कि सृजन किया हुआ विष्‍व, और पौधे, फूल, प्राणी और इत्‍यादि, दिखाता है कि वहाँ पर सृजनहार है जिसने पहले उन सबको बनाया। यहीं था जो अमरीका के अवकाषयात्री मेकडीवीट का अर्थ था जब उन्‍होंने कहा, ‘‘मैं परमेष्‍वर को नहीं देखता मेरे अवकाषयाष के कक्ष की खीड़की से, जैसे मैं परमेष्‍वर को नहीं देखता मेरी कार की खीड़की के काच से धरती पर। परन्‍तु मैं उनके काम को पहचानता हूँ सितारों में और वाटिका में फूलो के बीच चलते समय।'' राजा दाउदने कहा,

‘‘आकाष परमेष्‍वर की महिमा का वर्णन कर रहा है; और आकाषमण्‍डल उसकी हस्‍तकला को प्रगट कर रहा है'' (भजनसंहिता 19:1)।

डो. हेन्री एम. मोरीसने कहा, ‘‘प्रभु की महिमा'' स्‍वर्ग द्वारा समझाया हुआ, सिर्फ अनगिनत सामर्थ्‍य, विभिन्‍नता और सितारों में देखी गई जटिलता नहीं है, परन्‍तु प्रभु यीषु मसीह भी है, ‘‘उसकी महिमा का प्रकाष'' (इब्रानियोे 1:3)'' (हेन्री एम. मोरीस, पीएच.डी., ध डीफेन्‍डरस स्‍टडी बाइबल, वर्ल्‍ड प्रकाषन, 1995; भजनसंहिता 19:1 पर टीप्‍पणी)।

जब कोई सितारो पेड़, फूलो की जटिलता और प्रकृति में और दूसरी चीज देखता है, एक को उस की रचना के पीछे परमेष्‍वर का हाथ देखना चाहिए। ये कहा जाता ‘‘प्राकृतिक आकाषवाणी'' ब्रझज्ञानी द्वारा।

जब मैं छोटा बच्‍चा था, मेरे कभी भी कलीसिया में जाने से पहले, मैंने कईबार प्रभु की हकीकत मेरी दादीमाँ के घर के पीछवाड़े (Back Yard) में ज्ञान की थी। मैं नेस्‍टर्षम्‌ (nasturtium) के फुलो की लता में छिप गया और मधुमख्‍खीयों को देखता रहा, और मैं परमेष्‍वर के अस्‍तीत्‍व को वहाँ बहुत बार ज्ञान कर सकता है।

बाद में, ऐरीझोना के रेगिस्‍तान में, बीजली और मेधध्‍वनि इतने सामर्थ्‍यवान थे कि हमारे छोटे घर अंधेरे में प्रकाषित हो उठे थे, और उसकी नींव हिला दी थी। इस में, भी मैंने प्रभु के सामर्थ्‍य और अस्‍तित्‍व को ज्ञान किया था। प्राकृतिक आकाषवाणी द्वारा, मैंने जाना वहाँ पर परमेष्‍वर थे, मेरे कभी भी बाइबल पढ़ने या धार्मिक प्रवचन सुनने से पहले!

मुझे स्‍मरण है हमींगपक्षी पकड़ना। मैं करीबन आठ वर्श का था। मेरे हाथ में हमींगपक्षी था। अचानक वो उड़ा और आसमान में छोटे बिन्‍दु की तरह उड़ गया। मुझे स्‍पश्‍टता से स्‍मरण है सोचना कि कोई भी आदमी इतना छोटा खिलौना नहीं बना सकता, और फिर भी संयुक्‍त। मुझे स्‍मरण है सोचना कि सिर्फ प्रभु ही इतना छोटा फिर भी संयुक्‍त चीज जैसे हमींगपक्षी बना सकते है!

दूसरी एक और प्राकृतिक ‘‘गवाही'' प्रभु के अस्‍तित्‍व वो है आदमी का अंतःकरण। प्रेरितो पौलुस ने अंतःकरण को गवाही की तरह लेते हुए कहा। उसने कहा,

‘‘जब अन्‍यजाति लोग जिनके पास व्‍यवस्‍था नहीं, स्‍वभाव ही से व्‍यवस्‍था की बातों पर चलते है, तो व्‍यवस्‍था उनके पास न होने पर भी वे अपने लिये आप ही व्‍यवस्‍था है। वे व्‍यवस्‍था की बातें अपने अपने हृदयों में लिखी हुई दिखाते है और उनके विवेक भी गवाही देते है और उनके विचार परस्‍पर दोश लगाते या उन्‍हें निर्दोश ठहराते है'' (रोमियों 2:14-15)।

डो. तीमोथी लीन चीनी बेप्‍टीस्‍ट कलीसिया में मेरे याजक थे पच्‍चीस वर्श से ज्‍यादा से। डो. लीन ने कहा, ‘‘अंतःकरण (सद्‌विचार) स्‍वाभाविक है, प्रभु की साँसो के द्वारा अन्‍दर रखा गया जिसने आदमी को दिया उसके प्रभु के प्रकार का व्‍यकतीत्‍व ... रोमियों 2:14-15 सूचित करता है (कि अंतःकरण) दोनो स्‍वाभाविक और सर्व-व्‍यापी है।'' उन्‍होंने कहा, ‘‘आदम और हव्‍वा के पाप करने के बाद, अंतःकरण उनको देता है गुनाहित होने का ज्ञान ताकि ‘वे यहोवा परमेष्‍वर से छिप गए उत्‍पत्‍ति 3:8।'' आदमी का अंतःकरण स्‍वाभाविक सुविधा जो लोगो को जानने देता है सही और गलत के बीच का अंतर। डो. हेन्री सी थीयेस्‍सेन ने कहा, ‘‘ये वर्तमान में आदमी उसके ये ज्ञान सही और गलत में है ... इसलिये आदमी में अंतकरण प्रकट करता है दोनो प्रभु के अस्‍तित्‍व और कुछ हद तक प्रभु के स्‍वाभाव को। वही है, ये हमें प्रकट करता है ना सिर्फ कि वे है (वे अस्‍तित्‍व में है), परंतु वो कि वो तिक्ष्‍णरूप से सही और गलत का अंतर करते है ... ये जो हर अत्‍याचार को लागु होता है वे सजा दिया जायेगा (हेन्री सी. थिय्‍येस्‍सेन, पीएच.डी., इन्‍ट्रोडक्‍टरी लेकर्चस इन सीस्‍टमेटीक थीयोलोजी, एडरमान्‍स प्रकाषन कम्‍पनी, 1971 की प्रत, पृश्‍ठ 35)।

यह कहा जाता है ‘‘अंतःकरण में प्रभु का प्रकट होना।'' ‘‘अंतःकरण की नींव पर, तत्‍वज्ञानी (फिलोसोफर) (Immanuel) कान्‍ट ने विष्‍वास किया प्रभु, आजादी और अमरत्‍व में'' (थियेस्‍सेन, ibid, पृश्‍ठ 34)। जब फिर से जन्‍मा हुआ मसीही इच्‍छा से पाप करता है, वो उसको परेषान करता है, और फिर प्रभु बहुत दूर लगते है। इस प्रकार, हर मसीही अनुभव द्वारा जानता है कि प्रभु उनके अंतःकरण द्वारा बोलते है, क्‍योंकि जब वो जानबूझकर पाप करता है वो प्रभु के अस्‍तित्‍व का ज्ञान खो देता है।

इसीलिये, परमेष्‍वर ने अपने स्‍वयं को बे-गवाह नहीं छोड़ा। लोग जो मसीही नहीं है वे प्रभु का काम कुदरत में देख सकते है। वे महसूस कर सकते है कि परमेष्‍वर उनका पाप अंतःकरण में न्‍याय करते है। परन्‍तु ये प्राकृतिक गवाह प्रभु का अस्‍तित्‍व छिप जाता है अपरिवर्तित लोगो में पाप के द्वारा। अगर उन्‍हें सिखाया जाय, प्रभु की हकीकत का अस्‍वीकार करने उनके घरो और षालाओं में, वे बहुत जल्‍दी देखनेवाले बन जायेंगे प्रभु का हाथ कुदरत और उनके अपने अंतःकरण में। वे षायद प्रभु का अचेतन बन जाए कि वे साम्‍यवादी अवकाषयात्री के साथ कहे, ‘‘मैंने आसपास देखा और उनको नहीं देखा। मैंने प्रभु को नहीं देखा। मैं प्रभु में विष्‍वास नहीं करता। मैं आदमी में विष्‍वास करता हूँ।

जब आदमी परमेष्‍वर की गवाही के लिये और अपने अंतःकरण के लिये अचेतन बन जाता है, फिर वो जो बाइबल कहता है, ‘‘मूर्ख'' है। इस प्रकार, बाइबल हमें कहता है,

‘‘मूर्ख ने अपने मन में कहा है, कोई परमेष्‍वर है ही नहीं, वे बिगड़ गए, उन्‍होंने घिनौने काम किए है ...'' (भजनसंहिता 14:1)।

जितना ज्‍यादा पाप आदमी करता है उतना ही उसका अंतःकरण भ्रश्‍ट होता है, और उसकी आध्‍यात्‍मिक समझ अंधेरी हो जाती है। इस प्रकार बाइबल कहता है वो आदमी उसकी स्‍वाभाविक अवस्‍था में, ‘‘पापों में मरा हुआ'' (इफिसियों 2:5) है। प्रभु अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है उनसे जो पाप में मरा हुआ है।

‘‘हे इस्‍त्राएल के परमेष्‍वर, हे उद्धारकर्ता, निष्‍चय तू ऐसा परमेष्‍वर है जो अपने को गुप्‍त रखता है''। (यषायाह 45:15)

3. तीसरा, वे अपने स्‍वयं को बाइबल में प्रकट करते है।

हमारा पाठ कहता है कि गुप्‍त परमेष्‍वर ‘‘उद्धारक'' है। उसका अर्थ है प्रभु ही एक है जो अपने स्‍वयं को पापभरे आदमी के सामने प्रकट करता है। और यही है जो उन्‍होंने किया उसे बचाने जिसको उन्‍होंने चुना है।

प्रभु अपने स्‍वयं को पवित्रषास्‍त्र द्वारा प्रकट करते है। प्रेरितो पौलुस ने बात की ‘‘पवित्रषास्‍त्र तेरा जाना हुआ है, जो तुझे मसीह पर विष्‍वास करने से उद्धार प्राप्‍त करने के लिये बुद्धिमान बना सकता है'' (2 तीमुथियुस 3:15)। बाइबल प्रभु की अपनी स्‍वयं की आकाषवाणी है पापभरे आदमी को। प्रेरितो पतरसने कहा कि बाइबल ‘‘अन्‍धियारे स्‍थान में प्रकाष देता'' (2 पतरस 1:19) है। इसलिये हम आपको बाइबल से प्रचार देते है। यह बाइबल ही है जो खोए हुए लोग मुक्‍ति ढूँढ़ते है प्रभु से, उनके पुत्र यीषु मसीह द्वारा। प्रेरितो पौलुसने कहा,

‘‘अंतःविष्‍वास सुनने से और सुनना मसीह के वचन से होता है'' (रोमियों 10:17)।

बाइबल प्रभु के वचन है। बाइबल हमें यीषु दिखाते है मुक्‍ति के लिये।

जब मैं छोटा बच्‍चा था, मैंने ज्ञान किया कि वहाँ प्रभु थे जब मैंने हमींगपक्षी देखा, और नाजूक कोमल फूल मेरी दादीमाँ के घर में पीछवाडे़ के बगीचे में। फिर, बाहर वहाँ एरीझोना के रेगिस्‍तान में, मैंने ज्ञान किया परमेष्‍वर का सामर्थ्‍य और षक्‍ति जब मैंने देखी बड़ी रोषनी (बीजली), और महसूस किया हमारे घर का हिलना तूफान में। मैंने और भी ज्ञान किया प्रभु की हककीत को जैसे मेरे अंतःकरण में न्‍याय की तरह जब मैंने पाप किया था। परन्‍तु मुझे उनका नाम पता नहीं था। मैं उन्‍हें नहीं जानता था ‘‘इस्‍त्राएल के प्रभु, उद्धारक'' के समान।

मैंने अच्‍छे होकर प्रभु को ढूँढने का प्रयत्‍न किया था। मैंने उनको धार्मिक बनकर ढूँढने का प्रयत्‍न किया था। मैंने सेवक बनने का निष्‍चय किया था मेरे परमेष्‍वर के साथ षांति खोजने के प्रयत्‍न में। मैं थोड़ा थोड़ा मार्टीन लुथर (1483-1546), महान्‌ सुधारक, की तरह था, जिनका परिवर्तन हम आज रात 6:30 बजे देखेंगे क्‍लासिक चलचित्र में। परन्‍तु मैं अभी तक खोया हुआ था। कोई बात नहीं कितना ‘‘अच्‍छा'' और धार्मिक में बनूँ मैं तब भी खोया हुआ पापी था।

यह तब तक नहीं था जब तक मैंने सामर्थ्‍यवान्‌ धार्मिक प्रवचन बाइबल से सुना कि मैंने यीषु को देखा और बचाया गया था। मेरा सारा धर्म मेरा अच्‍छा काम मुझे परमेष्‍वर के करीब नहीं लाया। मैंने निष्‍चय भी किया था धर्मप्रचारक बनने का, और चीनी बप्‍तीस कलीसिया में जुड़ा प्रचार के माध्‍यम में तैयारी करने। परन्‍तु इससे कुछ अच्‍छा नहीं हुआ। ये तब तक नहीं था जब तक मैंने डो. चार्ल्‍स जे. वुडब्रीज को सुसमाचार प्रचार करते हुए सुना कि मैं बचाया गया था। फिर, एक क्षण के समय में, यीषु मेरे पास आए और मैं उनके द्वारा बचाया गया था। मुझे प्रभु के साथ षान्‍ति मेरे धर्म, समर्पण, या प्रार्थना द्वारा नहीं मिल सकी। मैं उस सुबह तक खोया हुआ था, 28 सीतंबर 1961, जब यीषु मुझे अपने पास खींचकर ले गये, और मेरे पाप उनके पवित्र लहू द्वारा धो कर षुद्ध किये! फिर, उस क्षण के समय में, मैं जानता था प्रेरितो पौलुस कहा कहना चाहते थे जब उन्‍होंने कहा,

‘‘जब हम विष्‍वास से धर्मी ठहरे, तो अपने प्रभु यीषु मसीह के द्वारा परमेष्‍वर के साथ मेल रखें'' (रोमियों 5:1)।

उस क्षण में, मैं निष्‍चितरूप से जानता था कि यीषु मेरी जगह मरे थे, मेरे पाप को चुकाने, मुझे भी। फिर उस क्षण में, मैंने पुनरूत्‍थान प्राप्‍त हुए मसीह को देखा विष्‍वास के द्वारा। फिर परमेष्‍वर जिन्‍होंने अपने स्‍वयं को मुझसे गुप्‍त रखा था वे मेरी आत्‍मा के ‘‘उद्धारक'' बन गये, और मेरे जीवन के परमेष्‍वर! हम कैसे प्रार्थना करे ताकि आप का सामना जीवित मसीह से हो, क्‍योंकि वे अकेले ही आपको पाप, अविष्‍वास, न्‍याय और अधोलोक से बचा सकते है! आमीन!

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले डो. क्रेगटन्‌ एल. चान द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्‍त्रः भजनसंहिता 19:1-11।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्‍जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘कितना महान्‌ आपका काम'' (कार्ल जी. बोबर्ग द्वारा, 1859-1940; स्‍टुअर्ट के हाइन द्वारा अनुवाद किया हुआ, 1899-1989)।


रूपरेखा

परमेष्‍वर जो अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है और प्रकट करते है

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा

‘‘हे इस्‍त्राएल के परमेष्‍वर, हे उद्धारकर्ता, निष्‍चय तू ऐसा परमेष्‍वर है जो अपने को गुप्‍त रखता है''। (यषायाह 45:15)

1  . पहले, ये परमेष्‍वर है जो अपने स्‍वयं को गुप्‍त रखते है, यषायाह 59:2; उत्‍पति 5:3; 4:14, 16, 12; यषायाह 1:15; मीका 3:4; यषायाह 64:7।

2  . दूसरा, उन्‍होंने उनको स्‍वयं का बेन्‍गवाह नहीं रखा, प्रेरितो 14:16-17; रोमियो 1:20; भजनसंहिता 19:1; इब्रानियों 1:3; रोमियों 2:14-15; भजनसंहिता 14:1; इफिसियों 2:5।

3  . तीसरा, वे अपने स्‍वयं को बाइबल में प्रकट करते है, 2 तीमुथियुस 3:15;
2 पतरस 1:19; रोमियों 10:17; 5:1।