Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




आप परमेष्‍वर को ढूँढ सकते हो!
साम्‍यवादीयों ने उनको नहीं मारा!

YOU CAN FIND GOD!
THE COMMUNISTS HAVE NOT KILLED HIM!
(Hindi)

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्‍तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की सुबह, 21 अक्‍तुबर, 2012 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Morning, October 21, 2012

‘‘तब उस समय तुम मुझ को पुकारोगे और आकर मुझ से प्रार्थना करोगे और मैं तुम्‍हारी सुनूँगा। तुम मुझे ढूँढ़ोगे और पाओगे भी; क्‍योंकि तुम अपने सम्‍पूर्ण मन से मेरे पास आओगे''। (यिर्मयाह 29:12-13)


ये षब्‍द है जो परमेष्‍वर ने उनके लोगो से कहा भविश्‍यवक्‍ता यिर्मयाह द्वारा। मुसाने भी करीबन यही बात कही,

‘‘अगर ... वहाँ भी यदि तुम अपने परमेष्‍वर यहोवा को ढूँढ़ोगे, तो वह तुम को मिल जाएगा, षर्त यह है कि तुम अपने पूरे मन से और अपने सारे प्राण से उसे ढूँढो'' (व्‍यवस्‍थाविवरण 4:29)।

दाऊदने भी कहा, ‘‘यदि तु उसकी खोज में रहे तो वह तुझको मिलेगा'' (1 इतिहास 28:9)।

ये सारे तीनो पद दिखाते है कि आपको प्रभु को ढूँढने के प्रयत्‍न करने चाहिए। वो षर्त है जिस पर वचन दिया गया है। परमेष्‍वर वचन देते है अपने स्‍वयं को आपके लिये प्रकट करने का परंतु सिर्फ वो ही षर्त पर कि आप उनको ढूँढ़ोगे ‘‘अपने संपूर्ण मन के साथ।'' नयी नियमावली मे ंहम वो ही विचार पाते है। यीषु ने कहा, ‘‘परमेष्‍वर के राज्‍य का सुसमाचार सुनाया जा रहा है और हर कोई उसमें प्रबलता से प्रवेष करता है'' (लूका 16:16)। यीषु मसीह ने हमसे कहा आपको अपने रास्‍तो पर दबाव डालना चाहिए प्रभु के साम्राज्‍य में प्रवेष करने। ‘‘प्रबलता से प्रवेष करता है'' मूल ग्रीक में है बहुत मजबूती से - ‘‘आपके रास्‍तो पर जोर डालो'' प्रभु की मौजुदगी में। मसीहने भी ये स्‍पश्‍ट किया जब उन्‍होंने कहा, ‘‘अन्‍दर प्रवेष पाने का यत्‍न करो'' (लूका 13:24)। ग्रीक षब्‍द अनुवाद किया है ‘‘प्रयत्‍न'' का अर्थ है ‘‘परिश्रम'' या ‘‘लड़ना''। ग्रीक षब्‍द ‘‘अगोनाइझोमाइ'' (‘‘agonizomai'') है। हमें हमारा अंग्रेजी षब्‍द ‘‘पीड़ा'' इससे मिलता है। इसलिये, यीषु ने कहा आपको अपने रास्‍ते पर दबाव डालना चाहिए, परिश्रम और लड़ाई आपके तरीको से, प्रभु को और उनके पुत्र ढूँढने। परमेष्‍वर कहते हैं,

‘‘तुम मुझे ढूँढ़ोगे और पाओगे भी; क्‍योंकि तुम अपने सम्‍पूर्ण मन से मेरे पास आओगे'' (यिर्मयाह 29:13)।

यही कारण है इतने थोड़े अमरिका और युरोप के लोग अब हकीकत में प्रभु को जानते हैं। वे उनको ढूँढना नहीं चाहते ‘‘(उनके) पूरे मन के साथ।'' वे अपने रास्‍ते मजबूती से, इच्‍छा से नहीं जाते, और परिश्रम करते है परमेष्‍वर और मसीह को ढूँढने। इसलिये, इस कारण के लिये, बड़ी बहुमती से अमरिका और युरोप के लोगो के पास है सिर्फ बहुत संदिग्‍ध और अस्‍पश्‍ट विचार परमेष्‍वर के बारे में - परंतु वे उनको नहीं जानते। वे उनके बारे में कुछ हकीकत जानते है, परन्‍तु वे उन्‍हें व्‍यकितगतरूप से नहीं जानते। और दूसरे ओर यहाँ पष्‍चिमी विष्‍व में ये भी नहीं विष्‍वास करते कि परमेष्‍वर का अस्‍तित्‍व है। बहुत थोड़े, अमरिका या युरोप के लोगो के पास होता है अतिआवष्‍यक जीवित, और षक्‍तिषाली जानकारी प्रभु की। उनके प्रभु सिर्फ सिध्‍धांत है - और उनमें से ज्‍यादातर लोगो को बहुत महत्‍वपूर्ण सिध्‍धांत भी नहीं है। और उनमें से बड़ी संख्‍या में प्रभु को कल्‍पनापूर्वक भी नहीं मानते। पिछले चालीस वर्शो में, 1960 में हीप्‍पीद्रोह (Hippie rebellion) हुआ तब से, ज्‍यादा और ज्‍यादा अमरिकन अब कहते है वे परमेष्‍वर में विष्‍वास करते ही नहीं। वे आध्‍यात्‍मिकरूप से आलसी है उन्‍हें ढूँढने। उन्‍हें प्रयत्‍न भी नहीं करने ‘‘(उनको) ढूँढने (उनके) संपूर्ण मन के साथ।'' उन्‍हें आरामरहित रास्‍तो से नहीं गुजरना उनके रास्‍ते पर दबाव देकर। उन्‍हें षक्‍ति खर्च करने की आवष्‍यकता नहीं परिश्रम और ‘‘प्रवेष पाने यत्‍न'' करने कि कहाँ परमेष्‍वर है, और कहाँ मसीह है। यह बहुत परेषानीयुक्‍त है उनके लिये जो आध्‍यात्‍मिकता से आलसी है अमरिका और युरोप के लोग। वे षायद खुनभरा चलचित्र देखे, मारीजुआना का धुम्रपान करे, या घंटो तक वीडियों पर खेल खेले, ‘‘प्रभु को ढूँढ़ने'' या ‘‘(उनको) खोज़ो (उनके) पूरे मन के साथ।''

एक चीनी लड़की जो अमरिका में जन्‍मी थी, उसने कहा, ‘‘यह बहुत ज्‍यादा काम है।'' अमरीका में जन्‍मे चीनी लड़के ने कहा, ‘‘ये बहुत काम लेता है'', इसलिये उसने कलीसिया छोड़ दिया और फिर से वीडीयों का खेल खेलने चला गया। यह दुःखद था देखना कि वे आध्‍यात्‍मिकरूप से सुस्‍त (आलसी) हो गये जैसे अमरिका के लोग उनकी षाला में होते है।

मैं जानता हूँ कि कुछ पुनःसुधरे हुए मसीही षायद सोचे कि मैं गलत हूँ आग्रह करने कि प्रभु को खोजने का प्रयत्‍न करो। परंतु, अगर वे मेरी टीका करे मेरे वो कहने के लिये, फिर वे षायद भूल गये है फिलिप्‍पियों 2:12-13, जो कहता है,

‘‘मेरे दूर रहने पर भी डरते और काँपते हुए अपने अपने उद्धार का कार्य पूरा करते जाओ; क्‍योंकि परमेष्‍वर ही है जिसने अपनी सुईच्‍छा निमित तुम्‍हारे मन में इच्‍छा और काम, दोनों बातों के करने का प्रभाव डाला है'' (फिलिप्‍पियों 2:12-13)।

इसलिये अगर आप हकीकत में रूचि रखते हो काम में जो चल रहा है प्रभु में मुक्‍ति खोजना मसीह के द्वारा। इसका अर्थ है कि परमेष्‍वर स्‍वयं ने आपको प्रोत्‍साहित किया है ऐसा करने। ‘‘यह परमेष्‍वर है जो आपमें काम करते है'' आपको षक्‍तिषाली बनाने ‘‘(उनको) ढूँढो आपके संपूर्ण मन से'' को (यिर्मयाह 29:13)। जैसे अल्‍बर्ट मीडलेन (1825-1909) ने यह अपने एक भक्‍तिगीत में रखा,

आपका काम फिर से जीवित करो, ओ प्रभु!
आपके लिये आत्‍मा की प्‍यास बनाए;
परंतु जीवन की रोटी के लिये भूखा,
ओह, षायद हमारी आत्‍मा रहे!
(‘‘आपका काम फिर से जीवित करो, अल्‍बर्ट मीडलेन द्वारा)।

सिर्फ वो ही जिसको प्रभुने चुना है उन्‍हें मिलेगा कि उन्‍होंने बनाई है ‘‘आत्‍मा की प्‍यास'' उसके लिये। अगर प्रभुने आपमें यह नहीं किया है, आप रहोगे हजारो अमरिका के आलसी युवा लोग की तरह, जिसे बाइबल कहता है,

‘‘कोई समझदार नहीं, कोई परमेष्‍वर का खोजने वाला नहीं'' (रोमियो 3:11)।

इसलिये अगर आपको इच्‍छा है, ‘‘आत्‍मा की प्‍यास'' है, प्रभु को ढूँढने, ऐसा है, क्‍योंकि प्रभु स्‍वयं ने ये इच्‍छा आपमें रखी है। अगर वे ऐसा नहीं करते तो आप जीते और मरते बिना प्रभु के, जैसे बाइबल कहता है, ‘‘आषाहीन और जगत में ईष्‍वररहित थे'' (इफिसियों 2:12)।

कितनी भयानक चीज है वो ‘‘आषाहीन और जगत में ईष्‍वररहित थे''! हकीकत में यह भयानक चीज है जीना और मरना आषाहीन। और ईष्‍वररहित वहाँ क्‍या आषा है? क्‍यों, ईष्‍वररहित, वहाँ कैसे कोई भी आषा हो सकती है? बिना प्रभु के व्‍यक्‍ति अपनी पूरी जिंदगी जीता है मृत्‍यु के लिये राह देखते हुए - कोई भी आषा के बिना - क्‍योंकि वो गरीब आतमा सोचती है वहाँ मृत्‍यु के बाद कुछ नहीं। गरीब नास्‍तिक आदमी का जीवन जेल में रहनेवाले आदमी के समान, होता है मृत्‍यु की कतार पर, मरने के लिये राह देखते हुए। इस प्रकार, नास्‍तिक के जीवन में कोई ज्‍यादा आषा नहीं होती अपराधी ठहराए हुए अपरापधी से अधिक पहेरेदारो के आने का विलंब करते हुए और उसे गेस चेम्‍बर (कक्ष) में ले जाये!

साम्‍यवादी मुहिम षुरूआत से ही मसीहीता के विरूद्ध आक्रमक है। कार्ल माक्‍स ने कहा, ‘‘धर्म लोगो के लिये नषीली दवा (opiate) है।'' जोसेफ स्‍टालिन ने 200 लाख लोगो को मार डाला, और हज़ारो मसीहीयों को कारावास में डाला। माओ त्‍से तुंग ने और भी ज्‍यादा लोगो को मारा। 640 लाख चीनी लोग माओ द्वारा मारे गये, और दस हजारो कत्‍ल किए गये या उसके द्वारा जेल भेजे गए सिर्फ इस कारण कि वे मसीही थे। ये सब जानीमानी हकीकत है यहाँ पष्‍चिम में। परंतु सरकार द्वारा चलती हुई षालाओ में, साम्‍यवादी चीनी युवा लोग कहे गये थे कि माओ महान्‌ आदमी था जिसने चीन को विष्‍व का सामर्थ्‍यवादी बनाया। हम कैसे जाने अगर चीन षायद इससे भी बड़ा महान्‌ राश्‍ट्र हो सकता था अगर चीयान्‍ग-काई-ष्‍ोक जेसे मसीही वहाँ सेवक होते? बहुत से चीनी मसीही जेल में डाले गये थे 20 वर्श या ज्‍यादा के लिये माओ द्वारा, सिर्फ इस कारण कि उन्‍होंने हमारे परमेष्‍वर और उनके मसीह पर विष्‍वास किया था। मैं एक चीनी याजक को जानता हूँ जिनका पहले के कक्ष सहाध्‍यायी ने 10 वर्श चीन के जेल में बिताये बीजींग के करीब घर कलीसिया में सुसमाचार प्रचार करने के कारण। फिर भी मसीहीता बिल्‍ली के टोप (मषरूम) की तरह फूट निकली है पिछले 20 वर्शो में। यह अंदाजित किया जाता है कि 1200 लाख से ज्‍यादा मसीही है अब चीन में और उनमें से ज्‍यादातर घर के नीचे के घर कलीसिया के सदस्‍य है। करीब 700 लोग हर घंटे, दिन और रात मसीही बनते है आज चीन में। मैंने हालहि में रीपोर्ट पढ़ी कि साम्‍यवादी सरकार घर कलीसिया मुहिम पर फिर से आक्रमण करनेवाली है, क्‍योंकि इतने सारे चीनी लोग मसीही बन रहे है वो ही बात अधिकारीयों को चिन्‍तित करती है। साम्‍यवादी सुसमाचार प्रचारक मसीही को बुलाते है ‘‘बुरे धार्मिक उपासना की विधि'' के सदस्‍य। कितना दुःखद! कितने अंधे है वे लोग!

मैं जानता हूँ चीन में षाला और महाविद्यालयों को पढ़ाते है कि वहाँ पर प्रभु नहीं हैं परंतु ये यहाँ हकीकत में कुछ अलग नहीं है। हमारे सारे युवा लोग महाविद्यालयों में जाते है जहाँ उन्‍हें सिखाया जाता है प्रभु और बाइबल का अस्‍वीकार करना। इसने हमारे युवा लोगों को मसीही बनने से नहीं रोका! वे जानते थे उनके षिक्षक अध्‍यात्‍मिकरूप से अंधे है। चीन में लाखो युवा लोग भी अस्‍वीकार करते है उसकी षाला में प्रभु के सामने गलत पढ़ाई करते है।

डेवीड ऐकमान सम्‍पादक है जिन्‍होंने बीस साल बिताये बतौर विदेषी संवाददता टाइम सामायिक के लिये बीजींग में, और दक्षिण पूर्वीय एषिया में। मैं आषा रखता हूँ हरएक युवा चीनी व्‍यक्‍ति उनकी किताब पढ़ सके, यीषु इन बीजींग, (यीषु बीजींग में), (रीजनेरी प्रकाषन, इन्‍क, 2003)। उनकी किताब के समापन पृश्‍ठो पर, श्रीमान ऐकमान कहते है कि वहाँ पर, अभी कितने सारे प्रोटेस्‍टन्‍ट मसीही है चीन में कि यह एक सबसे बड़ा मसीहीयों का समुदाय है पूरे विष्‍व में। वे सूचित करते है कि 21 वी सदी चीन की सदी होगी, और वो कि मसीहीता का केन्‍द्र पष्‍चिम से चीन में आयेगा। ये चीन में मसीहीता का विस्‍फोट हुआ है साम्‍यवादी सरकार के समय समय के जुल्‍म और हजारो विष्‍वासु मसीहीयों का वहाँ कारावास में डालने के बाद भी।

कौन साहस करे, खतरे में जाने का, और कारावास में जाने का, मसीह का अनुकरण करनेवाला बनने के लिये? आदरणी रीचर्ड वुर्मब्रान्‍ड लुथर के समय के याजक थे जिन्‍होंने बहुत से वर्श साम्‍यवादी जेल में बिताये रोमानीया में सुसमाचार प्रचार करने के कारण। उन्‍होंने लेखपत्र लिखा जो उनको जेल में और निर्जन बन्‍दीगृह में, हुआ था, उनकी किताब टोर्चर्ड फोर क्राइस्‍ट, (मसीह के लिये यातना दी गई), जो अब 65 भाशाओ में अनुवाद की गई है। उनकी किताब के अंत के करीब याजक वुर्मब्रान्‍ड ये खूब सूरत सच्‍ची कहानी दी।

रषिया के भूदल (army) सेना के कप्‍तान (सेनापति) हन्‍गेरी में नेता से मिलने आये और उनसे अकेले में मिलने को कहा। युवा कप्‍तान बहुत कड़क (brash) था, और बहुत सचेत था अपने विजेता के पात्र पर। जब वो छोटे सभा कक्ष में ले जाया गया और द्वार बंद किया! उसने क्रूस की तरफ जो दिवार पर टांगा हुआ था अपन सिर हिलाया।
          ‘‘आप जानते हो वो चीज झूठी है,'' उसने मिनीस्‍टर (सेवक) को कहा। ‘‘ये सिर्फ युक्‍ति का एक भाग है आप सेवक उसे इस्‍तेमाल करते है गरीब लोगों को ठगने, ताकि धनवान लोगो को आसानी रहे उनको अनजान रखने। अभी आइये, हम अकेले है। मुझसे सत्‍य मान लो कि आपने हीककत में कभी भी विष्‍वास नहीं किया की यीषु मसीह प्रभु के पुत्र थे?''
         नेता (सेवक) मुस्‍कुराए, ‘‘परंतु, मेरे गरीब युवा आदमी, अवष्‍य मैं इसका विष्‍वास करता हूँ। यह सही है।''
          ‘‘मैं आपको मुझ पर युक्‍तियाँ आजमाने नहीं दूंगा!'' कप्‍तान चिल्‍लाया। ‘‘यह गंभीर है। मेरे ओर हसो मत!''
         उसने उसकी पिस्‍तौल निकाली और सेवक के षरीर के करीब पकड़ी।
          ‘‘जब तक तुम मुझे स्‍वीकार न करो कि यह झूठ है, मैं गोली चलाऊँगा!''
          ‘‘मैं वो स्‍वीकार नहीं कर सकता, क्‍योंकि ये सही नहीं है। हमारे प्रभु हकीकत में और सही में परमेष्‍वर के पुत्र है,'' सेवक ने कहा।
         कप्‍तान ने उसकी पिस्‍तौल जमीन पर फेंकी और प्रभु के आदमी का स्‍वीकार किया। उसकी आँखो से आँसू निकले।
          ‘‘यह सही है!'' वो चिल्‍लाया, ‘‘यह सही है!'' मैं ऐसा मानता हूँ, और भी, परंतु मैं निष्‍चित नहीं कर सकता था आदमी उसकी ये विष्‍वास के लिये मर सकता है जब तक मेंने स्‍वयं ये जाना। ओह, धन्‍यवाद! आपने मेरे विष्‍वास को मजबूत किया है। अब मैं भी मसीह के लिये मर सकता हूँ। आपने मुझे दिखाया कैसे।''

फिर याजक वुर्मब्रान्‍ड ने कहा, ‘‘हमें साम्‍यवादीयों को जीतना चाहिए। पहला, क्‍योंकि प्रभु हमारी ओर है। दूसरा, क्‍योंकि हमारा संदेष बातचीत करता है मन की गहरी आवष्‍यकता से'' (रीचर्ड वुर्मब्रान्‍ड, टीएच.डी., टोर्चर्ड फोर क्राइस्‍ट, (मसीह के लिये तड़पाया), मार्टीयर (षहीदो) की आवाज, 1998 की प्रत, पृपृश्‍ठ 113, 114)।

हाँ, आदमी का मन पुकारता है माफी और आषा के लिये। नास्‍तिकता से ये आवष्‍यकताएँ नहीं मिलती। इसीलिये परमेष्‍वर ने उनके एकलौते पुत्र को भेजा हमारी जगह क्रूस पर मरने, हमारे पापो को चुकाने, ताकि हम माफ किए जा सके। इसलिये प्रभु ने यीषु को मृत्‍यु से षारीरिकरूप से उठाया, हमें आषा देने, अनंत जीवन की आषा के लिये भी।

लेनिन मर चुके है। मैंने देखे है उनके सुगन्‍धित मृत देह के फोटोग्राफ, मोस्‍को में प्रदर्षन में। माओ त्‍से तुंग मृत है। मैंने उनकी सुगन्‍धित मृत देह के फोटो देखे, टीएनन्‍मेन स्‍केवर में माउसोलीयम (Tienanmen Square Mausoleum) के प्रदर्षन में। परन्‍तु प्रभु मृत नहीं हैं। वे जीवित है और विष्‍वभर के लाखो मसीहीयों के मन में! मसीह मृत नहीं है। वे जीवित है और अच्‍छे है, स्‍वर्ग में प्रभु के दाहिने हाथ पर, दूसरे परिमाण में, जहाँ वो अभी आपके लिये प्रार्थना कर रहे है!

आज, क्‍यूबा, वियेतनाम और चीन के पीपल्‍स रीपब्‍लीक में वहाँ लाखो मसीही प्रभु की सेवा करते है घर के नीचे के कलीसिया में। और मैं निष्‍चित हूँ वहाँ पर अभी भी गुप्‍त मसीही है उत्‍तर कोरीया में भी, चाहे उत्‍तर कोरीया के मसीही बाधित किए गए थे साम्‍यवादीयों द्वारा ज्‍यादा बुरी तरह से दुनिया के दूसरे किसी भी लोगो को किया उससे अधिकं साम्‍यवादी नास्‍तिकता कभी उनके प्रभु पर के और उनके पुत्र यीषु के विष्‍वास को नाष नहीं कर सके। हमारे पास प्रमाण है कि साम्‍यवादी अधिकारी भी ‘‘गुप्‍त'' मसीही बन रहे है चीन में! मसीह के सुसमाचार आदमीयों के मन की गहरी आवष्‍यकता पूरी करते है। नास्‍तिक साम्‍यवादीता ऐसी आषा और माफी नहीं दिलाते। वहाँ धरती पर कोई सामर्थ्‍य नहीं हे, जो मसीह का सुसमाचार रोक सके! ये आज मुसलमान भूमि में भी प्रवेष करते है। मेरे पास मेरे अभ्‍यास की किताब मीराक्‍युलस मुवमेन्‍ट, चमत्‍कारिक मुहीम, जेरी ट्रोऊस्‍डाले (Jerry Trousdale) द्वारा (थोमस नेल्‍सन प्रकषक, 2012)। उस किताब के पृश्‍ठ पर ये षब्‍द है, ‘‘हन्‍डे्रस ओफ थाऊसन्‍डस ओफ मुस्‍लीमस आर फोलींग इन लव वीथ जीसस।'' ‘‘लाखो मुसलमान यीषु के साथ प्रेम में गिर रहे है।'' उनके पवित्र नाम की सराहना करो!

याजक वुर्मब्रान्‍ड ने कहा, ‘‘विष्‍व में हर पाँच लोग में से एक साम्‍यवादी चीन में रहता हैं जहाँ हजारो ... मसीही सुसमाचार प्रचार करते है बिना ‘‘अनुमति''। बाधाने सदा बेहतर मसीही उत्‍पन्‍न किये है - मसीहीयों की गवाही देते हुए, आत्‍मा जितनेवाला मसीही। साम्‍यवादी बाधाओ ने पीछे आग लगायी और उत्‍पन्‍न किया गंभीर, समर्पित मसीही जैसे मुक्‍त भूमि में देखे कए है बड़ी मुष्‍किल से। ये लोग नहीं समझ सकते कैसे कोई भी मसीही बन सकता है और हर आत्‍मा जिससे वे मिलते है उसे जीतना नहीं चाहते'' (वुर्मब्रान्‍ड, ibid, पृपृश्‍ठ 116, 117)।

हाँ! आमीन! और ये हमारी प्रार्थना है आपको, भी, आप यीषु के पास विष्‍वास से आओ, और उनके बहुमूल्‍य लहू द्वारा आपके पाप को धोकर षुद्ध हो जाओ। हम प्रार्थना करते है कि आप जल्‍दी ही सच्‍चे मसीही बनोगे। स्‍मरण करो की प्रभु ने कहा है, ‘‘तुम मुझे ढूँढोगे और पाओगे भी; क्‍योंकि तुम अपने सम्‍पूर्ण मन से मेरे पास आओगे'' (यिर्मयाह 29:13)। और निष्‍चित रहो अगले रविवार लौटकर कलीसिया आने! क्‍यों आज वापस नहीं आते हमारे साथ आज रात का खाना खाने 6:30 बजे? प्रभु आपको आषीर्वाद दे! आमीन! मेहरबानी करके खड़े रहो और आपके गीत के पर्चे पर गीत क्रमांक सात पर फिरो। डो. चान मेहरबानी करके आओ और हमें प्रार्थना में ले जाइये हम (प्रार्थना गाने) से पहले। अब इसे गाओ!

हमारे पिताओ का विष्‍वास! अभी तक जीवित है
      कालकोठरी, आग और तलवार के बावजूदः
ओ कैसे हमारी धडकन आनंद के साथ उठती है
     जब कभी हम सुनते है वो अद्‌भूत षब्‍द!
हमारे पिताओ का विष्‍वास, पवित्र विष्‍वास!
     हम विष्‍वासु रहेंगे तुझको मृत्‍यु तक!

हमारे पिताओं, जेल के अंधेरे में जंजीर से बंधे है,
     अभी तक आज़ाद है मन और अंतःकरण में;
उनके बच्‍चों का भाग्‍य कितना मधुर,
     अगर वे, उनके समान, आपके लिये मर सके!
हमारे पिताओ का विष्‍वास, पवित्र विष्‍वास!
     हम विष्‍वासु रहेंगे तुझको मृत्‍यु तक!

हमारे पिताओ का विष्‍वास! हम प्रयत्‍न करेंगे
     सारे राश्‍ट्रो को आप में जीतने,
और सत्‍य के द्वारा जो प्रभु से आता है
     मानवजाति फिर सही तरह से आज़ाद होगी।
हमारे पिताओ का विष्‍वास, पवित्र विष्‍वास!
     हम विष्‍वासु रहेंगे तुझको मृत्‍यु तक!

हमारे पिताओं का विष्‍वास! हम प्रेम करेंगे
     दोनो मित्र और षत्रु हमारी पूरी विरोध में
और आपको प्रचार करे, और भी, जैसे प्रेम जानता है कैसे,
     उपकारी षब्‍दों और धार्मिक जीवन द्वारा!
हमारे पिताओ का विष्‍वास, पवित्र विष्‍वास!
     हम विष्‍वासु रहेंगे तुझको मृत्‍यु तक!
(‘‘हमारे पिताओं का विष्‍वास'' फ्रेडरीक डब्‍ल्‍यु. फेबर द्वारा, 1814-1863)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान क्‍यु डोंग ली द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्‍त्रः यिर्मयाह 29:11-13।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्‍जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘कितने बड़े है प्रभु'' (स्‍टाउर्ट होम्‍बलेन द्वारा, 1908-1989)।