Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




प्रचार जिसकी हमें आवष्यकता है

THE PREACHING WE NEED
(Hindi)

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की षाम, 23 सीतंबर, 2012 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, September 23, 2012

‘‘क्योंकि जब परमेष्वर के ज्ञान के अनुसार संसार ने ज्ञान से परमेष्वर को न जाना, तो परमेष्वर को यह अच्छा लगा कि इस प्रचार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालों को उद्वार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।


उस पाठ की षुरूआत कहती है, ‘‘संसार ने ज्ञान से परमेष्वर को न जाना, तो परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रचार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालों के उद्धार दे’’। संसार का अपना विचार है कि ज्ञान क्या है। संसार सोचता है बेन्जामिन ने जो कहा वह सही था जब उन्होंने मातापिता को उनके बच्चों को अनुशासित नही करने। यही इस संसार का ज्ञान है! संसार सोचता है कत्ल के लिये मृत्युदण्ड की सजा गलत है, उन हत्यारो को पुनःपूर्व अवस्था में लाना योग्य है बजाय मार डालने के। यही इस संसार का ज्ञान है! संसार सोचता है कि हरएक स्त्री को अपनी कोख में ही बच्चे को मार डालने का हक्क है, चाहे नौ (9) महिनो में ही। यही ज्ञान है इस संसार का! संसार सोचता है हमे ंमुसलमान आगेवानो के सामने झुक जाना चाहिए जो हमारे कलीसिया जलाते है और हमारे भाइयों और बहनों की सारे संसार में हत्या करते है। यही ज्ञान है इस संसार का! संसार सोचता है कि दो औरते विवाह कर सकनी चाहिए। यही ज्ञान है इस संसार का! परन्तु इस में से किसी भी चीज ने हमारी सहाय नहीं की, या हम ंपरमेष्वर के करीब लाये! इसमे ंसे किसी भी बातों ने हमारी संस्कृति को ना मजबूत किया या हमारे युवा लोगों को प्रभु की कोई भी जानकारी दी!

‘‘क्योंकि जब परमेष्वर के ज्ञान के अनुसार संसार ने ज्ञान से परमेष्वर को न जाना, तो परमेष्वर को यह अच्छा लगा कि इस प्रचार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालों को उद्वार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

हाँ, मैं जानता हूँ कि प्रचार करना आज के व्यवहार में नहीं है। मैं जानता हूँ कि आदमी हमे कहता है यह युग है टेलीव्हीझन और इन्टरनेट का - इसलिये हम और ज्यादा दिन प्रचार नहीं कर सकते - और ज्यादा दिन ‘‘नगर में ढिंढोरा पीटनेवाले की तरह सुसमाचार की घोशणा नहीं कर सकते’’, जो ग्रीक षब्द अनुवाद किया गया ‘‘प्रचार’’ का अर्थ है। ‘‘और ज्यादा प्रचार नहीं’’, वे कहते है। ‘‘लोग तख्त पर चिल्लाते हुए आदमी को साथ नहीं रखेंगे!’’ यही है जो संसार कहता है! यही है इस संसार का ज्ञान! ‘‘सिर्फ बाइबल पद के बाद पद के द्वारा पढाओ,’’ वे कहते है। ‘‘आपकी आवाज ऊँची मत करो। लोगों को टीप्पणी (notes) लेने दो।’’ वो नयी युक्ति है लोगों को सोचते हुए लगाना की वे कुछ सीख रहे है। हकीकत में ये उनको आध्यात्मिक बाल्यावस्था में रखती है, परन्तु ज्यादातर लोग उसे समझ नहीं सकेंगे। ज्यादातर लोग रूकेंगे नहीं सोचने कि बाइबल के समय में किसी भी दानव ने कभी भी टीप्पणीयाँ नहीं ली बाइबल मे ंविष्वास की! ‘‘उन पर न चिल्लाओं। सारे समय मधुर (प्यारे) रहो।’’ वो ही इस संसार का ज्ञान है! परन्तु यह परमेष्वर का ज्ञान नहीं है!

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

खोए हुअे और विशयी लोगो को प्रचार षायद मूर्खता लगे। प्रचार करना षायद मूर्ख का पागल काम लगे। यही है जो यह संसार सोचता है! परन्तु प्रभु अलग प्रकार से सोचते है। प्रभु सोचते है कि आदमी का प्रचार करना जो बाइबल पकड़ता है और तीव्र उत्सुक्ता से बोलता है वो संसार में सबसे महत्वपूर्ण बात है! प्रचार की जगह कोई भी नहीं ले सकता। हमारे कलीसिया प्रचार की कमी के कारण निश्फल हो रहे है! मसीहीता जीवन में आती है जब प्रचार जीवन में आता है। संतो की प्रार्थनाओं में जीवन होता है और पापी मृत्यु से जीवन तक गुजरते है जब प्रचार जीवन में आता है! परन्तु जब कायर आदमी, जो उनके कलीसिया किसी स्त्रीयों से भयभीत है, वे देते है सुन्द छोटा ‘‘अर्थप्रकाषक धार्मिक प्रवचन’’ रोषनी चली जाती है और कलीसिया अंधेरे में उतरता है। क्यों? क्यांकि

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

धार्मिक प्रवचन का उद्देष्य क्या है? धार्मिक प्रवचन का उद्देष्य हमारे पाठ मे दिया गया है :

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

वो उद्देष्य है प्रचार का - ‘‘विष्वास करनेवालों को उद्धार देने।’’ हरएक धार्मिक प्रवचन का लक्ष्य होना चाहिए उन्हें बचाने ‘‘जो विष्वास करता है।’’ हरएक धार्मिक प्रवचन प्रार्थना पर, हरएक धार्मिक प्रवचन परिचारक के पद पर, हरएक मत-संबंधी धार्मिक प्रवचन, हरएक प्रार्थना सभा के धार्मिक प्रवचन - हरएक धार्मिक प्रवचन रोषनी डालने चाहिए कुछ भाव पर जो विष्वास करते है उनको बचाने पर! मैंने लगभग कभी भी धार्मिक प्रवचन प्रचार नहीं किया किसी को, कहीं भी, बिना इसे प्रचार किये ‘‘विष्वास करनेवालो को उद्धार देने।’’ यह षायद धार्मिक प्रवचन हो आपको बचाने। यह धार्मिक प्रवचन षायद हो आपको कहने कैसे किसी को सहाय करे बचाने। यह षायद धार्मिक प्रवचन हो किसी दूसरे विशय पर, परन्तु हरएक धार्मिक प्रवचन जो मैं प्रचार करता हूँ उसका मन (मुख्य मुद्दा) है ‘‘विष्वास करनेवालो को बचाने।’’

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

जब प्रचार इतना महत्वपूर्ण है, हमें जानना चाहिए किस प्रचार की लोगों को आवष्यकता है। हमें जानना चाहिए जो बाइबल कहता है प्रचार के बारे में। बाइबल आदमीयों को क्या प्रचार करने उचित है कहता है?

1. पहला, बाइबल कहता है हमें पाप के सामने प्रचार की आवष्यकता है।

प्रेरितो पौलुस ने कहा, ‘‘वचन का प्रचार कर ... सब प्रकार की सहनषीलता, और षिक्षा के साथ उलाहना दे और डाँट और समझा’’। (2 तीमुथियुस 4:2)। वहाँ पर धर्म-पुस्तक संबंधी पाप की निन्दा और भर्त्सना (reproof) होना चाहिए अगर यह सही प्रचार है जैसे प्रचार करनेवाले आदमीयों ने बाइबल में किया।

महाजलप्रलय से पहले के हनोक (Enoch) पर जाओ। हनोक ने क्या प्रचार किया? हमें कहा गया है जो उसने प्रचार किया यहूदा के पत्र में। यही है जो हनोक ने प्रचार किया,

‘‘देखो, प्रभु अपने लाखों पवित्रों के साथ आया कि सबका न्याय करे, और सब भक्तिहीनों को उनके अभक्ति के सब कामों के विशय में जो भक्तिहीन पापियों ने उसके विरोध में कही है, दोशी ठहराए’’ (यहूदा 14-15)।

हनोक ने मसीह के दोबारा आने पर और बिना बचाये पापीयों के आखरी न्याय पर प्रचार किया। उसने अइर्ष्वरीय (नास्तिकता) के पापो के सामने प्रचार किया जो उन्होने किये थे। उसने पापियों की बेकार की बातों के सामने प्रचार किया। उसने दुश्ट लोग जो परमेष्वर के विरूद्ध पाप भरी बाते कहते है उसके सामने प्रचार किया। हनोक, आदम से सांतवाँ, मजबूरी से प्रचार किया, मजबूत कड़क धार्मिक प्रवचन उसकी पीढ़ी का दोश लगाने और निन्दा करनेवाले पाप, उन पर न्याय गिरने से पहले पष्चाताप करने की चेतावनी देते है। इस प्रकार का प्रचार आज हमें आवष्यक है!

फिर भविश्यवक्ता यषायाह के प्रचार के बारे में सोचो। उसने कहा,

‘‘गला खोलकर पुकार, कुछ न रख छोड़, नरसिंगे का सा ऊँचा षब्द कर; मेरी प्रजा को उसका अपराध अर्थात् याकूब के घराने को उसका पाप जता दे’’ (यषायाह 58:1)

कभी यषायाह के पहले थोड़े पाठ पढ़ो। उसने उनके पाखण्ड के सामने प्रचार किया। उसने कहा उनके हाथ लहू से भरे थे। उसने उनके प्रभु के विरूद्ध के द्रोह को प्रकाषित किया। उसने प्रचार किया कि उनके आगेवानो ने विधवा और अनाथो की रक्षा नहीं की। उसने कहा उनका नगर आग में जल जाता, उनकी भूमि अपरिचितो द्वारा नश्ट की गई। इस प्रकार प्रचार हमें आज आवष्यक है!

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

जोन बेपटीस्ट के बारे में कैसा? उन्होंने क्या प्रचार किया? उन्होंने प्रचार किया,

‘‘हे साँप के बच्चों, तुम्हें किसने जता दिया कि आनेवाले क्रोध से भागो? इसलिये मन फिराव के योग्य फल लाओ’’ (मती 3:7-8)।

उसने उनको साँप के बच्चे कहा, जो अधोलोक की ज्वाला में फेंके जाते। उसने उनको पश्चाताप करने बुलाया!

फिर सोचो यीषुने पाप के सामने कैसे प्रचार किया! उन्होंने अविष्वास के सामने प्रचार किया। उन्होंने व्यभिचार के विरूद्ध प्रचार किया। उन्होंने प्रचार किया अनिच्छा पकड़ने के विरूद्ध और कहा कि अगर वे दूसरों को माफ नहीं करते नाही उनके पिता उनको स्वर्ग में माफ करेंगे। उन्होंने फरासियो ओर षास्त्रीयों को प्रचार किया, ‘‘तुम अपने पिता षैतान से हो और अपने पिता की लालसओं को पूरा करना चाहते हो’’ (यूहन्ना 8:44)। आदमीयों ने यीषु से नफरत की क्योंकि उन्होंने उनके पापो के विरूद्ध प्रचार किया था। उन्होंने उनको क्रूस पर चढ़ाया उनके पापो के सामने प्रचार करने के कारण! हरएक प्रचारक जो यीषु के द्रश्टांत में सही है उन्हें कभी कभी लोगों को गुस्सा कराना चाहिए उनके पापो के विरूद्ध प्रचार करके, जैसे यीषु ने किया! प्रेरितो पतरस ने कहा कि मसीह ‘‘तुम्हें एक आदर्ष दे गया है कि तुम भी उसके पद-चिन्हों पर चलो’’ (1 पतरस 2:21)। निष्चितरूप से उसका अर्थ है हरएक मसीह समान प्रचारक को उनके तख्त से पाप को प्रकाषित करना चाहिए, जैसे यीषु ने किया! डो. जोन आर. राइस ने युवा प्रचारक से कहा,

     (उन) लोगो द्वारा प्रभावित नहीं होना जिसे डर है कि आप आपके कलीसिया में अवरोध पैदा करोगे। आपकी पत्नी द्वारा ज्यादा मत चलो जो डरती है कि आपका वेतन कम हो जायेगा या कि आप नौकरी से बाहर होंगे किसी ओर जगह न जा पाने के साथ। मसीह के विष्वासु बनो, और मसीह आपको विष्वासु होेगे ... यह सच है कि प्रचारको को प्रेम, और दया और आँसू के साथ प्रचार देना योग्य है। परंतु इस से यह हकीकत नहीं बदलती कि हमें स्पश्टरूप से आदेष दिया है डाँटने और निन्दा करने और वचन को विषेश पापों के विरूद्ध प्रचार करना है (जोन आर. राइस, डी.डी., आत्मा जीतनेवालों के लिए महान् सत्य, (ग्रेट ट्रूथस फोर सोल वीनर्स), स्वोर्ड अॉफ ध लोर्ड, 1964, पृश्ठ 137)।

जब मैं उत्तरीय केलिर्फोनिया में कुछ निष्चित सधर्न बेपटीस्ट कलीसिया में प्रचार कर रहा था, मैंने उन युवा लोगों के पापो को बताया - बाहर जाना, पोर्नोग्राफी (कामोत्तेजक चित्र) देखना और कलीसिया छोड़ना। मैंने कहा उन्हें स्वधर्म त्यागी षिक्षक जेसे बीषप पाइक, जो उस समय सान-फ्रान्सिस्को के एपीस्कोपल कलीसिया में मुख्य अधिकारी थे उन्हें नहीं सुनना चाहिए। धार्मिक प्रवचन के बाद, याजक मुझे उनके कार्यालय में ले गये और मुझे कहा इस प्रकार प्रचार न करने या फिर मैं परेषानी में आ जाऊँगा। आष्चर्य से, यह याजक बाद में उसके कलीसिया से निकाले गये थे, और अंत में कलीसिया की षाखा जिसे मैंने चालू की थी, वहाँ याजक बने!

मैं सावधान किया गया था धार्मिक पाठषाला मेें जो मैंने प्रत्यक्षीकरण की थी वहाँ सिद्धांत संबंधी दोशो के विरूद्ध प्रचार नहीं करने। परन्तु वे जिन्होंने मुझे चेतावनी दी थी बाद में उस धार्मिक पाठषाला से निकाले गये थे। उन सब के जाने के बाद, मैंने उसी धार्मिक पाठषाला के सभागृह मे प्रचार किया। मेंने कभी पाप के विरूद्ध प्रचार करना कभी भी नहीं छोड़ा, और मैं इस षाम यहाँ हूँ, अद्भूत कलीसिया उत्सुक युवा लोगों से पूरी तरह भरा हुआ! डो. राइस सही थे, ‘‘मसीह के विष्वासु बनो, और मसीह आपको विष्वासु होगे!’’ आमीन!

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

किसी ने षिकायत कि की मैं आपको सराहना करने देता हूँ। तो क्या? बाइबल कहता है, ‘‘हे देष देष के सब लोगों, तालियाँ बजाओ; ऊँचे षब्द से परमेष्वर के लिये जयजयकार करो’’ (भजन संहिता 47:1)। इस में गलत क्या है? यह बाइबल में है, क्या नहीं है? जब युवा लोग फुटबोल खेल या रोक (पाष्चार्त्य संगीत) संगीत मे ंजाते है तो वे चिल्लाते और ऊँचे आवाज में चिखते है जब तक स्टेडीयम (सभागृह) हिल न जाये! परन्तु चेतावनी मैं इस षाम आपको दे रहा हूँ वो हजार बार ज्यादा महत्वपूर्ण है फुटबोल खेल से - और दस लाख बार ज्यादा अधिक महत्वूपर्ण है रोक संगीत जस्टीन बाइबेर या लेडी गागा के साथ! पष्चाताप करो, क्योंकि स्वर्ग का साम्रज्य करीब है!

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

2. दूसरा, बाइबल कहता है हमें अधोलोक के बारे में प्रचार की आवष्यकता है।

बाइबल में सारे प्रचारको ने न्याय और अधोलोक, और पाप के विरूद्ध प्रभु के क्रोध पर प्रचार किया। प्रभु यीषु मसीह ने निरंतर अधोलोक, पापियों को प्रभु के क्रोध से भागने पर प्रचार किया!

मसीहने कहा, ‘‘जो कोई कहे, अरे मूर्ख, वह नरक की आग के दण्ड के योग्य होगा’’ (मती 5:22)।

मसीह ने कहा, ‘‘जगत के अन्त में ऐसा ही होगा : स्वर्गदूत आकर दुश्टों को धर्मियों से अलग करेंगे और उन्हें आग के कुण्ड में डालेंगे : जहाँ रोना और दाँत पीसना होगा’’ (मती 13:49-50)।

मसीहने कहा की वे एक दिन ‘‘तब वह बाई ओर वालों से कहेगा, हे षापित लोगो, मेरे सामने से उस अनन्त आग मे ंचले जाओ’’ (मती 25:41)।

मसीह ने कहा, ‘‘ये अनन्त दण्ड भोगेंगे परंतु धर्मी अनन्त जीवन में प्रवेष करेंगे’’ (मती 25:46)।

याजक जो अधोलोक पर प्रचार नहीं करते, वे यीषु के दृश्टांत का अनुकरण नहीं करते, जिन्होंने ‘‘एक आदर्ष दे गया है कि तुम भी उसके पद - चिन्हों पर चलो’’ (1 पतरस 2:21)। डो. जोन आर. राइस ने कहा, ‘‘इस अच्छे, सरल धार्मिक प्रवचन से दूर जो किसी के भी डर को नहीं हिलाता, कोई आँसू नहीं लाता, आदमी को पश्चाताप तक नहीं लाता! इस प्रचार से दूर जो पापियों को उनके पापो की नींद में छोड़ता है, बिना व्याकुल और स्व-संतोशी! ओह, प्रभु हमें उस प्रकार का प्रचार दो जो आदमी को हिलाता है जब वे अधोलोक और आनेवाले न्याय के बारे में सोचे!’’ (ibid., पृश्ठ 140)।

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

3. तीसरा, बाइबल कहता है हमें मसीह के लहू द्वारा मुक्ति पर प्रचार की आवष्यकता है।

बाइबल सीखाता है की सारे आदमी और औरतें पापी है। यह कहता है, ‘‘इसलिये कि सब ने पाप किया है और परमेष्वर की महिमा से रहित है’’ (रोमियो 3:23)। बाइबल कहता है, ‘‘निष्पाप तो कोई मनुष्य नही है’’ (1 राजाओं 8:46)। बाइबल कहता है, ‘‘निःसंदेह पृथ्वी पर कोई ऐसा धर्मी मनुश्य नहीं जो भलाई ही करे और जिस से पाप न हुआ हो’’ (सभोपदेषक 7:20)।

‘‘परंतु’’ आप कहते है, ‘‘परमेष्वर को मेरे पापो के बारे में जानकारी नहीं है। मेरी माँ को भी मेरे पापों के बारे में जानकारी नहीं है। वे गुप्त है’’। आपकी माँ षायद आपके पापों के बारे में न जाने, परन्तु प्रभु को उसके बारे में सब जानकारी है। बाइबल कहता है, ‘‘यहोवा की आँखे सब स्थानों में लगी रहती है, वह बुरे भले दोनों को देखती रहती है’’ (नीतिवचन 15:3)। आपके पाप प्रभु से गुप्त नहीं है! बाइबल कहता है, ‘‘परमेष्वर सब कामों और सब गुप्त बातों का, चाहे वे भली हों या बुरी, न्याय करेगा’’ (सभोपदेषक 12:14)। बाइबल सीखाता है की हर पाप जो आपने कभी भी किए है वो प्रभु के न्याय की किताबों में दर्ज है (प्रकाषितवाक्य 20:12)। आखरी न्याय के समय आप सर्वषक्तिमान प्रभु के सामने खडे रहोगे। वे आपके पापो की सूची उनके न्याय की किताब से पढ़ेंगे, और आप, ‘‘वह आग की झील में’’ डाले जाओगे (प्रकाषितवाक्य 20:15)।

वहाँ पर सिर्फ एक ही रास्ता है उस भयानक न्याय से बचने का। षायद आपके पाप प्रभु की किताबों में अंकित किया होगा। इसीलिये प्रभु यीषु मसीह क्रूस पर गये। मसीह क्रूस पर मरे आपके पापो का पूरा दण्ड चुकाने। बाइबल कहता है,

‘‘परमेष्वर पर अपने प्रेम की भलाई इस रीति से प्रगट करता है जब हम पापी ही थे तभी मसीह हमारे लिये मरा। अतः जब कि हम अब उसके लहू के कारण धर्मी ठहरे, तो उसके द्वारा परमेष्वर के क्रोध से क्यों न बचेंगे’’ (रोमियों 5:8-9)।

रोमियों 5:9 कहता है आप ‘‘उनके लहू द्वारा धर्मी ठहरेंगे।’’ यीषु मसीह का लहू आपके सारे पाप जो आपने किये है उसे षुद्ध करता है, क्योंकि हम 1 यूहन्ना 1:7 में पढ़ते है, ‘‘यीषु का लहू हमें सब पापों से षुद्ध करता है’’। हमें आवष्यकता है मसीह के लहू पर प्रचार की। यही एक मात्र चीज है जो हमें पापो से षुद्ध करता है।

‘‘परमेष्वर को अच्छा लगा कि इस प्रकार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालो को उद्धार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

थोड़े प्रचारक आज कहते है वहाँ पर लहू नहीं। मैं नहीं जानता वे ऐसा कैसे कह सकते है जब बाइबल इसे इतना स्पश्ट करता है कि यीषु ‘‘हम से प्रेम रखता है और उसने अपने लहू के द्वारा हमें पापों से छुड़ाया है’’ (प्रकाषितवाक्य 1:5)। कभी विष्वास नहीं करना प्रचारक यह बाइबल षिक्षक का जो यीषु के लहू को नीचा करते है! बाइबल कहता है, ‘‘उन पर हाय! क्योंकि वे कैन की सी चाल चले’’ (यहूदा 11)। कैन की तरह, वे लहू को अस्वीकार करते है। उन्हें कभी भी नहीं सुनना! कैन की सिखाई से सावधान रहो! मसीह के लहू के बिना वहाँ पर मुक्ति नहीं! कुछ भी नहीं! सदा स्मरण रख वो अच्छा, पुराना भक्तिगीत हमारे दादा परदादाओं का,

मेरे पाप कौन धो सकता है?
   यीषु के लहू के अलावा कुछ नहीं;
कौन मुझे फिर से पूर्ण बना सकता है?
   यीषु के लहू के अलावा कुछ नहीं;
ओह! बहाव बहुमूल्य है
   वो मुझे बर्फ के समान ९वेत बनाता है;
कोई ओर फव्वारा मैं नहीं जानता,
   यीषु के लहू के अलावा कुछ नहीं;
(‘‘लहू के अलावा कुछ नहीं’’ रोबर्ट लाउरी द्वारा, 1826-1899)।

क्या आपको आज रात बचाया जाना पसंद है? आप चाहते हो कि आपके हरएक पाप षुद्ध हो जाए, प्रभु की न्याय की किताब से, यीषु के लहू द्वारा? फिर, जब हम वो भक्तिगीत फिर से गाते है, अपनी बैठक से बाहर आओ और पीछे के कक्ष में जाओ! डो. केगन आपको षांत जगह ले जायेंगे जहाँ हम आपके साथ बातचीत कर सके और आपके साथ प्रार्थना कर सके। अभी जाओ जब हम गाते है।

मेरे पाप कौन धो सकता है?
   यीषु के लहू के अलावा कुछ नहीं;
कौन मुझे फिर से पूर्ण बना सकता है?
   यीषु के लहू के अलावा कुछ नहीं;
ओह! बहाव बहुमूल्य है
   वो मुझे बर्फ के समान ९वेत बनाता है;
कोई ओर फव्वारा मैं नहीं जानता,
   यीषु के लहू के अलावा कुछ नहीं;

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले डो. क्रेगटन् एल. चान द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्त्र : 1 कुरिन्थियों 1:18-21।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘ओह, कैसा फव्वारा!’’ (डो. जोन आर. राइस द्वारा, 1895-1980)।


रूपरेखा

प्रचार जिसकी हमें आवष्यकता है

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा

‘‘क्योंकि जब परमेष्वर के ज्ञान के अनुसार संसार ने ज्ञान से परमेष्वर को न जाना, तो परमेष्वर को यह अच्छा लगा कि इस प्रचार की मूर्खता के द्वारा विष्वास करनेवालों को उद्वार दे’’ (1 कुरिन्थियों 1:21)।

1. पहला, बाइबल कहता है हमें पाप के सामने प्रचार की आवष्यकता है,
2 तीमुथियुस 4:2; यहूदा 14-15; यषायाह 58:1; मती3:7-8;
यूहन्ना 8:44; 1 पतरस 2:21; भजनसंहिता 47:1।

2. दूसरा, बाइबल कहता है हमें अधोलोक के बारे में प्रचार की आवष्यकता है, मती 5:22; 13:49-50; 25:41; 1 पतरस 2:21।

3. तीसरा, बाइबल कहता है हमें मसीह के लहू द्वारा मुक्ति पर प्रचार की आवष्यकता है, रोमियो 3:23; 1 राजाओं 8:46; सभोपदेषक 7:20; नीतिवचन 15:3; सभोपदेषेक 12:14; प्रकाषितवाक्य 20:12,15;
रोमियों 5:8-9; 1 यूहन्ना 1:7; प्रकाषितवाक्य 1:5; यहूया 11।