Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




फाड़ा और चंगा किया

TORN AND HEALED

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की षाम, 15 जुलै, 2012 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, July 15, 2012

‘‘चलो, हम यहोवा की ओर फिरे : क्योंकि उसीने फाड़ा, और वही चंगा भी करेगा; उसीने मारा और वही हमारे घावों पर पट्टी बाँधेगा। दो दिन के बाद वह हम को जिलाएगा; और तीसरे दिन वह हम को उठाकर खड़ा करेगा, तब हम उसके सम्मुख जीवित रहेंगे'' (होष्ो 6:1-2)।


भविश्यवक्ता होष्ो ने इस्त्राएल कि धार्मिक अवस्था का अन्धकारमय चित्र दिया। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे ज्ञान के न होने से मेरी प्रजा नश्ट हो गई'' (होष्ो 4:6)। एप्रेम इस्त्राएल का सबसे बड़ा जाति वर्ग था, और वह नाम कई बार भविश्यवक्ता द्वारा इस्तेमाल किया जाता था पूरे राश्ट्र को बताने। होष्ो ने कहा, ‘‘एप्रैम मूर्तों का संगी हो गया है, इसलिये उसको रहने दो'' (होष्ो 4:17) । परमेष्वर ने कहा कि इस्त्राएल मूर्तों की पूजा करने में इतना मोहित हो गया था कि वो षायद उन्हें उनके पापों में अकेला छोड़ दे। होष्ो ने कहा कि प्रभु ‘‘वह उनसे दूर हो गया है'' (होष्ो 5:6)। प्रभु ने कहा, ‘‘जब तक वे अपने को, अपराधी मानकर मेरे दर्षन के खोजी न ...'' (होष्ो 5:15)।

हम यह सारा हमारे अपने राश्ट्र को लागू कर सकते है, और पूरे पष्चिमी विष्व को भी और ऐसा करना सही होगा। हमारे लोग भी प्रभु के ज्ञान की कमी के कारण नश्ट हुए है। हमारे लोग भी मूर्तों से जुड़े हुए है, पाप के साथ, कि प्रभु प्रेम ने उनकी दया का हाथ हमारे ऊपर से उठा लिया और हमारे कलीसियाओं को व्याकुलता में छोड़ दिया, हमारी भूमि पर कोई बड़े उद्धार के बिना 1859 से। डो. मार्टीन लोयड - जोनेसने कहा,

      क्या हम महसूस करते है कि परमेष्वर की नाराजगी कलीसिया पर है? क्यों वहाँ पर इतना लंबा अंतराल है जब से प्रभु आखरी बार नीचे आये उनके लोगों के बीच उद्धार में? क्यों यह भयानक लंबा समयकाल? क्यों चीजें जैसे है वैसी ही है? क्यों कलीसिया की गिनती इतनी कम है? क्यों वो इतनी निश्फल है? क्यों ऐसा है कि आदमी और औरतें पाप में रहते है, जैसे वे है, और चीजें बुरी से बदतर हो रही है? ... आदमी और औरतें, जब वे सच्ची तरह से जागृत होेते है, महसूस करना षुरू करते है कि वहाँ इतना गंभीर और कुछ भी नहीं जैसा परमेष्वर की गैर मौजुदगी ... कि ना बाहरी समृद्धि और ना सफलता, प्रभु की गैर मौजुदगी को बदल सके, पूरा कर सके (डी. मार्टीन लोयड जोन्स, एम.डी., रीवाइवल, पुनःउद्धार, क्रोसवे बुक्स, 1987 की प्रत, पृपृश्ठ 155, 157, 159)।

परन्तु आज रात मैं इस विशय को पष्चिमी विष्व में कलीसिया की आध्यात्मिक परिस्थिति को लागू नहीं कर रहा हूँ। बजाय मैं इसे लागु करता हुँ आप में से उनको जो अभी तक मसीह में परिवर्तित नहीं हुए है।

‘‘चलो, हम यहोवा की ओर फिरे : क्योंकि उसीने फाड़ा, और वही चंगा भी करेगा; उसीने मारा और वही हमारे घावों पर पट्टी बांधेगा। दो दिन के बाद वह हम को जिलाएगा; और तीसरे दिन वह हमको उठाकर खड़ा करेगा, तब हम उसके सम्मुख जीवित रहेंगे'' (होष्ो 6:1-2)।

यह अद्भूत होगा अगर हम सब प्रभु के साथ मिलन में रह सकते। ऐसा समय था जब परमेष्वर और आदमी साथ मिलकर रहते थे षान्ति और एकता में। उनके उस निर्दोश समय में हमारे पहले माता पिता जिये थे प्रभु के साथ पूरे संबंध (रिष्ते) में। परन्तु उन्होंने उनके विरूद्ध द्रोह किया, और पाप किया। तुरंत ही वे प्रभु की ओर से काट दिये गये थे और ‘‘आदम और उसकी पत्नी वाटिका के वृक्षों के बीच यहोवा परमेष्वर से छिप गए'' (उत्पति 3:8)। अब वे यहोवा से डरते थे और उनको द्रोही मन को ‘‘परमेष्वर से बैर रखना है'' (रोमियों 8:7)। बच्चे जो उन्होंने ढोये वे उसी बैर और द्रोह के साथ कुदे जो उनमें था जो उनके माता पिता के मन में था,

‘‘इसलिये जैसा एक मनुश्य के द्वारा पाप जगत में आया और पाप के द्वारा मृत्यु आई; और इस रीति से मृत्यु सब मनुश्यों में फैल गई...'' (रोमियों 5:12)।

ये सिर्फ षारीरिक मृत्यु नहीं थी जो उन तक आयी आदम से, परन्तु आत्मिक मृत्यु भी आयी - इसलिये उनके भविश्य के सारे सन्तान पैदा हुए थे ‘‘अपराधों और पापो के कारण मरे हुए'' (इफिसियों 2:1)। मृत्यु की इस अवस्था में, वे प्रभु को व्यक्तिगतरूप से न जान सके। वे मूर्ति पूजा की ओर फिरे, ‘‘और अविनाषी परमेष्वर की महिमा को नाषवान मनुश्य और पक्षियों और चौपायों और रेंगनेवाले जन्तुओं की मूरत की समानता में बदल डाला'' (रोमियों 1:23)। वे सच्चे प्रभु से उनके पाप द्वारा दूर किए गए थे। जैसे यषायाहने कहा,

‘‘तुम्हारे अधर्म के कामों ने तुम को तुम्हारे परमेष्वर से अलग कर दिया है, और तुम्हारे पापो के कारण उसका मुँह तुम से ऐसा छिपा है'' (यषायाह 59:2)।

फिर भी प्रभु को मानवजाति पर दया थी, और उनकी आत्मा भेजी, उनको उनके पाप से जागृत करने ताकि वे चंगे किए जा सके, और फिर से एकबार उनके सृजनहार के साथ आनंद से मिलकर रहे। परन्तु आदमी को फिर से आनंदित अवस्था में लाने के लिये, प्रभु को पापीयों से तीव्रता से व्यवहार करना पड़ा। प्रभु को पापी को उसके पाप की भयंकर नींद से जगाने उसे फाड़ना और मारना पड़ा। यह बाइबल के सच्चे प्रभु है। वे महान् और भययोग्य है। फिर भी हमसे इतनी बुरी तरह से व्यवहार नहीं करते जितना हम उसके योग्य है। उनका हम पर न्याय उनके हमारे लिये प्रेम भरे मन से आता है। वे हमें फाड़ते और मारते है हमें हमारे ज्ञान में लाने के लिये, हमें फिर से चेतना देने, कि हम षायद फिर से मसीह द्वारा जिये संगति में जो हमारे पहले माता पिता ने उनके पाप के द्वारा वाटिका में खो दी थी। चलिये देखते है, फिर, हमारे विशय को इस महान् सत्य मन में रखने के साथ।

1. पहला, प्रभु की आत्मा पापीयों के मन को फाड़ती और मारती है।

‘‘चलो हम यहोवा की ओर फिरे; क्योंकि उसीने फाड़ा, और वही चंगा भी करेगा, उसीने मारा और वही हमारे घावो पर पट्टी बांधेगा'' (होष्ो 6:1)।

नास्तिक लोग सोचते है कि उनको परेषानीयाँ आती है सिर्फ मौके से। वे नहीं देखते प्रभु का हाथ काम करता हुआ जब उनपर मुसीबते आती है। वे नहीं देखते कि यह परेषानियाँ उनको प्रभु के कार्य द्वारा ही भेजी गई है, उन्हें सही करने और उन्हें मृत्यु की नींद से जगाने। कभी कभी वे ऐसा भी सोचते है कि उनकी परेषानी दुश्टात्मा से आती है, ये स्वीकार नहीं करते कि यह घृणित जीव उनको कुछ भी नहीं कर सकता, जब तक प्रभु उसे ऐसा करने दे, जैसे हमें कहा गया है अय्यूब के पहले पाठ में। या, वे षायद सोचे कि उनकी परेषानीयाँ दूसरे लोगों से आती है, और इसलिये वे गुस्सा हो जाते है उन पर जो उनका बुरा करता है।

यह प्रभु का अनुग्रह है, आपके लिये देखने कि सब परेषानी और कठिनाई प्रभु से आती है, और वे ये परेषानीयाँ इस्तेमाल करते है या तो आपके उनपर के विष्वास को गहरा करने या नही ंतो, जो खोए हुए है उनके किस्सो में आपको जागृत करने और आपको आपके ज्ञान में लाने! बाइबल कहता है,

‘‘क्या यहोवा के बिना भेजे किसी नगर में कोई विपत्ति पड़ेगी?''
(आमोस 3:6)।

कोई भी प्रकार से विपत्ति आयी, वह प्रभु से आयी है। अगर परेषानी षत्रु या कपटी मित्र से आयी, तो ये हकीकत में प्रभु से आयी है। अगर यह व्यापार में नुकसान था या बिमारी, किसी भी किस्से में यह परमेष्वर से ही था। उन्होंने यह होने दिया किसी कारण के लिये।

वह पाठ पढिये। प्रभु ने आपको मारा है। उन्होंने आपको फाड़ा है। और उन्होंने यह कुछ कारण से किया है। षायद यह ऐसा लगे की कि आपका ‘‘खराब नसीब'' है - परंतु ऐसा नहीं है। षायद प्रभु की आत्मा ने आपको दिखाया कि आपका नुकसान और दुःख और परेषानीयाँ आपको आयी है प्रभु के हाथ से - कुछ कारण के लिये! मैं आष्चर्यचकित नहीं होऊँगा अगर आप जो फाड़े और मारे गये हो वो इन सब से न गुजरे क्योंकि प्रभु के ऐसा करने में बड़ा मकसद (कारण) है, क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है! दूर देषो में ऊडाऊ पुत्र को देखो। उसके पास बहुत पैसे है। उसके पास यह सब है! परन्तु फिर एक के बाद एक बुरी चीजें उस पर आयी। क्यों? उसे जागृत करने ताकि वो बचाया जा सके! ‘‘वह अपने आपे में आया'' (लूका 15:17)। परन्तु वो कभी भी अपने आप में नहीं आता, और जागृत होता, अगर प्रभु का हाथ उस पर ज़ोर से न गिरा होता, फाड़ते और मारते हुए जब तक उसने कहा, ‘‘मैं अब उठकर अपने पिता के पास जाऊँगा'' (लूका 15:18)।''

अगर आप देखते हो बच्चे को घर में तोड़ते हुए, आप षायद अपने रास्ते पर चले जाओ, उसके साथ संलग्न होने की बजाय। परन्तु अगर आप अपने पुत्र को ऐसा करते हुए देखते हो, मै नििष्ंचतरूप से कहता हूँ आप जाओगे, और उसे पकड़ोगे और उसे अच्छी डाँट दोगे। आपने उसे दूसरे बालक से कम प्रेम किया था? नहीं, आपने अपने बच्चे को षिस्त किया क्योंकि आप उसे ज्यादा प्रेम करते हो! इस प्रकार, प्रभु कहते है,

‘‘मैं जिन जिन से प्रेम करता हूँ, उन सब को उलाहना और ताड़ना देता हूँ'' (प्रकाषितवाक्य 3:19)।

पाप के अपराधभाव के बारे में क्या? आप में से कुछ ने षायद प्रभु को पुकारा होगा दया के लिये, परंतु आपने जाना कि उन्होंने आपको जवाब नहीं दिया। बदले में उन्होंने आप से पिता को भी ले लिया और आपको अभागा महसूस करता हुआ छोड़ दिया। आपकी दया के लिये पुकार को उन्होनें जवाब क्यों नहीं दिया? क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है! वे कहते है,

‘‘मैं जिन जिन से प्रेम करता हूँ, उन सब को उलाहना और ताड़ना देता हूँ'' (प्रकाषितवाक्य 3:19)।

उन्होंने आपको भयानक और खोया हुआ महसूस करते हुए छोड़ दिया क्योंकि वे चाहते है कि आप स्पश्टता से देखो, इस दुनिया में कुछ भी आपकी आत्मा को षांति नहीं ला सकता सिवा प्रभु के पुत्र के! उनका आपके लिये बड़े प्रेम में, प्रभु आपको देखने लगाते है, ताड़ना देने के द्वारा कि यीषु ‘‘परम् सुन्दर है'' (श्रेश्ठगीत 5:16)। आप, स्वभाव से, ‘‘तिरस्कार और अस्वीकार'' करते हो यीषु का, और ‘‘उनका नहीं'' (यषायाह 53:3), आदर करते, जब तक प्रभु आपको फाड़े और मारे उस हद तक कि आप यीषु की ओर फिरो क्योंकि वहाँ कोई जगह नहीं है फिरने! इसीलिये क्या पतरस ने यह नहीं कहा,

‘‘हे प्रभु, हम किसके पास जाएँ? अनन्त जीवन की बातें तो तेरे ही पास है'' (यूहन्ना 6:68)।

प्रभु की आत्मा आपको बाकी सारी आषाओं से काट रही है। वे आपको फाड़ रहे है और मार रहे है अपराधभाव काटने से, और सारी इंसानी आषा का नुकसान करके, ताकि आप अपने स्वयं को फेंक सको यीषु के कदमों में और पुकारो, ‘‘है प्रभु, मुझे बचा'' (मती 14:30)।

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   हमारे मन को पाप से फिरा सकती है;
उनकी षक्ति अकेली हमें आजाद कर सकती है,
    हमें उनमें षांति देती है।
(‘‘आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले'' फेन्नी जे. क्रोस्बी द्वारा, 1820-1915)।

जब पवित्र आत्मा ने आपको फाड़ा और मारा, यीषु आपको चंगा करेंगे। वे तेल और दराख के रस में डालेंगे; जैसे उन्होंने किया सामरी (Samaritan) को अच्छा किया। फिर यीषु आपके मन से पाप के कोढ़ को षुद्ध करेंगे उनके बहुमूल्य लहू द्वारा। वे आपको पट्टी बाँधेंगे और आपको चंगा करेंगे, उनके लहू द्वारा आपके पाप को षुद्ध करेंगे, और आपको उनमें षान्ति देंगे।

‘‘चलो हम यहोवा की ओर फिरे; क्योंकि उसीने फाड़ा, और वही चंगा भी करेगा, उसीने मारा और वही हमारे घावो पर पट्टी बांधेगा'' (होष्ो 6:1)।

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   मसीह के प्रेम के लिये प्रेरणा दे सकती है;
उनकी सामर्थ्य अकेले हमारी आत्मा में,
   पवित्र आग की रोषनी दे सकती है।

जब उन्होंने आप का मन फाड़ा और आपकी अंतःकरण को मारा, और आप महसूस करते हो कि आपके पाप असहनीय है, फिर आप षायद यीषु को देखो, और गा सकोगे,

मैं उनकी सराहाना करूँगा! मैं उनकी सराहना करूँगा!
   पापीयों को मारने मेम्ने की सराहना करूँगा;
उन्हें महिमा दो, आप सारे लोग,
   क्योंकि उनका लहू हर एक दाग धो सकता है,
(‘‘मैं उनकी सराहना करूँगा'' - मारग्रेट जे. हेरीस द्वारा, 1865-1919)।

2. दूसरा, प्रभु की आत्मा फिर मन को जीवित करती है, और आप उनकी दृश्टि में रहोगे।

‘‘दो दिन के बाद वह हमको जिलाएगा : और तीसरे दिन वह हमको उठाकर खड़ा करेगा; तब हम उसके सम्मुख जीवित रहेंगे'' (होष्ो 6:2)।

प्रभु की आत्मा फाड़ती है और मारती है पापीयों को जब तक वह देखे की वो अपराधों और पापो में मरा हुआ है। ‘‘दो दिन के बाद वह हम को जिलाएगा।'' जरूर यह हमें अक्षरषः नहीं लेना चाहिए। यह प्रतिनिधित्व करता है समय का जिसमें आपकी आषायें निश्फल होती है और आप पाप में मरा हुआ महसूस करते हो। वे विलंब करेंगे, कोई बात नहीं कितना भी समय ये ले, जब तक आप महसूस करो कि आप इतने मरे हुए हो की आप अपने स्वयं को बचाने कुछ नहीं कर सकते। कुछ लोगों केे यह सिर्फ थोड़ा समय लेता है, यद्यपि सिर्फ कुछ मिनट। परन्तु इसने दो साल लिये डो. केगन को आषाहीन, खोया हुआ महसूस करने से पहले। इसने सात वर्श लिये मुझे मृत्यु से दण्ड की आज्ञा के अधीन लाने में। मैं एक गरीब औरत को जानता हूँ, जो अपने खुद के सामर्थ्य से मरने से पहले सतरह (17) वर्श तक फाड़ी और मारी गई थी। परन्तु फिर प्रभु की आत्मा उसे यीषु के पास उठाया, और वो उनकी दृश्टि में जीवित रही! ‘‘दो दिन'' प्रतिनिधित्व करते है समय का, कितना भी छोटा या लंबा, जिसमें आत्मा डूबती है निराषा में, और प्रभु के सामने मरा हुआ महसूस करते है, और स्व-मुक्ति के सारे प्रयत्नों में असहाय।

जब पूरी तरह से मरे हुए हो और इसे महसूस करते हो, जब धरती की सारी आषायें जा चुकी हो, फिर प्रभु की आत्मा आती है और आपको यीषु के पास उठाती है - प्रभु के दाहिने हाथ पर - विष्वास के द्वारा जो आपको पहले कभी भी नहीं था!

‘‘परन्तु परमेष्वर ने, जो दया का धनी है, अपने उस बड़े प्रेम के कारण जिस से उसने हम से प्रेम किया, जब हम अपराधों के कारण मरे हुए थे तो हमें मसीह के साथ जिलाया (अनुग्रह ही से तुम्हारा उद्धार हुआ है), और मसीह यीषु में उसके साथ उठाया, और स्वर्गीय स्थानों में उसके साथ बैठाया'' (इफिसियों 2:4-6)।

परमेष्वर की आत्मा द्वारा मृत्यु से जिलाया हुआ, फिर आप ‘‘उनकी दृश्टि में रहोगे''।

व्यक्ति जो अभी तक फाड़ी और मारी नहीं गई मृत्यु तक, वो पूछेगी, ‘‘मैं यीषु के पास कैसे आऊँ?'' परन्तु जब उनकी झूठी आषा चली गई हो, और वो पापों में मरा हुआ महसूस करता है, प्रभु उसे यीषु तक ऊपर उठाते है! यह एकदम स्वाभाविक और आसान लगता है जब वे करते है! आपको सारे प्रयत्न और आँसू भूले जायेंगे जब आप प्रभु द्वारा ऊपर उठाए गए हो, ‘‘और आप बैठाए जाते (हो)... स्वर्गीय स्थानों में यीषु मसीह में''!!!

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   हमें आपके पुत्र तक ले जा सकते है;
अकेला उनका सामर्थ्य वेइल (vail) उठा सकता है,
   की हमें षायद मसीह आए।

वही समान सामर्थ्य जिसने मसीह को मृत्यु से जिलाया तीसरे दिन पर, आपको उन तक उठाएगा और आपको जीवन देगा!

‘‘अतः उस मृत्यु का बपतिस्मा पाने से हम उसके साथ गाड़े गए, ताकि जैसे मसीह पिता की महिमा के द्वारा मरे हुओं में से जिलाया गया वैसे ही हम भी नए जीवन की की सी चाल चलें। क्योंकि यदि हम उसकी मृत्यु की समानता में उसके साथ जुट गए है, तो निष्चय उसके जी उठने की समानता में भी जुट जाएँगे ... ऐसे ही तुम भी अपने आप को पाप के लिये तो मरा; परन्तु परमेष्वर के लिये मसीह यीषु में जीवित समझो'' (रोमियों 6:4,5,11)।

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   हमें आपके पुत्र तक ले जा सकते है;
अकेला उनका सामर्थ्य वेइल (vail) उठा सकता है,
   की हमें षायद मसीह आए।

यीषु मृत्यु से तीसरे दिन उठे!

‘‘दो दिन के बाद वह हमको जिलाएगा : और तीसरे दिन वह हमको उठाकर खड़ा करेगा; तब हम उसके सम्मुख जीवित रहेंगे'' (होष्ो 6:2)।

जब आप जिलाए जाते हो, हम आपके लिये गायेंगे जैसे हम यीषु के लिये गाते है,

वह जो मरा हुआ था फिर से जीवित है,
   वह जो मरा हुआ था फिर से जीवित है;
मृत्यु की ठंडी, मजबूत पकड़ नश्ट की,
   वह जो मरा हुआ था, फिर से जीवित है।
(‘‘फिर से जीवित'' पोल रेडर द्वारा, 1878-1938)।

इसे मेरे साथ गाओ!

वह जो मरा हुआ था फिर से जीवित है,
   वह जो मरा हुआ था फिर से जीवित है;
मृत्यु की ठंडी, मजबूत पकड़ नश्ट की,
   वह जो मरा हुआ था, फिर से जीवित है।

ऊडाउ पुत्र के पिताने कहा,

‘‘मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है : खो गया था, अब मिल गया है'' (लूका 15:24)।

यह परमेष्वर का सुसमाचार है! यह जीवन मृत्यु से है! यह आपके लिये आज रात षुभ समाचार है! मरे हुए पापी जीवित किए गए हमारे प्रभु के सामर्थ्य द्वारा!

‘‘दो दिन के बाद वह हमको जिलाएगा : और तीसरे दिन वह हमको उठाकर खड़ा करेगा; तब हम उसके सम्मुख जीवित रहेंगे'' (होष्ो 6:2)।

प्रेम भरी दया में यीषु आये
   मेरी आत्मा दया में पुनः प्राप्त करने,
और पाप और षर्म की गहराई से
   अनुग्रह द्वारा उन्होंने मुझे उठाया।
फिसलती रेत से उन्होंने मुझे उठाया,
   कोमल हाथों से उन्होंने मुझे उठाया,
रात की छाया से रोषनी के मैदान में,
   ओह, उनका नाम सराहो, उन्होंने मुझे उठाया!

उन्होंने मुझे बुलाया मेरे सुनने से बहुत पहले,
   मेरा पाप भरा मन हिलाने से पहले,
परन्तु जब मैं उनको उनके वचन तक ले गया,
   माफ किया गया उन्होंने मुझे उठाया।

मेरे साथ समूहगान गाओ!

फिसलती रेत से उन्होंने मुझे उठाया,
   कोमल हाथों से उन्होंने मुझे उठाया,
रात की छाया से रोषनी के मैदान में,
   ओह, उनका नाम सराहो, उन्होंने मुझे उठाया!
(‘‘उन्होंने मुझे उठाया'' चार्ल्स एच. ग्रबीयल द्वारा, 1856-1932)।

यहाँ मुझे सावधानी का षब्द देना चाहिए। जब आप यीषु के पास विष्वास के द्वारा आते हो आप षायद बदलाव एकदम से महसूस करो। षायद आज रात आप कलीसिया से पूरी दृढता के साथ जाओ कि यीषु ने आपको बचाया। आप षायद यहाँ से जाओ अपने मन में आनंद के षासन के साथ, पूरे ज्ञान में कि आप ऊपर उठाए गये थे यीषु के पास; और उनकी दृश्टि में रहते हो। और अगर आप करते हो, हम इसके लिये परमेष्वर की सराहना करेंगे! परन्तु दूसरे षायद उनकी दृश्टि में जीवित किये जाए और अभी तक इसके बारे में बहुत निष्चित नहीं है। मुझे अच्छी तरह स्मरण है वो दिन जब यीषु ने मुझे बचाया। परन्तु मुझे नहीं पता था मैं तभी वहाँ बचाया गया था। ये सिर्फ कुछ दिन बीतने के बाद मैंने महसूस किया उन्होंने मेरे पाप माफ कर दिये थे, और मुझे मृत्यु से जीवन दिया था। डो. एबेनेझर पोर्टर बुद्धिमान पुनःउद्धार के प्रचारक थे, दूसरी बड़ी जागृतता से। डो. पोर्टरने कहा, ‘‘कोई जिसे परमेष्वर की महिमा का आनंद देने वाला ज्ञान, जल्दी ही ‘आषा में प्रचलित' होना षुरू करता है; परन्तु बड़ा हिस्सा बहुत क्रम से आषा बढ़ाते है कि वे प्रभु से एकता में जुड़े है'' (डो. एबेनेझर पोर्टर, लेटर्स ओन रीवाइवल, पुनःउद्धार पर पत्र, लीन्डे प्रकाषन, 1992 में फिर से छपा हुआ, पृश्ठ 82)।

इसलिये निरूत्साह न होना अगर आप आज रात यहाँ से पूरी निष्चिंतता बिना जाए कि आप बचाये गये हो। आखिरकार, ‘‘नििष्चिंतता'' वह नहीं है जो आपको सबसे ज्यादा चाहिए। निष्चिंतता बाद में आयेगी। आपको आज रात जो चाहिए वो है आपके पाप माफ किए जाय, और आपके पाप यीषु के बहुमूल्य लहू से षुद्ध किए जाए। आज रात हमारा विशय कहता है, ‘‘चलो हम यहोवा की ओर फिरे; क्योंकि उसीने फाड़ा, और वही चंगा भी करेगा, उसीने मारा और वही हमारे घावो पर पट्टी बाँधेगा''।

यीषु के पास आज रात आओ। बाकी सारी चीजें पीछे छोड़ दो। यीषु के पास आओ और वे आपके पापो के चंगा करेंगे और उनके बहुमूल्य लहू द्वारा उन्हें षुद्ध करते है।

मैं गीत गाने जा रहा हूँ जो श्रीमान ग्रीफिथ ने इस धार्मिक प्रवचन की षुरूआत में गाया था। जब मैं गाता हूँ, मेहरबानी करके आप आपकी बैठक छोड़िए और पीछे धर्मस्थान में जाओ। डो. केगन आपको बातचीत और प्रार्थना के लिये ले जायेंगें। अगर आप अभी तक बचाएँ नहीं गए हो तो मेहरबानी करके जब मैं गाता हूँ आप पीछे कक्ष में जाओ।

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   हमारे मन को पाप से फिरा सकती है;
उनकी षक्ति अकेली हमें आजाद कर सकती है,
   हमें उनमें षांति देती है।

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   मसीह के प्रेम के लिये प्रेरणा दे सकती है;
उनकी सामर्थ्य अकेले हमारी आत्मा में,
   पवित्र आग की रोषनी दे सकती है।

आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले,
   हमें आपके पुत्र तक ले जा सकते है;
अकेला उनका सामर्थ्य वेइल (vail) उठा सकता है,
   की हमें षायद मसीह आए।
(‘‘आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले'' फेन्नी जे. कोस्बी द्वारा, 1820-1915;
     अंतरा तीसरा याजक द्वारा)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले डो. क्रेगटन एल. चान द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्त्र : होष्ो 6:1-2।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
      ‘‘आपकी पवित्र आत्मा, प्रभु, अकेले'' (फेन्नी जे. कोस्बी द्वारा, 1820-1915);
अंतरा तीन ठीक किया गया डो. हायमर्स द्वारा।


रूपरेखा

फाड़ा और चंगा किया

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा

‘‘चलो, हम यहोवा की ओर फिरे : क्योंकि उसीने फाड़ा, और वही चंगा भी करेगा; उसीने मारा और वही हमारे घावों पर पट्टी बांधेगा। दो दिन के बाद वह हम को जिलाएगा; और तीसरे दिन वह हमको उठाकर खड़ा करेगा, तब हम उसके सम्मुख जीवित रहेंगे'' (होष्ो 6:1-2)।

(होष्ो 4:6, 17; 5:6, 15; उत्पति 3:8; रोमियों 8:7; 5:12; इफिसियो 2:1; रोमियो 1:23; यषायाह 59:2)

1. पहला, प्रभु की आत्मा पापीयों के मन को फाड़ता और मारता है, होष्ो 6:1; आमोस 3:6; लूका 15:17, 18; प्रकाषितवाक्य 3:19;
श्रेश्ठगीत 5:16; यषायाह 53:3; यूहन्ना 6:68; मती 14:30।

2. दूसरा, प्रभु की आत्मा फिर मन को जीवित करती है, और आप उनकी दृश्टि में रहो, होष्ो 6:2; इफिसियों 2:4-6; रोमियो 6:4, 5, 11; लूका 15:24।