Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




तिरस्कृत परंतु सुन्दर!

DESPISED BUT LOVELY!

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की सुबह, 8 जुलै, 2012 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Morning, July 8, 2012

‘‘वह परम सुन्दर है’’ (श्रेश्ठगीत 5:16)।


मैं नहीं मानता कि मैंने कभी भी श्रेश्ठगीत से धार्मिक प्रवचन प्रचार किया हो। षायद वह गलती हो सकती है। स्पर्जन के धार्मिक प्रवचनो की पूरी अनुक्रमणिका देखते हुए, मैंने जाना कि धार्मिक प्रवचन के राजकुमार ने अपनी लंदन की सेवा के दौरान 63 धार्मिक प्रवचन श्रेश्ठगीत पर दिये थे। इसलिए आज मैं इस विशय पर आता हूँ। मैंने यह अचानक से जाना दो हफतों पहले, और मैं इसे अपने मन से निकाल न सका। मैं बार बार सोचता ही रहा,

‘‘वह परम सुन्दर है’’।
‘‘वह परम सुन्दर है’’।
‘‘वह परम सुन्दर है’’।

आखिरकार, ऐसा लगता था कि प्रभु की आत्मा मुझे अकेले नहीं छोड़ेगी जब तक इस पर प्रचार न करू।

डो. मेकगी ने कहा, ‘‘यहुदियों ने श्रेश्ठगीत को पवित्रषास्त्र की पवित्र पवित्रता कहा था। इसलिये, हर कोई इसके पवित्र पत्र में प्रवेष नहीं करने दिया जाता था। यहाँ है जहाँ आप सबसे ऊँची खानगी जगह में रहते हो ... अगर प्रभु यीषु को आप से बड़ा व्यवहार है और आप उनसे प्रेम करते हो, फिर यह छोट़ी किताब आपके लिये महान् चीज साबित होगी। श्रेश्ठगीत कविता संबंधी और व्यवहार में लाने योग्य है। यहाँ परमेष्वर उनके लोगों से कविता में बात करते है जो कहानी को प्रकट करती है। हमें हमारे आध्यात्मिक जूते हमारे पैरो से निकाल देने चाहिए, जैसे हम ही यह किताब का सामना करते है। हम पवित्र ज़मीन पर है। श्रेश्ठ गीत मुलायम फूल की तरह है, जिससे कोमलता से व्यवहार करना आवष्यक है। वहाँ पर चार अलग और महत्वपूर्ण अर्थ इस किताब में मिलते है’’ (जे. वेरनोन मेकगी, टीएच.डी., थ्रु ध बाइबल, थोमस नेल्सन प्रकाषक, 1982, भाग III, पृश्ठ 143)।

पहला, श्रेश्ठगीत पति और पत्नी के बीच के प्रेम का चित्र है। दूसरा, यह चित्र है प्रभु के इस्त्राएल के लिये प्रेम का। प्राचीन रब्बीयो ने यह दो भाशांतर दिये थे। परन्तु वहाँ पर मसीहीयों के लिये दो और प्रार्थनापत्र है। तीसरा, यह चित्र है मसीह और उनके कलीसिया के बीच के प्रेम का। चौथा, यह सुन्दर रीति से वर्णन करता है मसीह के मसीही के लिये व्यक्तिगत प्रेम का, और आत्मा का मसीह के साथ संपर्क का। प्रभु के कई महान संतो ने इसका अनुभव किया था। श्रेश्ठगीत रोबर्ट मुरेय मेकहायन (McCheyne) स्कोट के प्रचारक की मनपसंद किताब थी, जिन्होंने उनकी सेवा के दौरान षक्तिषाली पुनःनिर्माण की लहरे देखी थी। मेकहायन के लिये यह कहा जाता था, ‘‘उन्होंने प्रचार किया अपने ललाट पर अनंतता छपवाने के बाद, यद्यपि जब वे मरे तब सिर्फ 29 वर्श के ही थे। श्रेश्ठगीत बाइबल की किताब में उनकी सबसे पसंदीदा किताब थी। जब रोबर्ट मेकहायनने श्रेश्ठगीत से प्रचार किया, तब मजबूत आदमी उनके घुटनों पर गिरकर रोने लगे, और सेकडो पापीयों ने उनका मन मसीह के सामने झूका दिया। ये महान् स्कोटीष प्रकाषक सेम्युएल रूथरफोर्ड (1600-1661) डी. एल. मुडी (1837-1899) और हेरी आर्यनसाइड (1876-1951) की भी पसंदीदा बाइबल किताब रही है, और जैसे मैंने कहा, स्पर्जनने 63 धार्मिक प्रवचन प्रचार किये थे श्रेश्ठगीत की किताब से। लेवीष के आईले का पुनःउद्धार हुआ, जब डनकन केम्पबेल ने श्रेश्ठगीत से प्रचार किया था।

अब, फिर, हम विशय पर आते है। दुल्हनने अपने पति के लिये कहा, ‘‘वह परम सुन्दर है’’। इस प्रकार, भी, सच्चे मसीही संतोने यीषु के लिये कहा ‘‘वह परम सुन्दर है’’। जैसे मैं ने इस पाठ पर प्रचार करना निष्चय किया जैसे स्पर्जनने किया, ‘‘यह ऊँचा है, मैं उस तक नहीं पहुँच सकता।’’ इस प्रकार के गहरे विशय ने कभी कभी व्याकुल कर दिया था। परन्तु अगर मैं इसके सारे अर्थ बाहर न ला सकूँ, मैं आज इस सुबह कुछ लाने का प्रयत्न करूँगा। यह बेहतर होगा यीषु पर थोड़ा देखना, संसार की सारी महिमा जीवनभर देखने से, क्योंकि वे अकेले ‘‘परम सुन्दर है’’। चलिये कुछ समय के लिये यीषु के दो विपरीत मत आप तक लाऊँ - संसार का और सच्चे मसीहीयों का।

1. पहला, खोया हुआ संसार कभी भी नहीं सोचता है कि यीषु सुन्दर है।

क्या आपने ध्यान दिया की कैसे आज संसार उन्हें बाहर रखता है? ऐसा लगता है कि उनको उनका नाम भी नहीं सुनना है। मैंने सुना है कि युनाइटेड स्टेटस के एयर फोर्स (हवाई सेना) में पादरी (Chaplains) भी यीषु के नाम से प्रार्थना करने के लिये स्वीकृत नहीं है। जब सामाजिक उत्सवो में याजको को प्रार्थना करने के लिये कहा गया, वे खास तौर पर कहे जाते है उनकी प्रार्थना यीषु के नाम से खत्म न करने। यह यीषु के नाम की नापसंदगी नयी नहीं है, परन्तु ये हर साल ज्यादा तीव्र बन रही है। बहुत पीछे चलचित्र के पहले के दिनो में, जब कभी प्रार्थना में मसीहीयों का वर्णन किया जाता था, मोगल उस प्रेक्षकगृह में उन्हें रोकते थे कभी भी कहने से, ‘‘यीषु के नाम में, आमीन।’’ मैं समझता हूँ वो मोगल सोचते होंगे हम ध्यान नहीं देंगे जब वे यीषु का नाम निकाल देंगे। परन्तु जब हम हमेषा हमारी प्रार्थना ‘‘यीषु के नाम’’ में ही खत्म करते थे, हमने ध्यान दिया और इसने हमें महसूस करने को कारण दिया कि वो आदमी यीषु से कितनी नफरत करते थे।

उनकी उद्धारक के प्रति नफरत और भी ज्यादा स्पश्ट हुई जब उन्होंने बाहर निकाल दीया वो पाखण्डी चलचित्र, ‘‘मसीह का आखरी प्रलोभन’’ को, ‘‘The Last Temptation of Christ’’, उद्धारक को विशयी (षरीरसुख) का मूर्ख दिखाते हुए। और मैं हमारे मुख्य कक्ष में कुर्सी पर बैठा सोच रहा था उस चलचित्र के बारे में जब मैंने वह पढ़ा कि वो बाहर आ रहा है। और प्रभुने मुझसे कहा - मैं लगभग उनकी आवाज सुन सका - उन्होंने कहा, ‘‘रोबर्ट, क्या तुम उनहें इस प्रकार करने दोगे?’’ मैंने कहा, ‘‘पिताजी, मैं कुछ नहीं कर सकता।’’ और उन्होंने कहा, ‘‘अगर तुम नहीं करोगे, कोई भी नहीं करेगा’’। और इसलिये हम गए और यीषु का बचाव किया। उन्होंने हमारा यह प्रदर्षन हर चेनल पर षाम के समाचार में रखा। उन्होंने इसे न्युयोर्क टाम्स और वोल स्ट्रीट जरनल के पहले पन्नों पर रखा। उन्होंने वो रात की लाइन पर, आज रात के (षो) कार्यक्रम पर, क्रोस फायर पर और चित्र और कहानी हमारे प्रदर्षन के बारे में टीवी गाइड में भी रखा! यह आंतरराश्ट्रीय स्तर पर देखा गया इग्लेंड, फ्रांस, इटली, ग्रीस, ओस्ट्रेलिया और इस्त्राएल में भी, जहाँ से एक मित्रने फोन किया और मुझे कहा यह यरूषलेम पोस्ट के पहले पन्ने पर था। मैंने हाल ही में किताब पायी, ‘‘होलीवुड अन्डर सीज’’, ‘‘होलीवुड अवरोध के अधीन’’ थोमस आर. लीन्डलोफ (2008, केन्टकी की विष्वविद्यालय का छापखाना)। डो. सी. एल. केगन, हमारे याजक का मुखपृश्ठ पर रंगीन चित्र के साथ करीबन 125 लोग हमारे कलीसिया से ऊपर हाथ के चिन्हों के साथ विरोध कर रहे थे उस बेकार, पाखण्डी चलचित्र का। मुख्य चिन्ह करीबन तीस फीट लंबा, कहा, ‘‘वासरमेन-यीषु का दूर का लक्ष्य’’! ‘‘Wasserman - Lay off of Jesus!’’ ल्यु वासरमेन चलचित्र का निर्माना था। मैं उस किताब मे ंतेरह अलग - अलग जगह पर कथन किया गया था। उन्हों सिर्फ यीषु से नफरत नहीं की थी, परन्तु वे डो. केगन और मुझसे और हमारे कलीसिया से भी नफरत करते थे, उद्धारक का बचाव करने के सिर्फ साहस के लिये भी! यह किताब कही जाती है ‘‘होलीवुड अवरोध के अधीन’’ इसके बारे में सोचो, 125 छोटे बेप्टीस्ट सारे होलीवुड के ‘‘अवरोध के अधीन’’! महान् और षक्तिषाली चलचित्र में मोगल ‘‘अवरोध के अधीन’’ थे थोड़े डझन बेपटीस्ट से षहर के आंतरिक कलीसिया से! परन्तु मैं जानता था तब और मैं जानता हूँ अभी, कितना होलीवुडद्व बेवर्ली हील्स के लोकसमूह, न्यूयोर्क और वोषिंगटन, प्रभु यीषु मसीह से नफरत करते है। बील महेर से ज्योर्ज क्लुनी तक, एन्डरसन कुपर से वोल्फ ब्लीटझर तक - वे प्रभु के पुत्र को तिरस्कृत और अस्वीकार करते है। राश्ट्रपति ओबामा ने भी उनका जिक्र नहीं किया पीछले वर्श आभार देनेवाली घोशणा (Thanksgiving Proclamation) के दौरान, परन्तु सिर्फ मूर्ति का संदर्भ किया। और मैं नहीं सोचता यह खत्म होगा जब तक वहाँ पर खुल्ला उपद्रव हो कलीसिया के विरूद्ध, और मैं मानता हूँ आप अपने जीवन काल में यह देखोगे - और मैं भी षायद देखुं मेरे जीवनकाल में।

सब में बुरा, यीषु हमारे बहुत से कलीसिया में आज पीछे दीपक जलानेवाले साधन पर रखे गये है। वो अपने मित्रो के घर भी स्वागत नहीं किए गए है! डो. मीषेल हार्टन ने उसके बारे में उनकी षक्तिषाली और छेदनेवाली किताब, क्राइस्टलेस क्रीस्टीयानीटी (बेकर बुक्स, 2008) में लिखा है। ये जेकेट पर कहता है, ‘‘हार्टन दलील करते है कि जब हम अभी तक मसीह बिना की मसीहीता तक नहीं पहुँचे है, हम हमारे रास्तों पर ठीक है। चाहे हम मसीह का नाम स्तुति करे, बहुत बार मसीह और मसीह-केन्द्रित सुसमाचार बाजु पर धकेल दिया जाता है।’’ परन्तु हमें आष्चर्यचकित नहीं होना चाहिए कि यीषु से आज इतनी बुरी तरह से व्यवहार किया जाता है। बाइबल कहता है,

‘‘उसकी न तो कुछ सुन्दरता थी कि हम उसको देखते और न उसका रूप ही हमें ऐसा दिखाई पड़ा कि हम उसको चाहते। वह तुच्छ जाना जाता और मनुश्यों का त्यागा हुआ था; वह दुःखी पुरूश था, रोग से उसकी जान पहिचान थी; और लोग उससे मुख फेर लेते थे। वह तुच्छ जाना गया और हम ने उसका मूल्य न जाना’’ (यषायाह 53:2-3)।

यही प्रकार है एक साधारण आदमी, बिनबचाए अवस्था में, यीषु को देखता है। ‘‘न उसका रूप ही हमें ऐसा दिखाई पड़ा कि हम उसको चाहते’’ और इसलिए वो ‘‘तुच्छ जाना जाता और मनुश्यों का त्यागा हुआ’’ था। मैं जानता हूँ कि यही प्रकार मेरे साथ भी था। जब में छोटा बालक था मैं करीबन हर रोज कथलिक कलीसिया में घुमता था। उनहोंने 1940 के पीछले दिनो में द्वार हर समय खुल्ले रखे थे। और मैं वहाँ अन्दर जाता था क्योंकि वहाँ पर सन्नाटा और षान्ति थी। वहाँ उस कलीसिया में, पर यीषु की बड़ी सी जीवित जैसी प्रतिमा थी उनका क्रूस उठाए हुए, उनके चेहरे से नीचे बहते हुए लहू के साथ मैंने उनकी षोकान्त प्रतिमा, षहीद जिसे उन्होंने मारा और क्रूस पर चढ़ाया की तरह देखा। उनको क्रूस पर चढाने के विचार ने मुझ बालक को डराया उस कलीसिया में। वो विचार मेरे साथ उस दिन तक गया जब मैं आखिरकार परिवर्तित हुआ था, 28 सीतंबर, 1961 को, बीस वर्श की उम्र में। उस दिन तक मैं यीषु को भयानक रूप से गलत समझे हुए षोकान्त प्रतिमा जो क्रूस पर कील से ठोके गए और मरे, और बिना आषा के मानता था। परन्तु उस दिन जब मैं परिवर्तित था, मैंने उन्हें देखा पहली बार जीवित, पुनःरूत्थान वाले उद्धारक जो मृत्यु से जीते थे और जीवित थे, स्वर्ग मैं प्रभु के दाहिने हाथ पर जो मुझे मेरे पापो से बचाएगे और मेरा जीवन बदलेंगे। जब मैंने उनको उस सुबह देखा, 51 वर्श पहले, वो पहली बार परम सुन्दर थे!

2. दूसरा, सच्चे मसीही देखते है कि वे परम सुन्दर है।

यीषु सबसे मधुर नाम है मैं जानता हूँ,
   और वे उनके नाम की तरह ही सुन्दर है
और वही कारण है मैं उनसे इतना प्रेम करता हूँ;
   ओह, यीषु सबसे मधुर नाम है मैं जानता हूँ,
(‘‘यीषु सबसे मधुर नाम है मैं जानता हूँ’’ लेला लान्ग द्वारा, 1924)।

यह षायद आपके पास भी अचानक आ जाए, जैसे इसने मुझे किया। या आप षायद धीरे धीरे देखोगे वे कितने सुन्दर है, जब तक आप उनके सामने गिरो और उनका भरोसा करो आपके उद्धारक और आपके परमेष्वर की तरह। वह पल जब मैंने यीषु का भरोसा किया मैं चार्ल्स वेस्ली के साथ गा सकता था,

मेरी जंजीरे गिर गई, मेरा मन आजाद था;
   मैं उठा, आगे गया और तेरा अनुकरण किया
अद्भुत प्रेम! एैसा कैसे हो सकता है
   कि आप मेरे प्रभु, मेरे लिये मरेंगे।
(‘‘और क्या ऐसा हो सकता है? चार्ल्स वेस्ली द्वारा, 1707-1788)।

हकीकत मे हमने वह गीत उस सुबह में गाया था जब यीषु ने मुझे बचाया!

मेरा बन्दी आत्मा लंबी रहो,
   मजबूत बंधा हुआ पाप और कुदरत की रात में;
आपकी आँखो ने जल्दी प्रकाषित किरण को बंद किया
   मैं जगा, कालकोठरी प्रकाष से जली हुई;
मेरी जंजीरे गिर गई, मेरा मन आज़ाद था;
   मैं उठा, आगे गया और तेरा अनुकरण किया
अद्भुत प्रेम! एैसा कैसे हो सकता है
   कि आप मेरे प्रभु, मेरे लिये मरेंगे।

उस पल में मैं मेकहायन या स्पर्जन के साथ पुकार सकता था, ‘‘वह परम सुन्दर है!’’ मैं मेरे फेफड़ो के उच्चतम आवाज से गा सकता था वो पुराना जर्मन भक्तिगीत,

सुन्दर प्रभु यीषु, सारे प्रकृति का षासनकर्ता
   ओ, आप प्रभु और आदमी के पुत्र!
तुझे मैं प्रिय मानुंगा, तेरा मैं सन्मान करूँगा,
   आप, मेरे आत्मा की महिमा, आनंद और ताज!

सुन्दर उद्धारक! राश्ट्रो के परमेष्वर!
   प्रभु के पुत्र और आदमी के पुत्र!
महिमा और सन्मान, सराहना, भक्ति,
   अभी और सदा ज्यादा आपकी!
(‘‘सुन्दर प्रभु यीषु’’ 17 सदी का जर्मन भक्ति गीत, जोसेफ ए.
      सीज द्वारा अनुवाद किया हुआ, 1823-1904)।

‘‘वह परम सुन्दर है’’।

यह यीषु है,

‘‘वह तो अदृष्य परमेष्वर का प्रतिरूप और सारी सृश्टि में पहिलौठा है। क्योंकि उसी में सारी वस्तुओं की सृश्टि हुई, स्वर्ग की हो अथवा पृथ्वी की, देखी या अनदेखी, क्या सिहासन; क्या प्रभुताएँ, क्या प्रधानताएँ, क्या अधिकार, सारी वस्तुएँ के द्वारा, और उसी के लिये सृजी गई है। और वह सब चीजों में है, और उनके द्वारा सारी चीजें है। वही देह, अर्थात् कलीसिया का सिर है, वही आदि है, और मरे हुओं में से जी उठनेवालों में पहिलौठा कि सब बातों में वही प्रधान ठहरे! क्योंकि पिता की प्रसन्नता इसी में है कि उसमें सारी परिपूर्णता वास करे, और उसके क्रूस पर बहे हुए लहू के द्वारा मेलमिलाप करके, सब वस्तुओं का उसी के द्वारा से अपने साथ मेल कर ले, चाहे वे पृथ्वी की हो चाहे स्वर्ग की। तुम जो पहले निकाले हुए थे और बुरे-कामों के कारण मन से बैरी थे; उसने अब उसकी षारीरिक देह में मृत्यु के द्वारा तुम्हारा भी मेल कर लिया ताकि तुम्हें अपने सम्मुख पवित्र और निश्कलंक और निर्दोष बनाकर उपस्थित करे’’ (कुलुस्सियों 1:15-22)।

हल्लिलूय्याह! वह यीषु है! ‘‘हाँ, वह परम सुन्दर है!’’ हम तिरस्कार और उनके अस्वीकार से फिरे उनके कदमों में गिरने आभारवष सराहना के लिये - क्योंकि वे क्रूस पर मरे हमें बचाने और हमें जीवन देने मृत्यु से उठे! हल्लिलूय्याह! ‘‘वह परम सुन्दर है!’’ ‘‘हाँ, वह परम सुन्दर है!’’

यीषु सबसे मधुर नाम है मैं जानता हूँ,
   और वे उनके नाम की तरह ही सुन्दर है
और वही कारण है मैं उनसे इतना प्रेम करता हूँ;
   ओह, यीषु सबसे मधुर नाम है मैं जानता हूँ,

आओ जैसे उस दुश्ट औरतने किया जिसने ‘‘उसके पाँव बार - बार चुमे’’ (लूका 7:38)। और यीषु ने उसे कहा, ‘‘तेरे पाप क्षमा हुए’’ (लूका 7:48)। ‘‘पुत्र को चूमो’’। बाइबल कहता है ऐसा करने! ‘‘पुत्र को चूमो ... धन्य है वे जिनका भरोसा उस पर है’’ (भजनसंहिता 2:12)। क्या आप इस सुबह परमेष्वर के पुत्र को चुमोगे, और अपना भरोसा उन पर करोगे? ‘‘प्रभु के पुत्र को चूमो?’’ आप कहते हो। हाँ! हाँ! विष्वास से उन्हें चुमो और उनका भरोसा करो, क्योंकि वह परम सुन्दर है! स्पर्जन ने कहा,

     आपको यीषु के पास आने से डरना नहीं चाहिए, क्योंकि ‘‘वह परम सुन्दर है’’। यह नहीं कहता कि वो परम भययोग्य है - वो आपका उनके लिये भ्रम है; यह ये नहीं कहता कि वो थोड़ा सुन्दर है और कभी इच्छित होते है कुछ प्रकार के पापीयों को प्राप्त करने; परन्तु ‘‘वह परम सुन्दर है’’। और इसलिये वो सदा तैयार रहते है सबसे नीच (पापीयों) को स्वागत करने। उनके नाम के बारे में सोचो। यह है यीषु, उद्धारक। क्या ये वह सुन्दर नाम नहीं है? उनके काम के बारे में सोचो। वो ढूँढने आये है और बचाने जो खोया हुआ था। यह है उनका कारोबार। क्या वह सुन्दर नहीं है? उन्होंने जो किया है उसके बारे में सोचो। उन्होंने हमारी आत्माएँ उनके लहू द्वारा छुड़ाई। क्या वो सुन्दर नहीं है? वे जो कर रहे है उसके बारे में सोचो। वे (प्रार्थना) कर रहे है प्रभु के सिंहासन के सामने पापीयों के लिये ... क्या यह सुन्दर नहीं है? (किसी भी तरह आप उनकी ओर देखो) यीषु पापीयों के लिये आकर्शक है जिन्हें उनकी आपष्यकता है। आओ, फिर, आओ और स्वागत, वहाँ पर कुछ भी है आपाको दूर रखने, वहाँ पर सब कुछ है (आपको बुलाता हुआ) आने के लिये। प्रभु करे यह विश्राम के दिन (Sabbath day) जिसमें मैंने मसीह का प्रचार किया और उन्हें ऊपर उठाया, दिन जिसमे आप उन तक खींचे जाओ वो दिन यह हो, कभी भी फिर से नहीं छोड़ने, परन्तु उनके होने सदा और सदा के लिये। आमीन। (सी. एच. स्पर्जन, ‘‘परम सुन्दर’’, ध मेट्रोपोलीटन टबरनेकल पुलपीट, पीलग्रीम प्रकाषन, 1977 में फिर से छपा हुआ, भाग 17, पृश्ठ 407-408)।

‘‘हाँ, वह परम सुन्दर है।’’ और वे आपको बुलाते हैं उनके पास आने और उनपर भरोसा करने, और पाप से बचाये जाओ सारे समय और सारी अनंतता के लिये - क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है! क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है! क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है! उनके पास आओ - क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है। वे आपको दूर फिरायेंगे नहीं क्योंकि वे आपसे प्रेम करते है!

मेरे बंधन, षोक और रात से बाहर,
   यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ,
आपकी आजादी, आनन्द, और रोषनी में,
   यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ,
मेरी बिमारी से बाहर, आपके स्वास्थय में,
   मेरी मांग से बाहर और आपकी संपति में,
मेरे पाप से बाहर और आप स्वयं में,
   यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ,

जब मैं उस भक्तिगीत का दूसरा पद गाता हूँ मैं चाहता हूँ आप अपने स्थान से दूर जाओ और सभा-मंड़प के पीछे जाओ। अगर आप अभी भी मसीही नहीं हो, जाओ और हम आपको कुछ साहित्य देंगे पढ़ने के लिये। अगर आप अभी भी खोए हुए हो, जाओ जब में दूसरा अंतरा गाता हूँ। डो. केगन आपको दूसरे कक्ष में ले जाएँगे, जहाँ मैं चाहता हूँ आप यीषु के पास अभी आओ, इस सुबह, क्योंकि वह परम सुन्दर है। आप जाओ जैसे में दूसरा अंतरा गाता हूँ।

कब्र के डर और भयानकता से बाहर,
   यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ,
आपके घर के आनंद और प्रकाष में;
   यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ,
अनकहे नाष की गहराई से बाहर,
   आपके आश्रय की षान्ति में;
सदा आपका महिमावाला चेहरा देखने,
   यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ,
(‘‘यीषु, मैं आ रहा हूँ, यीषु मैं आ रहा हूँ’’ वीलीयम टी.
      स्लीपर द्वारा, 1819-1904)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले डो. क्रेगटन् एल. चान द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्त्र : श्रेश्ठगीत 5:10-16
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
      ‘‘सुन्दर प्रभु यीषु’’ (जर्मन से जोसेफ ए. सीज द्वारा अनुवाद किया हुआ, 1823-1904)।


रूपरेखा

तिरस्कृत परंतु सुन्दर!

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा

‘‘वह परम सुन्दर है’’ (श्रेश्ठगीत 5:16)।

1. पहला, खोया हुआ संसार कभी भी नहीं सोचता है कि यीषु सुन्दर है, यषायाह 53:2-3।

2. दूसरा, सच्चे मसीही देखते है कि वे परम सुन्दर है, कुल्लसियों 1:15-22; लूका 7:38,48; भजनसंहिता 2:12।