Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




महान् और भययोग्य ईष्वर - भाग 2

THE GREAT AND TERRIBLE GOD – PART II

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की शाम, 5 फरवरी 2012
को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, February 5, 2012

‘‘महान् और भययोग्य ईष्वर’’ (नहेम्याह 1:5)।

‘‘हे प्रभु, महान् और भययोग्य परमेष्वर’’ (दानिय्येल 9:4)।


फिर से, यह धार्मिक प्रवचन डो. जोन. आर. राईस के दिये हुए ‘‘महान् और भययोग्य ईष्वर’’ से लिया गया है (स्वॉर्ड अॉफ ध लोर्ड, 1977, पृपृश्ठ 7 - 38)।

ये पद परमेष्वर को महान् भययोग्य और भययोग्य ईष्वर कहते है। वे षायद आपके प्रभु न हो। परन्तु वो वे प्रभु है जिसे बाइबल में उद्घाटित किया हुआ है। चाहे आप विष्वास करो या नहीं, हमारे प्रभु ‘‘महान् और भययोग्य ईष्वर’’ है। हमारे परमेष्वर ‘‘महान् और भययोग्य परमेष्वर’’ है। पवित्रषास्त्र में उद्घाटित प्रभु ने आदमीयों को भय के साथ थर्राया।

उसके प्रभु के विरूद्ध पाप करने के बाद, आदम ने कहा, ‘‘मैं तेरा षब्द बारी में सुनकर डर गया’’ (उत्पति 3:10)। जब प्रभुने उनका सौदा अब्राम के साथ स्थापित किया, एक देर रात, ‘‘अत्यंत भय और महा अंधकार ने उसे छा लिया’’ (उत्पति 15:12)। अय्यूब ने कहा,

‘‘जब जब मैं सोचता हूँ कि मुझे खाट पर षान्ति मिलेगी और बिछौने पर मेरा खेद कुछ हलका होगा; तब तब तू मुझे स्वप्नों से घबरा देता और दर्षनों से भयभीत कर देता है’’ (अय्यूब 7:13-14)।

प्रभु ने उसको जलप्रलय आने की चेतावनी देने के बाद नूह ‘‘चेतावनी पाकर भकित के साथ जहाज बनाया’’ (इब्रानियों 11:7)। जब प्रभु ने स्वयं को उद्घाटित किया बेतेल में याकूब को, बाइबल कहता है, ‘‘भय खाकर’’ (उत्पति 28:17)। भजनगानेवाले ने कहा, ‘‘तेरे भय से मेरा षरीर कांप उठता है और मैं तेरे नियमों से डरता हूँ’’ (भजनसंहिता 119:120)। जब प्रभुने उनकी इच्छा दानिय्येल को बतायी, भविश्यवक्ता ने कहा, ‘‘मैं घबरा गया, और मुँह के बल गिर पडा’’ (दानिय्येल 8:17)। हबक्कूकने कहा, ‘‘हे यहोवा, मैं तेरी कीर्ति सुनकर डर गया’’ (हबक्कूक 3:2)। प्रभु ने स्वर्गदूत द्वारा कुरनेलियुस से कहा, ‘‘जब उसने उसे देखा, वो डर गया’’ (प्रेरितो 10:4)। और हमें कहा गया था कि कुरनेलियस एक ‘‘परमेष्वर से डरनेवाला’’ (प्रेरितों 10:22) था। और जब प्रेरितों पतरसने कुरनेलियस के परिवार से बात की, उन्होंने कहा, ‘‘परमेष्वर किसी का पक्ष नहीं करता, वरन् हर में जो उससे डरता और धर्म के काम करता है, वह उसे भाता है’’ (प्रेरितों 10:34-35)। बाइबल में उद्घाटित प्रभुने आदमीयों को भय से थर्राया।

डो. जोेन आर. राईसने कहा, ‘‘हमें भयानक, भययोग्य ईष्वर से डरना उचित है। प्रभु के डर समस्त बाइबल में रोक कर रखा है, सारे सामर्थ्य में से एक सबसे महान् सामर्थ्य के समान। ये मसीही चरित्र और ऋशिपद की नींव है। यह आवष्यकता से समावेष किया गया है किसी भी सच्चे पष्चाताप में’’। (जोन आर. राईस, डी.डी., ‘‘हे महान् और भययोग्य परमेष्वर’’, ध ग्रेट एन्ड टेरीबल गोड, महान् और भययोग्य परमेष्वर में, स्वॉर्ड अॉफ ध लोर्ड फाउन्डेषन, 1977 की प्रत, पृश्ठ 14)।

प्रभु ‘‘महान् और भययोग्य परमेष्वर’’ (दानिय्येल 9:4) है। प्रभु ‘‘महान् और भययोग्य ईष्वर’’ (नहेम्याह 1:5) है। प्रभु का सारी मानवजाति के साथ व्यवहार दिखाता है कि वे महान्, भययोग्य और भययोग्य परमेष्वर है।

एकबार पहला आदमी और औरत सुंदरता के स्वर्ग में रहे, बिना रोग, बिना बीमारी, बिना पीडा, बिना कठिनाई के सारी उनकी आवष्यकता से उनको परिपूर्ण करने के साथ। वहाँ पर षिकार का कोई दुश्ट प्रभु नहीं था। वहाँ कोई रोग नहीं था। वहाँ कोई काँटे या रूकावट नहीं थी। और स्वयं प्रभु वाटिका में फिरे और उनके अपने स्वरूप में निर्माण किये गये आदमी को उनके पूरे मिलन के साथ। परन्तु आदमने द्रोह किया और प्रभु के विरूद्ध पहला पाप किया। और तुरंत प्रभु ने आदमी और औरत को उनके क्रोध में ले गये अदन की वाटिका से बाहर। प्रभु ने मानवजाति पर मृत्यु निष्चित की। आदम और हव्वा आत्मिक रूप से पहिले ही मर चुके थे, और अब वे परिवर्तित होने ही चाहिये या सदा के लिये प्रभु के चेहरे से दूर अधोलोक में जाने चाहिये।

उनके पाप के कारण, अब उन्होंने जीवनकाल षुरू किया। मृत्यु उनके देह में काम कर रही थी। अब वे थकने लगे थे। बहुत समय से पहले, उनके सिर पर सफेद बाल उगने लगे। उनके जोडों में अकडन आने लगी। मृत्यु पूरी मानवजाति पर पसार हो चुकी थी। हव्वा गर्भवती हुई, परन्तु उसने अपने पहले पुत्र को जन्म दिया पीड़ा और षोक में। और बालक दुश्ट पापी था और हत्यारा और निर्वासित बना।

अब वे पेड से फल आसानी से नहीं तोड पाते थे। अब आदम को कठिन काम करने पडते थे, उसके चेहरे पर पसीने के साथ, सूखी जमीन पर थोडा सा अनाज उगाने के प्रयत्न करते हुए। पषु अब आदम के षत्रु बन गये थे। अब वहाँ आँधी और बाढ़ थी, साथ में एक तरफ झुलसानेवाली गर्मी और दूसरी ओर तीव्र ठंडी। अब वहाँ पर बहुत सी बीमारीया, पीडा और मृत्यु है। चलिये हकीकत का सामना करते है कि संसार अब षाप के अधीन है! महान् और भययोग्य ईष्वर ने संसार की और मानवजाति की ओर क्रोधित चेहरा घुमाया।

जब आदमने वाटिका में पहलीबार हव्वा को देखा वो उससे प्रेम करने लगा। वो प्रभु के हाथों से ताज़ा आयी थी। वहाँ उसके चेहरे पर मुस्कान और अद्भुत षुद्धता और मधुरता थी। परन्तु अब वो दुःखी हुआ था उसके चेहरे पर षोक, पीडा और परेषानी के साथ लकीरे और झुरिया देखकर। जल्दी ही दोनों चकित और डरे हुए थे उनके पुत्र हाबिल के कत्ल पर। तुरन्त ही उनका मन टूटा उनके दूसरे पुत्र कैन के पाप और द्रोह पर।

और ऐसे निष्चित जैसे बाइबल सत्य है, प्रभु स्वयं जिम्मेदार है ये षाप, आँसू, वृध्धावस्था और पीडा और मृत्यु भेजने के जो पापके अनिवार्य परिणामस्वरूप आया। प्रभु पाप से नफरत करते है! उनका भय आता है पष्चातापहीन पापीयों पर! यह सच है कि मृत्यु के बीज पाप में है, परन्तु ये परमेष्वर है जो पाप की सजा देते है। ये प्रभु है जो न्यायधीष है, यह निष्चित करते है की पापी को दण्ड हुआ है। ओह, कितने महान् और भययोग्य ईष्वर आदम और हव्वा को वाटिकासे बाहर ले गये, उनके पाप करने के विरूद्ध अपने क्रोध की तलवार रखी! ओह, महान् और भययोग्य ईष्वर, भययोग्य परमेष्वर, जिसने मृत्यु को भेजा पूरी मानवजाति पर पापके कारण!

हम न सोचे कि वहाँ कोई षक्ति है संसार में जो परमेष्वर वष नहीं कर सकते है। वे सरलता से यहाँ नहीं है। हम न सोचे कि वहाँ घटनाएँ है जो प्रभु वष नहीं कर सकते है। ये सच नहीं है। फिर हम देख सकते है इतिहास, भयंकर युद्ध और कहे सकते है कि उन्होंने प्रभु के डर को प्रमाणित किया है जो धार्मिकता से पाप द्वारा क्रोधित है और पाप की सजा लाते है। संसार में सारी हत्याएँ, सारे आसुँ, सारा विलाप, सारी पीड़ा, सारी मृत्यु ने प्रमाणित किया की वहाँ भययोग्य, भययोग्य ईष्वर है, और वो कि उनका डर हमारे पापो पर बरसाया। हे भययोग्य परमेष्वर! ओ महान् और भययोग्य ईष्वर!

अगले हफ्ते हम देखेंगे कैसे भयानक और भययोग्य प्रभु इस्त्राएल के पापो को दण्ड देते थे परन्तु आज रात हम समाप्त करेंगे प्रभु के भययोग्य और भयानक अधोलोक के बारे में सोचते हुए। प्रभु ज्यादातर तिरस्कृत हुए है अधोलोक की षिक्षा के लिये बजाय दूसरे किसी कारण के। वोल्टेयर, थोमस पेयन, एच. जी. वेल्स और रोबर्ट इन्झरसोल के समान नास्तिक ने अधोलोक के विचार को तिरस्कार किया और अधोलोक के लिये परमेष्वर को दोशी ठहराया। परन्तु सिर्फ नास्तिक ही नहीं है जिन्होंने अधोलोक का तिरस्कार किया है। हर आधुनिक धार्मिक विष्वास की विधि मोरमोन्स (mormons) यहोवा की गवाही, मसीही विज्ञान, नया जीवन, इन सबसे, बिना एक भी अपवाद, अधोलोक और प्रभु जो लोगों को वहाँ भेजते है उस विचार का तिरस्कार करते है!

हम आषा रख सकते है नास्तिक और धार्मिक विष्वास की विधि के सदस्य का अधोलोक का तिरस्कार और अस्वीकार करने। परन्तु वहाँ आज बहुत से झुठे मसीही भी है जो अनन्त अधोलोक और प्रभु जो पापीयों को वहाँ भेजते है उनका अस्वीकार करते है। ये बहुत मुष्किल है कलीसिया सदस्य को मानने के लिये कि बहुत से धर्म प्रचारक धार्मिक पाठषाला, अनंत अधोलोक का अस्वीकार करते है। मैं दक्षिणी बेप्टीस्ट धार्मिक पाठषाला और प्रेस्बायटेरीयन (Presbyterian) धार्मिक पाठषाला से स्नातक हुआ हूँ जहाँ बाइबल के महान् और भययोग्य ईष्वर का अस्वीकार किया गया था, और जहाँ अधोलोक की अनन्त ज्वाला का उपहास और अस्वीकार किया गया था। रोब बेल अपने स्वयं को कहते है सुसमाचार प्रचारक, परन्तु उन्होंने कुछ किताबें लिखी है अधोलाक में अनंत सजा और महान् और भययोग्य प्रभु जो खोये हुए पापीयों को वहाँ भेजते है उन पर हमला करते हुए रोब बेलने अस्वीकार करना सीखा जो बाइबल सीखाता है अधोलोक पर जो केलीफोर्निया के पासाडेना स्थित फूलर थीयोलोजीकल धार्मिक पाठषाला में। जब 1970 के पहले अरसे में गोल्डन गेट बेपटीस्ट थीयोलोजीकल धार्मिक पाठषाला आये थे, प्राध्यापक ने हम से इन्टरप्रीटरस बाइबल : Interpreter’s Bible पढ़ने और सीखने को कहा। डो. ज्योर्ज ए. बटरीक उस समालोचना के संपादक जो मसीही विष्वास की हरएक महत्वपूर्ण षिक्षा पर हमला करते है। संपादक, ज्योर्ज बटरीक, ने बाइबल के महान् और भययोग्य ईष्वर पर हमला किया। उसने कहा, ‘‘ऐसे प्रभु, हम सलाह देते है, ने प्राप्त किया है फ्रेन्च स्केप्टीक का विचार (Voltaire) (वोल्टेयर) : ‘आपके प्रभु मेरे दुश्टात्मा है।’’’ इस प्रकार ये उदार, बाइबल का अस्वीकार करनेवाले आलोचक हिंमत करते है बाइबल के महान् और भययोग्य ईष्वर को दुश्टात्मा कहने! डो. जी. ब्रोमेली ओक्सनाम, सिद्धांत में माननेवाले उदार, वोषींगटन डी.सी. के याजक, ने बाइबल के महान् और भययोग्य ईष्वर को कहा ‘‘गंदे निर्दयी पुरूश’’। मैंने सुना है बिना बचाये उदार इस प्रकार की बाते बार - बार कहते है बाइबल का अस्वीकार करने वाली दक्षिणी बेप्टीस्ट और प्रेस्बायटेरीवन धार्मिक पाठषाला में, जहाँ से में स्नातक हुआ हूँ। पहले मैंने सोचा ये प्राध्यापक व्याकुल थे और बाइबल के मंतव्य कारणभूत और जीतनेवाले बन सकते थे। परन्तु आखिरकार मैं हकीकत जान गया कि वे कभी भी फिर से नहीं जन्मे थे। षैतान, इस संसार के परमेष्वर ने ‘‘आविष्वासियां के लिये, जिन की बुद्धि इस संसार के ईष्वर ने अंधी कर दी है’’ (2 कुरिन्थियों 4:4) था।

डेनीयल पी. फुलर का अनोखा किस्सा द्रश्टांत के समान लीजिये। उसके पिता बहुत मषहूर सुसमाचार प्रचारक थे चार्ल्स ई. फुलर। परनतु उसके पिता ‘‘निर्णायक’’ थे। उनके अपने पुत्रने अपना हाथ उठाया, प्रार्थना कही और छोटी उम्र में बप्तीस्मा दिया गया, बिना सच्चे परिवर्तन के। जब फुलर धार्मिक पाठषाला षुरू हुई, चार्ल्स फुलरने प्रभु के वचन से ज्यादा अपने पुत्र से प्रेम किया। उसने अपने पुत्र को बेझल स्वीटझरलेन्ड (Switzerland) जाने दिया पढाई करने, कार्ल बार्थ जैसे उदार के अधीन। डेनीयल फुलर लौटकर आया, पिता के धार्मिक पाठषाला की षाखा से जुड गया और इसके लिये उदार बनने का रास्ता खोल दिया। और ये फुलर धार्मिक पाठषाला में था कि रोब बेलने अधोलोक की अनन्त सजा का अस्वीकार करना सीखा (देखिये हेरोल्ड लीन्डसेल, पीएच.डी. ‘‘ध स्ट्रेन्ज केस अॉफ फुलर थीयोलोजीकल सेमीनरी’’ ‘‘फुलर थीयोलोजीकल धार्मिक पाठषाला का अनोखा किस्सा; ध बेटल फोर ध बाइबल, झोन्डरवान प्रकाषन घर, 1976, पृपृश्ठ 106 - 121)।

‘‘एक पापी बहुत सी भलाई का नाष करता है’’ (सभोपदेषक 9:18)।

फुलर धार्मिक पाठषाला के स्वतंत्र विचार के सिद्धांत की जड़े है डेनीयल पी. फुलर के अंधे दिमाग में। एक आदमी जो ना जीता हुआ और अपराधी प्रमाणित और प्रभु द्वारा सच्चाई से परिवर्तित नहीं है वो आसानी से स्वतंत्र विचार के सिद्धांत में लाया जायेगा, पवित्रषास्त्र की आंतरिक्तता का अस्वीकार और महान् और भययोग्य ईष्वर के प्रति द्वेश जो पापीयों को आग के सरोवर में धकेल देते है। इसलिये, हमारे कलीसिया में युवान लोगों को परिवर्तितो के प्रकार ‘‘पसार’’ नहीं करना चाहिये जब तक वे प्रभु द्वारा जीते नहीं जाते और पाप के अपराधभाव में नही आते, और पवित्रआत्मा द्वारा फिर से जन्म लेते है जीवित विष्वास प्रभु यीषु मसीह में!

महान् और भययोग्य ईष्वर अपरिवर्तित पापीयों को अधोलोक की अनंत ज्वाला में नहीं भेजते। परन्तु अधोलोक इतना भयानक है कि इससे हरएक सोचनेवाले आदमी को भय में थर्राना चाहिये। अधोलोक चिन्ह है भययोग्य और भयानक ईष्वर के क्रोध का, जो पाप से नफरत करते है और वे जरूर इसे दण्ड देने चाहिये।

डो. राइसने कहा, ‘‘यह भयानक है कि अधोलोक आग की जगह है। मैंने हवाईजहाज के अकस्मात के बारे में सुना था। हवाईजहाज चालक (Pilot) कुचले हुए जहाज जिसमें आग लगी थी उसमें फँस गया। थोडा थोडा करके आग हवाईजाज चालक को भून रही थी जिसके कारण वो चिल्लाया और रोया ... और लोगों से विनती की उसे मार डालने को जब तक आखिरकार (पुलिस) अफसर ने उसके दिमाग में गोली मार दी उसे तड़प से बचाने, आदमी जिसको वे बचा नहीं सके, मुक्त नहीं कर सके! मैं उस आदमी की वेदना के विचार से इतना भयभीत हो गया था कि वो विचार मेरे साथ कई दिनों तक रहा। परन्तु महान्, भययोग्य, भयानक ईष्वर, अधोलोक में वहाँ जहाँ आग का सरेवर और गन्धक सदा जलते रहते है उसमें क्या होगा! ... यातना जारी रहती है! आग जलना जारी रहता है! आदमी अभी भी स्मरण करते है उनके खोये हुए मौके का, मसीह के अस्वीकार का, उनके जवलन्त पाप! और उनकी यातना का धुआँ सदा और सदा ऊपर उठा (प्रकाषितवाक्य 14:11)। उन्हें दिन में आराम नहीं मिला। रात भी षान्ति नहीं लाती और यातना का न रूकनेवाला चक्र चलता ही रहता है। वहाँ प्रभु के साथ समाधान की कोई आषा नहीं, ना ही भविश्य में पश्चाताप के लिये मौके की। हकीकत में, वहाँ पर अधोलोम में ... पश्चाताप के तरफ कोई झुकाव नहीं। कितने भययोग्य ईष्वर है जो ऐसा दण्ड रखते है पष्चातापहीन पापीयों के लिये!’’ (राइस, ibid., पृश्ठ 27)।

मैं आज रात आप से कहता हूँ कि ये बाइबल के महान् और भययोग्य ईष्वर है। और यही परमेष्वर है जिनके बारे में आपने गहराई से नहीं सोचा। हकीकत में, आपने षायद ही कभी उनके बारे में सोचा जब रात में आप अकेले होते हो। क्या मैं आपको डराने कि कोषिश कर रहा हूँ? हाँ, अवष्य! क्योंकि अगर आप कभी भी जेकब और मूसा और पौलुस के प्रभु से नहीं डरेंगे, तो वहाँ आपके लिये कोई आषा नहीं है। बाइबल कहता है, ‘‘यहोवा का भय मानना और बुराई से अलग रहना’’ (नीतिवचन 3:7)। परमेष्वर करे कि प्रभु का डर आपको ले जाये ढूँढने के लिये, ‘‘मसीह यीषु : उसे परमेष्वर ने उसके लहू के कारण एक ऐसा प्रायष्चित ठहराया’’ (रोमियों 3:24-25)। जब तक आप मसीह को नहीं खोजते, आपके पाप उनके लहु द्वारा षुद्ध नहीं होंगे, और आप हमारे महान् और भययोग्य ईष्वर के क्रोध और डर का सामना करेंगे। जैसे दूसरी महान् जागृतता के पुराने गीत में ये कहते है,

क्रोधित प्रभु - कठोर न्याय
   कितने सरल - कितने पवित्र है यहोवा!
जब मसीही आषा करते है सच्चे डर के साथ,
   चलिए पापीयों को उनके वचन में थर्राने दीजिये।

उनकी व्यवस्था अब दुश्ट को अपराधी ठहराती है,
   और (न्याय) मुहर करते है उसका भयानक अभाग्य;
और क्रोध, चाहे यहाँ अनदेखा और धीमा है,
   विस्फोट होगा और कब्र के पीछे जलेगा।

(‘‘प्रभु क्रोधित है दुश्ट के साथ’’ एल. एम. ली द्वारा, तारीख नहीं है; विलेज हिम्स फोर सोषीयल वर्षीप, डो. एषेल नेटलेटन द्वारा संग्रह किया गया, 1997 में फिर से छपा हुआ, इन्टरनेषनल आऊटरीच, पी. ओ. बोक्स 1286, अमेस, आयोवा 50014)।

मेहरबानी करके खडे रहीये और गीत क्रमांक 4 ‘‘ध लोर्ड हेथ लेइड ओन हीम’’ (‘‘प्रभु ने उन पर बोझ डाला’’) गाइये, ‘‘अद्भूत अनुग्रह’’ की तर्ज पर।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन के पहले डो. क्रेगटन् एल. चान द्वारा पढा हुआ पवित्रशास्त्र : प्रकाषितवाक्य 14:9-12।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘प्रभु क्रोधित है दुश्ट के साथ’’ (एल. एम. ली द्वारा, तारीख नहीं)।