Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




स्वर्गदूत हमारे साथ हैं!

THE ANGELS ARE WITH US!

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजीलस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की षाम, 8 जनवरी 2012,
को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, January 8, 2012

‘‘और जब मैंने देखा, तो उस सिंहासन और उन प्राणियों और उन प्राचीनों के चारों ओर बहुत से स्वर्गदूतों का षब्द सुना, जिन की गिनती लाखों और करोडों की थी'' (प्रकाषितवाक्य 5:11)।


मैंने कभी भी किसी याजक को पूरा धार्मिक प्रवचन स्वर्गदूतों पर प्रचार करते नहीं सुना। फिर भी स्वर्गदूत समस्त बाइबल में मुख्य रहे हैं। प्रकाषितवाक्य 5:11 में प्रारंभ का मूलसूत्र हमे कहता है कि वहाँ पर अनगिनत स्वर्गदूत है, ‘‘लाखों और करोड़ो'' (प्रकाषितवाक्य 5:11)।

स्वर्गदूत समस्त बाइबल में प्रत्यक्ष है। जब अब्रामने उसके दास को उसके पुत्र इसहाक के लिये पत्नी ढूँढने भेजा, उसने दास को कहा कि प्रभु उसके आगे स्वर्गदूत भेजेंगे, उसे सहाय करने (उत्पति 24:7)। जैसे याकूब सफर कर रहा था, वो ‘‘प्रभू के स्वर्गदूत'' से मिला था। डो. जोन गील (1697-1771) ने कहा कि स्वर्गदूत दो जूथ में बांटे गये थे उसे बचाने। उनका एक जूथ उसके आगे गया और स्वर्गदूत का दूसरा जूथ उसके पीछे गया, उसकी रक्षा करने (उत्पति 32:1-2)। जब लूत और उसका परिवार सदोम के सर्वनाष के खतरे में थे, स्वर्गदूत ने उन्हें अभाग्य नगर से बाहर निकाला (उत्पति 19:15-17)। जब दानिय्येल को सिंहो की गुफा में फेंका गया था, प्रभु ने स्वर्गदूत को भेजा ‘‘सिंहो का मुँह बंद'' करने (दानिय्येल 6:22)। जब प्रेरितो बन्दीगृह में डाले गये थे सुसमाचार प्रचार करने के कारण, ‘‘रात को प्रभु के एक स्वर्गदूत ने बन्दीगृह के द्वार खोले,'' और उन्हें आज़ाद किया (प्रेरितों 5:19-20)। जब प्रेरितों पतरस बन्दीगृह में डाला गया था सुसमाचार प्रचार करने के कारण, स्वर्गदूत आया और बन्दीगृह के द्वार खोलकर उसे छुड़ा लिया था (प्रेरितों 12:7-10)।

स्वर्गदूत ने नवजात जन्मे मसीह की जिंदगी बचायी युसूफ के समक्ष प्रत्यक्ष होकर और उसे बच्चे के साथ मिस्त्र भाग जाने को कहते हुए (मती 2:13-14)। बाद में दुश्टात्माने मसीह को प्रलोभन दिया मरूस्थल में, ‘‘स्वर्गदूत आकर उसकी सेवा करने लगे'' (मती 4:11)। स्वर्गदूत ने मसीह को सामर्थ्य दिया जब वे हमारे पापो के द्वारा कुचले गये, लहूभरा पसीना बहाया गतसमनी की वाटिका में (लूका 22:43-44)। स्वर्गदूतने मसीह की कब्र से पत्थर हटाया, और स्त्री से कहा जो वहां आयी थी की वे मृत्यु से उठे है (मती 28:2, 5-6)। हजारों स्वर्गदूतोने मसीह का साथ दिया जब वे फिर से स्वर्ग में उठे (भजनसंहिता 68:17-18; इफिसियों 4:8)। और पवित्र स्वर्गदूत मसीह के दूसरे बार आने के साथ नीचे आयेंगे (लूका 9:26; 2 थिस्सलुनीकियों 1:7)। देखिये डो. जोन गील, ए बोडी अॉफ डोक्ट्रीनल डीवाइनीटी, ध बेप्टीस्ट स्टानडर्ड बेरर, एन.डी., भाग 1, पृपृश्ठ 262-268।

और भी, प्रभु के लोगों के लिये स्वर्गदूत का काम बाइबल में स्पश्टता से प्रकट किया है। वे प्रभु के लोगों की रक्षा और बचाव करते हैं। भजनसंहिता 91:11-12 कहता है, ‘‘वह अपने दूतों को तेरे निमित्त आज्ञा देगा, कि जहाँ कहाँ तू जाए वे तेरी रक्षा करे। वे तुझ को हाथों हाथ उठा लेंगे, ऐसा न हो कि तेरे पांवो में पत्थर से ठेस लगे''। दानिय्येल 3:28 कहता है कि प्रभुने ‘‘अपना दूत भेजकर अपने इन दासों को बचाया''। इबानियों 1:14 कहता है कि प्रभु ने स्वर्गदूत को भेजा ‘‘उद्धार पानेवालों के लिये सेवा करने'' को। देखिये डो. हेन्री सी. थीयेस्सेन, इन्ट्रोडक्टरी लेकचर्स इन सीस्टमेटीक थीयोलोजी, एडरमान्स प्रकाषन कम्पनी, 1971 की प्रत, पृश्ठ. 205।

जब से स्वर्गदूत का काम इतनी स्पश्टता से बाइबल में (और कई बार) प्रकट किया गया है, क्यों ऐसा है कि हम आज पूरा धार्मिक प्रवचन स्वर्गदूतों पर न सुनें? मैंने कभी भी किसी भी याजक को स्पर्गदूतों पर पूरा धार्मिक प्रवचन प्रचार करते नहीं सुना। क्या आपने? आज ऐसा क्यों हैं? मैं सोचता हूँ कि वहाँ कुछ कारण हैं। पहला, बहुत से याजक कभी भी परिवर्तित नहीं थे। वो षायद मुख्य कारण ही होगा। दूसरा, बहुत से जो परिवर्तित है वे प्रभु द्वारा बुलाये नहीं गये। मेरे दीर्घकाल के याजक, लोस एंजलिस के पहले चीनी बेप्टीस्ट कलीसिया में, ने कहा, ‘‘आखिरी दिनों में कलीसिया में निर्जनता याजक की कमी के कारण नहीं हैं, परन्तु याजक की प्रचुरता जो प्रभु के (बुलावे और) पुकार और प्रभु के भेजने के बिना है। जब वे प्रभु द्वारा नहीं भेजे गये, वे कैसे आषा करें, प्रभु को उनके लिये जिम्मेदार ठहराना और उन्हें उनके संदेष द्वारा नियुक्त करें? (तिमोथी लीन, पीएच.डी., ध सीक्रेट अॉफ चर्च ग्रोथ, (कलीसिया की प्रगति का रहस्य), पहला चीनी बेप्टीस्ट कलीसिया, 1992, पृपृश्ठ 21-22)।

याजक जो परिवर्तित नहीं हैं, और जो प्रभु के द्वारा नहीं बुलाये गये, वे कोई कारण नहीं देखेंगे ‘‘परमेष्वर के सारे अभिप्राय को तुम्हें पूरी रीति से बताने'' (प्रेरितो 20:27) के लिये। मैं सोचता हूँ कि ये दूसरा कारण है कि हमें स्वर्गदूत या दानवों के बारे में बहुत कम सुनते हैं हमारे तख्त पर आज। हकीकत में, हम यीषु मसीह स्वयं पर बहुत ही कम धार्मिक प्रवचन सुनते हैं! करीबन आज सारे धार्मिक प्रवचन आदमी - केन्द्रित और कारणभूत है - ना कि प्रभु केन्द्रित और आध्यात्मिक।

बहुत वर्श पहले मैंने धार्मिक प्रवचन प्रचार किया था स्वर्गदूतों पर उत्तरीय केलिफोर्निया के कलीसिया में। मैंने सिर्फ डो. थीयेस्सेन की सिस्टमेटीक थीयोलोजी (ibid) की किताब से स्वर्गदूतों के बारे में कुछ मुद्दे दिये। मैंने मेरा धार्मिक प्रवचन खोये हुओं को मसीह की ओर फिरने के लिये मजबूत वीनती करते हुए खत्म किया। बहुतों ने मेरे निमंत्रण को प्रतिभाव दिया। परन्तु दूसरे दिन याजक ने मुझ पर हमला किया उनके कुछ बड़ों के सामने, यह कहते हुए कि मेरा धार्मिक प्रवचन ‘‘धार्मिक विष्वास की उपासना'' (cultish) करनेवाला और जो ले जा सकता है ‘‘स्वर्गदूतों की पूजा'' (कुलुस्सियों 2:18) तक। बेषक वो अनर्थक वचन था। जब कुछ प्रकार के अपवित्र और क्रुर लोग सामना करते है उनके पाप के साथ धार्मिक प्रवचन में वे बहुत बार ‘‘धार्मिक विष्वास की उपासना'' करनेवाले कहे जाते हैं। मैंने वो कलीसिया छोड दिया। करीब दो साल बाद मषहूर सुसमाचार प्रचारक बीली ग्रेहामने किताब प्रकाषित की जिसका षीर्शक था, स्वर्गदूत : प्रभु के खानगी प्रतिनिधि (Angels : God’s Secret Agents) (डबलडे एन्ड कम्पनी, 1975)। बीली ग्रेहाम की किताब में बहुत कुछ था जो मैंने धार्मिक प्रवचन में प्रचार किया था जिसे याजक ने ‘‘धार्मिक विष्वास की उपासना'' (cultish) कहा था। मैंने उन्हें बीली ग्रेहाम के किताब की प्रत भेजी टिप्पणी के साथ जिसमें कहा, ‘‘क्या ये किताब धार्मिक विष्वास की उपासना (cultish) हैं?'' उन्होंने कभी भी मुझे प्रत्युत्तर नहीं दिया। इससें ज्यादा देर बाद नहीं, ये याजक कलीसिया से निकाल दिये गये ओरतों के साथ उनके समुदाय में व्यभिचार करने के कारण। वे जो मेरे मजबूत, पुश्ट तरीके का प्रचार को प्रतिसाद देते हैं वे कुछ न कुछ दोश ढूँढेंगे कोई बात नहीं मैं जो भी कहूँ।

जब मैं बीली ग्रेहाम के कुछ मुद्दों पर सहमत नहीं होता हूँ, मैं देखता हूँ कि वहाँ पर थोडी चीजें है सहमत होने के लिए उनकी स्वर्गदूत पर की किताब में। उन किताब में बीली ग्रेहाम ने कहा है कि ‘‘बाइबल के प्रभुने हमें बहुत बडा परिमाण कहा है। इस कारण के लिये, थीयोलोजीयन (धर्म सिद्धांत में माननेवाले) युगो से सर्वव्यापक्ता से सहमत हुए है ‘Angelology' (स्वर्गदूत के बारे में षास्त्र) के महत्व के बारे में (स्वर्गदूतों के बारे में बाइबल की सच्चाई का नियमित कथन)। वे इसे उपचार का योग्य न्याय कहते है किसी भी किताब, सीस्टमेटीक थीयोलोजी में'' (ibid] पृश्ठ 18)।

बडे सुधारक मार्टीन लुथर ने कहा, ‘‘स्वर्गदूत आध्यात्मिक जीवन है बिना षरीर के, प्रभु द्वारा बनाया हुआ मसीहीता और कलीसिया की सभा के लिये'' (ग्रेहाम, ibid, पृश्ठ X)। जोन काल्वीन, भाग 1 में, उनके मसीही धर्म की संस्था (Institutes of the Christian Religion) में कहा, ‘‘स्वर्गदूत कार्यकर्ता और प्रबंधकर्ता है हमारी ओर दिव्यता (उदारता) का। वे हमारी सलामती देखते है, हमारा बचाव करते हैं, रास्ता दिखाते है और सदा प्रयत्न करते (परवाह) है कि कोई भी दुश्टात्मा हमें गिराये नहीं'' (ग्रेहाम, ibid)। श्रेश्ठ स्पर्जन, ‘‘प्रचारकों का राजकुमार'', ने कहा ‘‘उन्हें उनके स्वर्गदूत को तुम पर भार देना चाहिये, तुम्हें, उनके हर रास्तों को अंदर रखने के लिये ... ये हमें सीखाती है कि हर एक महात्मा (Saint) व्यक्तिगतरूप से सुरक्षित किये गये है। प्रभु व्यक्तिगत रूचि लेते है हर एक मुसाफिर में उनके सही रास्तो पर, और उनके स्वर्गदूतों को सोपते है उन्हें रखने के लिये'' (सी. एच. स्पर्जन, एन्जलिक प्रोटेकशन इन अपोंइन्टेड वेझ,'' मेट्रोपोलीटन टबरनेकल पुलपीट, पीलग्रीम प्रकाषन, 1978 में फिर से छपा हुआ, भाग 52, पृश्ठ 20)।

परन्तु स्वर्गदूतों के सुरक्षितता के इस बडे वचन सिर्फ चुनाव को लागु होते हैं। अगर आप उनमें से नहीं हो तो आप के पास बचाव नहीं है - चाहे प्रभु के पास से या उनके स्वर्गदूतों से। आप आँधी के हवा में बिना सलामती के छोड़ दिये जाते हो। वहाँ पर सिर्फ एक ही रास्ता है बचाये जाने का। आपको पष्चाताप करना ही चाहिये और यीषु मसीह के पास विष्वास से आना चाहिये स्वर्गदूतों के बचाव के साथ भी, जो परिवर्तित है वो ‘‘कठिनाई'' से उद्धार पाता है (1 पतरस 4:18)। ‘‘भक्तिहीन और पापी का क्या ठिकाना?'' (1 पतरस, ibid)। जब न्याय की क्रुर आँधी आती है, आप जो बिना बचाये हुए हो अनन्त ज्वाला में फेंक दिये जाओगे! मैं अब आप से विनती करता हूँ, मसीह की ओर फिरो। उनके पास आओ और आप के पापो से षुद्ध हो जाइये! मसीह का लहू आपके सारे पाप धो सकता है प्रभु की न्याय की किताब से। यीषु के पास आओ और दोश और पाप की सजा से बचाये जाओ! फिर प्रभु के स्वर्गदूत आपके स्वर्गदूत बन जायेगे, आपको बचाने ‘‘आपके सारे रास्तो में'' - परन्तु पहले नहीं! पहले नहीं! पहले नहीं! रूकिये मत! अभी मसीह के पास आओ, जब आप युवा हो।

मार्टीन लुथर सिर्फ 29 वर्श की उम्र में सुधारक थे और उन्होंने सिर्फ 33 वर्श की उम्र में सुधार का काम षुरू किया था। अभी मसीह के पास आओ, जब आप युवा हो, और आप प्रभु के स्वर्गदूत के द्वारा बचाये जाओगे जैसे मार्टीन लुथर बचाया गया था। ये मार्टीन लुथर थे जिन्होंने कहा,

वो कि स्वर्गदूत जरूर हमारे साथ है और किसी को इसका षक नहीं होना चाहिये ... ये सच्चाई में हमारे आसपास है इस जीवन में, हमारे कामों को नियुक्त और सहाय करते हैं ... इसीलिये हमें सीखना चाहिये कि हमारे सबसे अच्छा और सबसे विष्वासु मित्र अदृष्य है। वे अच्छे स्वर्गदूत है, जो उनके विष्वसनीयता और दयाके द्वारा और उनके मित्रता की बहुत सेवा श्रेश्ठता से हमारे दिखनेवाले मित्रों को बढाते हैं ... अगर कुछ अच्छा होता है, वे पूरी तरह से अच्छे स्वर्गदूतों के द्वारा लाया जाता है (व्होट लुथर सेयस, कोन्कोर्डीया प्रकाषन घर, 1994 की प्रत, पृश्ठ 23; उत्पति 24:5-7 पर समालोचना)।

ज्यादा सच्चे मसीहीयों के पास समय होता है उनके जीवन में जब वे महसूस करते हैं पालक स्वर्गदूत की मौजूदगी को। कुछ दिनों पहले एक सिद्धांतवादी बेप्टीस्ट याजक, जो मेरे मित्र है, मुझे उनके स्वर्गदूत के साथ के अनुभव के बारे में कहा। उन्होंने कहा, ‘‘मैं सोचता हूँ मैं मारा गया होता अगर स्वर्गदूत ने मुझे बचाया नहीं होता।''

मुझे याद है दो बार जब मैं मानता हूँ स्वर्गदूत ने मुझे बचाया भयानक अकस्मात से यहाँ लोस एंजलिस के खुल्ले रास्तों पर। पहले हुआ जब मैं पहले चीनी बेप्टीस्ट कलीसिया में प्रार्थना सभा में जाने के लिये कार चला रहा था। तब हल्की सी बारिष हो रही थी। मैं रेडियों पर संगीत सुन रहा था। जैसे दो रास्ते जुडे मेरे आगेवाली कार के आदमीने उसका ब्रेक जोर से दबाया। मैंने भी वही किया। मेरी कार गोल गोल घुमने लगी। वहाँ पर बडा खम्भा था उस बाजू जहाँ छोटी सडक पर मैं था। मैं देख सकता था खम्भे को जोर से घुमते हुए, मेरी कार गोल गोल तीन बार घुमी। मैं जानता था मैं मरनेवाला हूँ। परन्तु अचानक कार रूक गयी। वो गलत बाजु रूकी थी। कोर के कांच पर बारिष हलके से गिर रही थी। रेडियों अभी भी चालू था। मैंने उसे बंद किया। वहाँ एक क्षण के लिये बैठा, षांति से, ऐसा लगता था कि मैं स्वर्गदूत के पंखो की आवाज सुन सकता था। फिर मैंने कार घुमाई और मेरी प्रार्थना सभा में कार चलाकर गया। परन्तु जब मैं वहाँ पहुँचा मैं प्रार्थना नहीं कर सका। मेरे हाथ कांप रहे थे। मुझे महसूस हो रहा था जैसे मैं पीछे हट रहा था। परन्तु पवित्रषास्त्र के वो पद मेरे मन में चल रहे थे,

‘‘वह अपने दूतों को तेरे निमित्त आज्ञा देगा, कि जहाँ कही तू जाए वे तेरी रक्षा करें। वे तुझ को हाथों हाथ उठा लेंगे, ऐसा न हो कि तेरे पाँवों में पत्थर से ठेस लगे'' (भजनसंहिता 91:11-12)।

मुक्त रास्ते का दूसरा अनुभव भी मेरे मनमें आता है। वो षनिवार देर रात को था। श्रीमान जेने वील्करसन और मैं पहले चीनी बप्तीस कलीसिया में थे। उन्होंने छोटा सा समाचार पत्र (Bulletin) छापां, जब मैंने कलीसिया को साफ कर दिया, जैसे युझर के चेरमेन और मेरा धार्मिक प्रवचन तैयार किया छोटे कलीसिया की अगली सुबह के लिये। फिर हमने समाचारपत्र बंद किया और मैं श्रीमान वील्करसन को उनके घर पासाडेना, उत्तर लोस एंजलिस ले गया। मेरे पास पुरानी कार थी और उसकी गेस की टंकी टूटी हुई थी। मुझे लगा मेरे पास बहुत सा इंधन है। घर जाने के लिये; परन्तु मैं गलत था। जैसे मैंने लोस एंजलिस लौटने के लिये षुरूआत की मेरी कार की गेस खत्म हो गया दक्षिण पासाडेना मुक्त रास्ते पर, डोडजर स्टेडीयम के उत्तर में। अब पासाडेना मुक्त रास्ता लोस एंजलिस में सबसे पुराना मुक्त रास्ता है। जैसे ये सबसे पुराना रास्ता था वो धीमी गति के लिये बनाया गया था दूसरे नये रास्तों से। पासाडेना मुक्त रास्ता उसके मोड, छोटे उतार चढाव के लिये मषहूर है। ये धीमी गति के आने जाने के लिये बनाया गया था। बाजु में जगह छोटी थी या नहीं थी। ये बहुत ही सिकुडा हुआ (Narrow) है और ज्यादातर भाग में किसी अपघात के समय कार बाजु में करने के लिये भी जगह ही नहीं है। मैं दक्षिणी भाग की कतार में था। वहाँ पर कार को रास्ते से बाजु करने के लिये जगह ही नहीं थी। मेरी कार ने आवाज की और उस रास्ते पर बंद पड गयी, मेरे बराबर पीछे मोड पर। दूसरी कार जो वो मोड से आ रही थी जो षायद मेरे पीछे चढ जाती। मैं जैसे कार से बाहर कूदा भय से त्रस्त हो उठा, मालूम नहीं था की क्या करूं। परन्तु जैसे ही मैं कार से बाहर निकला मैंने होर्न बजते हुए सुना। एक छोटा आदमी वी.डब्ल्यु.बग. (V.W.Bug) से बाहर आया दूसरी ओर से जंजीर से बंधी चहारदिवारी से (Fence) मुक्त रास्ते के बाजु से। उसने इंधन का डिब्बा दंडे पर लटकाया था जो मछली पकडने के दंडे के समान लगता था। फिर उसने दंडे को बाहर घुमाया, और वो टेलीस्कोप की तरह बढा, उपर जंजीरवाले चहारदिवारी (Fence) के ऊपर गेस का डिब्बा उसके अंत में बंधा हुआ था। उसने कहा, ‘‘जल्दी करो, गेस अंदर डालो।'' मैंने डिब्बा उठा लिया, कार में गेस डाला और डिब्बा फिर से उस दंडे पर टांग दिया उसे लौटाकर देने के लिये। मैं मेरी जेब तक पहुँचा उसे कुछ पैसे देने के लिये। उसने कहा, ‘‘इसके लिये चिन्ता मत करो। जल्दी करो, अपनी कार में बैठो। इसके लिये चिन्ता मत करो। मैं ये हर रात करता हूँ।'' मैं कार में कूदा और कार चलाकर गया। फिर मुझे वो समझा। ‘‘मैं ये हर रात करता हूँ''। मेरे बाल खडे हो गये, जैसे मैंने बाइबल के पद के बारे में सोचा जो कहता है, ‘‘कुछ लोगों ने अनजाने में स्वर्गदूतों का आदर - सत्कार किया है'' (इब्रानियों 13:2)। में उसे आदर नहीं करता, परन्तु उसने निष्चितरूप से मुझे बचाया था!

‘‘वह अपने दूतों को तेरे निमित्त आज्ञा देगा, कि जहाँ कही तू जाए वे तेरी रक्षा करें। वे तुझ को हाथों हाथ उठा लेंगे, ऐसा न हो कि तेरे पाँवों में पत्थर से ठेस लगे'' (भजनसंहिता 91:11-12)।

मैं अपनी कहानी इस प्रकार एक के बाद एक दे सकता हूँ; परंतु मुझे अब ये धार्मिक प्रवचन खत्म करना चाहिए।

मेरी पत्नी आपसे कह सकती है कि मैं आपके लिये हर रात प्रार्थना करता हूँ, जैसे ही आप बाहर सुसमाचार प्रचार करने लोस एंजलिस के परिसर में और रास्तों पर जाते हो। यह षहर के सूचित, खतरनाक रास्ते हैं। मैं सदा प्रार्थना करता हूँ, ‘‘प्रभु मेहरबानी करके हर एक जो आज रात सुसमाचार प्रचार करने जा रहे है उनकी रक्षा करना।'' हम लोगों को बाहर भेजते है सुसमाचार प्रचार करने इस अंधेरी सडकों पर 35 वर्श से भी ज्यादा समय से। चमत्कारिक रूप से, किसी को कभी भी नुकसान नहीं हुआ!

‘‘क्योंकि वह अपने दूतों को तेरे निमित्त आज्ञा देगा कि जहाँ कही तू जाए वे तेरी रक्षा करें'' (भजनसंहिता 91:11)।

स्वर्गदूत हमारे साथ है! सुसमाचार प्रचार के लिये बाहर जाओ! मोल में जाओ! परिसर में (मैदान) में जाओ! रास्तों पर जाओ! सवर्गदूत हमारे साथ है! कुछ भी हमें रोक नहीं सकता! जाते रहो, फिर, और मसीह की आज्ञा मानो जिन्होंने कहा,

‘‘सडकों पर और बाडों की ओर जा और लोगों को विवष करके ले आ, ताकि मेरा घर भर जाए'' (लूका 14:23)।

बाहर जाओ और खोये हुओं को सुसमाचार प्रचार करो! कोई दुश्टात्मा आपको रोक नहीं सकती! ष्‍ौतान स्वयं भी आपको रोक नहीं सकते! कुछ भी आपको रोक नहीं सकता! स्वर्गदूत हमारे साथ है! जाओ और खोये हुओं को अंदर लाओ! कुछ भी आपको रोक नहीं सकता! स्वर्गदूत हमारे साथ है!

खडे रहो और आपके गीत के पर्चे का आखरी गीत ‘‘सुसमाचार प्रचार कर! सुसमाचार प्रचार कर! डो. ओस्वाल्ड जे. स्मीथ द्वारा, इसे गाइये!

हमें घंटे के लिये सांकेतिक षब्द दो,
   रोमांचकारी षब्द, षक्ति का षब्द,
युद्ध की पुकार, जलती सांसे,
   जो पुकारती है विजय या मृत्यु को।
षब्द कलीसिया को आराम से उठाने,
   स्वामी की मजबूत विनंती को ध्यान देने।
बुलावा दिया गया है, आप यजमान,
   उठो, हमारा सांकेतिक षब्द है,
सुसमाचार प्रचार कर!

आनंदित मसीही मत की धर्म शिक्षा
   अब घोशित करो, सारे संसार के द्वारा
यीषु के नाम में,
   यह षब्द बज रहा है आसमान से,
सुसमाचार प्रचार कर! सुसमाचार प्रचार कर!
   मरते हुए आदमी; गिरती हुई जाति को
सुसमाचार के अनुग्रह की भेंट को
   परिचित करता है, षब्द जो अंधेरे में है,
सुसमाचार प्रचार कर! सुसमाचार प्रचार कर!
(‘‘सुसमाचार प्रचार कर! सुसमाचार प्रचार कर!'' डो. ओस्वाल्ड जे. स्मीथ के द्वारा 1889-1986;
डो. हायर्मस, द्वारा ठीक किया हुआ, ‘‘एन्ड केन इट बी?'' चार्ल्स वेस्ली 1707-1788, द्वारा की तर्ज पर गाया हुआ)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन के पहले डो. क्रेगटन एल. चान द्वारा पढा हुआ पवित्रशास्त्र : लूका 2:8-16।
धार्मिक प्रवचन के पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘पवित्र, पवित्र, यही है जो स्वर्गदूत गाते है'' (जोनसन ओटमेन, जुनि. द्वारा, 1856-1922)।