Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




ये उन्हें छोडकर भाग गए

THEY FORSOOK HIM AND FLED

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजीलस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की शाम, 17 अप्रैल 2011 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles Lord’s Day Evening, April 17, 2011

‘‘परंतु यह सब इसलिये हुआ है कि भविष्यवक्ताओं के वचन पूरे हों। तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।


यीशु ने गतसमनी के बगीचे में अपनी अकेली प्रार्थना पूरी की। उन्हेांने सोये हुए चेलो को जगाया यह कहते हुए, ‘‘उठो, चलें : देखो, मेरा पकडवानेवाला निकट आ पहुँचा है'' (मती 26:46)। जैसे ही चेले अपने आपको उठा रहे थे, यहूदा आगे आया ‘‘प्रधान याजकों और लोगो के पुरनियों की ओर से बडी भीड, तलवारे और लाठियाँ लिये हुए आई'' (मती 26:47)। गतसमनी के गहरे अंधेरे में सारे चेले एक समान दिख रहे होंगे। यहूदा ने मंदिर के रखवालो से कहा, ‘‘जिसको मैं चुम लूँ, वही है, उसे पकड लेना'' (मती 26:48)। यहूदा ने यीशु को चूमा। ‘‘तब उन्होंने पास आकर यीशु पर हाथ डाले और उसे पकड लिया'' (मती 26:50)। तब शमौन पतरस ने तलवार, जो उसके पास थी, खींची और महायाजक के दास पर चलाकर, उसका दाहिना कान उडा दिया। उस दास का नाम मलखुस था'' (यूहन्ना 18:10)। यीशु ने ‘‘उसका कान छूकर उसे अच्छा किया'' (लूका 22:51)। फिर यीशु ने पतरस से कहा अपनी तलवार रखने को, और कहा, ‘‘क्या तू नहीं जानता कि मैं अपने पिता से विनती कर सकता हूँ और वह स्वर्गदूतों की बारह पलटन से अधिक मेरे पास अभी उपस्थित कर देगा। परंतु पवित्रशास्त्र की वे बातें कि एसा ही होना अवश्य है, कैसे पूरी होंगी?'' (मती 26:53-54)। फिर यीशु उन्हें पकडनेवालो की ओर फिरे और कहा, ‘‘क्या तुम तलवारें और (लाठियांॅ) लेकर मुझे डाकू के समान पकडने के लिये निकले हो? मैं हर दिन मंदिर में बैठकर उपदेश दिया करता था, और तुम ने मुझे नहीं पकडा'' (मती 26:55)। ये हमें हमारे पाठ तक ले आता है,

‘‘परंतु यह सब इसलिये हुआ है कि भविष्यवक्ताओं के वचन पूरे हों। तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।

यह घटना भविष्यवक्ताओं द्वारा सौ सालों से पहले बतायी गयी थी। डो. आर. सी. एच. लेन्सकीने कहा, ‘‘ये सारी चीजें एक ही कारण और अकेले के लिये हुई थी : ‘ताकि पवित्रशास्त्र के भविष्यवक्ता के अनुसार ... परिपूर्ण होनी चाहिये।' यहाँ पर सच्चा दबाव है काम पर जो इस रात होने वाला है : प्रभु अपने भविष्यवक्ता के विचार ले रहे है, यीशु इस प्रकार अपनी मरजी से अपने स्वयं को पकडनेवालो के हाथों में रखते है ... अब पद 26, परिपूर्ण हुआ था। जैसे यीशु ले जाये गये और सारे चेले भाग गये'' (आर.सी.एच. लेन्सकी, पीएच.डी., ध इन्टरप्रीटेशन अॉफ सेंट मेथ्युस गोसपल, अगसबर्ग प्रकाशन घर, 1964 की प्रत, पृष्ठ.1055; मती 26:56 पर टिप्पणी)।

‘‘परंतु यह सब इसलिये हुआ है कि भविष्यवक्ताओं के वचन पूरे हों। तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।

इस धार्मिक प्रवचन में, ये मेरा मकसद है, इस पदके भीतर में और थोडा गहरा जाये, चेलो का ‘‘उसे छोडकर भाग'' जाने के कुछ कारणो को जानने। डो. ज्योर्ज रीकर बेरी के अनुसार ग्रीक शब्द जो अनुवाद किया गया है ‘‘छोडकर'' ज्ञश्रट में इसका अर्थ है ‘‘त्याग देना'' (ए ग्रीक - इंग्लीश लेक्सीकन एन्ड न्यु टेस्टामेंट सीनोनिमस)। यहाँ पर कुछ कारण है कि चेलोने यीशु को क्यों छोडा, जैसे उन्होंने उनका त्याग किया और भाग गये।

प्ण् पहला, उन्होंने यीशु को छोडा और भाग गये भविष्यवक्ताओं के वचनों को पूरा करने।

हमारा पाठ कहता है, ‘‘परंतु यह सब इसलिये हुआ है कि भविष्यवक्ताओं के वचन पूरे हों... '' ये चेलो की उनको छोडने और भाग जाने की भविष्यवाणी का समावेश करता है। जकर्याह 13:6-7 कहता है,

‘तेरी छाती में ये घाव कैसे हुए? तब वह कहेगा ये वे ही हैं जो मेरे प्रेमियों के घर में मुझे लगे है ... चरवाहे को काट, तब भेड - बकरियाँ तितर - बितर हो जाएँगी'' (जकर्याह 13:6-7)।

डो. हेन्री एम. मोरीस ने उन शब्दों ‘‘चरवाहे को काट, तब भेड - बकरियाँ तितर - बितर हो जाएँगी के संदर्भ में कहा,

यह पद मती 26:31 और मरकुस 14:27 में कथन किया गया है स्वयं मसीह द्वारा। वे, अच्छे चरवाहे, अपना जीवन मेम्नो के लिये देंगे (यूहन्ना 10:11) परंतु इस संसार को बदलनेवाली घटना के घाव में, उनका मेम्ना कुछ क्षणों के लिये तितर - बितर किया जाये (हेन्री एम. मोरीस, पीएच.डी., ध डीफेन्डर्स स्टडी बाइबल, वर्ल्ड प्रकाशन, 1995 की प्रत, पृष्ठ. 993; जकर्याह 13:7 पर टिप्पणी)।

प्रभु यीशु मसीह स्वयं ने कहा की जकर्याह 13:7 ने चेलो का उनको छोडकर भाग जाने की भविष्यवाणी की थी। मती 26:31 में मसीह ने कहा,

‘‘तुम सब आज ही रात को मेरे विषय में ठोकर खाओगे : क्योंकि लिखा है, मैं चरवाहे को मारूंगा, और झुण्ड की भेडे तितर - बितर हो जाएँगी।'' (मती 26:31)।

फिर से, मरकुस 14:27 में,

‘‘यीशु ने उनसे कहा, तुम सब ठोकर खाओगे, क्योंकि लिखा है : मैं रखवाले को मारूंगा, और भेडे तितर - बितर हो जाएँगी।'' (मरकुस 14:27)।

इसलिये वहाँ कोई प्रश्न नहीं हो सकता कि चेले उनको छोडकर भाग गये वो जकर्याह की भविष्यवाणी की परिपूर्णता थी।

‘‘परंतु यह सब इसलिये हुआ है कि भविष्यवक्ताओं के वचन पूरे हों। तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।

प्प्ण्प् दूसरा, उन्होंने यीशु को छोडा और भाग गये क्योंकि वे गिरती हुई जाति के सदस्य थे।

मानवजाति गिरती हुई जाति है। हमें ये कभी भी नहीं भूलना चाहिये कि,

‘‘एक मनुष्य के द्वारा पाप जगत में आया और पाप के द्वारा मृत्यु आई, और इस रीति से मृत्यु सब मनुष्यों में फैल गई'' (रोमियों 5:12)।

इसलिये सारे लोग ‘‘अपराधो के कारण मरे हुए'' (इफिसियों 2:5)। इसीलिये सारे लोग ‘‘स्वभाव रही से क्रोध की सन्तान थे'' (इफिसियों 2:3)।

चेले भी दूसरे मनुष्यजाति से बहेतर नहीं थे। वे भी ‘‘स्वभाव ही से क्रोध की सन्तान थे''। वे भी, आदम की सन्तान थे। जैसे पुरानी न्यु इंग्लेंड चील्डरन्स किताब कहती है,

‘‘आदम की गिरावट में हम सभी ने पाप किये।''

इस प्रकार चेलो का दिमाग विषैली था जो ‘‘परमेश्वर से बैर'' (रोमियों 8:7) था। इस प्रकार उन्होंने हर समय सुसमाचार का अस्वीकार किया जब भी मसीह ने उनको दिया। डो. जे. वेरनॉन मेकगी ने कहा।

(मसीह) ने पांच बार दोहराया ये हकीकत की वे यरूशलेम जा रहे थे मरने के लिये (मती (16:21); 17:12; 17:22-23; 20:18-19; 20:28)। इस बलदायक सूचना के बावजूद भी, चेले (सुसमाचार) का अर्थ नहीं पकड सके उनके पुनरूत्थान के बाद तक (जे. वेरनॉन मेकगी, पीएच.डी., थ्रु ध बाइबल, थोमस नेल्सन प्रकाशन, 1983, भाग 4, पृष्ठ. 93; मती 16:21 पर टिप्पणी)।

क्यों चेले सुसमाचार का ‘‘अर्थ पकड नहीं'' सके? जवाब सरल है,

‘‘यदि हमारे सुसमाचार पर परदा पडा है, तो यह नष्ट होनेवालो ही के लिये पडा है'' (2 कुरिन्थियों 4:3)।

यूहन्ना 20:22 पर की टीप्पणी में, डो. मेकगी ने कहा कि चेले फिर से नहीं जन्मे थे (पुनःजीवित) जब तक उनका सामना पुनरूत्थान हुए मसीह से नहीं हुआ और उन्होंने उन पर सांॅस ली और कहा, ‘‘पवित्र आत्मा लो'' (जे वेरनॉन मेकगी, पीएच.डी. पइपक, पृष्ठ. 498; यूहन्ना 20:22 पर टिप्पणी)। इस विषय पर मेरे धार्मिक प्रवचन पढने के लिये यहाँ क्लिक करें ‘‘चेलो का डर'' ‘‘यह बात उनसे छिपी रही,'' ‘‘पतरस का परिवर्तन,'' ‘‘पतरस अपराधभाव के अधीन'' और यहूदा का झूठा पछतावा।'' ;ब्सपबा ीमतम जव तमंक उल ेमतउवदे वद जीपे ेनइरमबज दृ ष्ज्‍ीम थ्मंत वि जीम क्पेबपचसमेष् दृ ष्ज्‍ीपे ेंलपदह ूें भ्पक तिवउ जीमउष्ए ष्ज्‍ीम ब्वदअमतेपवद वि च्मजमतष्ए ष्च्मजमत नदकमत बवदअपबजपवदष्‍ ंदक ष्ज्‍ीम थ्‍ंसेम त्मचमदजंदबम वि श्रनकेंष्द्धण्(Click here to read my sermons on this subject – "The Fear of the Disciples" – "This saying was Hid from them", "The Conversion of Peter", "Peter under conviction" and "The False Repentance of Judas").

‘‘तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।

कोई शायद आपसे कहे कि मैं बहुत दूर चला गया हूँ यह कहते हुए कि चेले पुनःजीवित नहीं थे और अपरिवर्तित थे मसीह के पुनरूत्थान के बाद तक। अगर ये आपकी सोच है तो फिर चलीये इसकी पवित्रशास्त्र की रोशनी में प्रार्थनासहित चर्चा करें।

मैं बडी प्रशंसा करता हु माननीय इयान. एच. मुरेय की किताब, ध ओल्ड इवान्जेलीकलीझम (ध बेनर अॉफ ट्रुथ ट्रस्ट, 2005)। परिवर्तन पर सामान्यता से बोलते हुए, इयान. एच. मुरेय ने कहा, ‘‘वहाँ पर आज तात्कालिक जरूरत है परिवर्तन के बारे में सच्चाई कि पुनःप्राप्ति करने की। इस विषय पर बहुत फैली हुई विरूद्धता स्वस्थ हवा होगी हजारो कम चीजें उडाने के लिये'' (पृष्ठ. 68)। मुझे इस बारे में लिखिये। मुझे आपसे सुनना है और में व्यक्तिगतरूप से हर एक व्यक्ति को जवाब दूंगा!

‘‘तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।

प्प्प्ण् तीसरा, उन्होंने यीशु को छोडा और भागे क्योंकि उनके पास इससे पहले पापो के पुराने सुसमाचार प्रचार में अपराधभाव नहीं था।

उनको अपनी काबिलियत पर बहुत बडा विश्वास था। हम वो बार बार फिर से देखते है मसीह के मृत्यु से जिलाने के और उनके सामने प्रत्यक्ष होने से पहले। मिसाल के तौर पर, जब यीशु ने पतरस को कहा कि वो उस रात उसका अस्वीकार करेगा।

‘‘पतरस ने उससे कहा, यदि मुझे तेरे साथ मरना भी पडे तो भी मैं तुझसे कभी न मुकरूंगा। और ऐसा ही सब चेलों ने भी कहा'' (मती 26:35)।

डो. मार्टीन लोयड - जोनेस ने कहा,

वहाँ पर पापो की शिक्षा के बिना और पाप क्या है उसकी जानकारी के बिना सच्चा सुसमाचार प्रचार नहीं है ... सुसमाचार प्रचार प्रभु की पवित्रता से हो शुरू होना चाहिये, मनुष्य की पाप भरी और बुर और गलत कामों का अनंत परिणाम। ये सिर्फ मनुष्य ही है जो उसके अपराध इस तरह देखने लाया गया है, भाग के मसीह के पास आने, छुटकारे और मुक्ति के लिये (डी. मार्टीन लोयड - जोनेस, एम.डी., स्टडीस इन ध सरमन अॉन ध माउन्ट, इन्टर वॉसीटी, 1959, भाग 1, पृष्ठ. 235)।

मैं मानता हूँ कि चेले पापो के अपराधभाव के अधीन आये जब तक वे सब ‘‘उसे छोडकर भागे'' नहीं। जब चेलोने थोडे समय पहले कहा, ‘‘हम विश्वास करते है कि तू परमेश्वर की ओर से आया है,''

‘‘यीशु ने उनसे कहा, क्या तुम अब विश्वास करते हो? देखो, वह घडी आती है वरन् आ पहुँची है कि तुम तितर - बितर होकर अपना अपना मार्ग लोगे, और मुझे अकेला छोड दोगे...'' (यूहन्ना 16:30-32)।

मैं मानता हूँ कि पतरस का शोक और अपराधभाव, मसीह को अस्वीकार करने के बाद, दूसरे चेलो द्वारा महसूस किया गया था। ‘‘और पतरस बाहर निकलकर फूट - फूट कर रोया'' (लूका 22:62)। डो. डब्ल्यु. जी. टी. शेड् ने अपनी समालोचना दी, ‘‘पवित्र आत्मा आमतौर पर मनुष्य को पुनःजीवित नहीं करता जब तक वो मनुष्य अपराध प्रमाणित मनुष्य न हो'' (शेड् डोगमेटीक थीयोलोजी, भाग 2, पृष्ठ 514)।

अब, समाप्ति में, मैं पीछे जाऊँगा और आप में से उन लोगो को यह लागू करूंगा जो अब तक अपरिवर्तित है। क्या आपने ये महसूस किया है कि आप नष्ट पापी हो, कि आपका अपना मन ‘‘धोका देनेवाली ... और असाध्य रोग लगा है?'' (यिर्मयाह 17:9)। क्या आपने महसूस किया है, ‘‘मैं कैसा अभागा मनुष्य हूँ। मुझे इस मृत्यु की देह से कौन छुडाएगा?'' (रोमियों 7:28)। क्या आपने अपने आपका विश्वास खो दिया है? जैसे डो. लोयड - जोनेस ने कहा, ‘‘ये सिर्फ मनुष्य है जो इस तरह अपने अपराधभाव देखने लाया गया है, जो छुटकारें और मुक्ति के लिये मसीह की और भागते है'' (पइपक)। महेरबानी करके खडे रहीये और अपने गीत के पर्चे का 8 वा गीत गाइये।

यीशु के नाम में, एक मिलन के साथ,
   पवित्र गीत को उठाओ,
और कितना आरोग्यकर प्रवाह,
   उन्होंने बहाया हर लहू भरे अंग से।

ओह, कौन कह सकता है दुःख जो उन्होंने उठाये,
   जब वो शुध्ध लहू बहाया गया था,
कितनी पीडा, उनकी तडपायी गई छाती फटी,
   जब वे हमारे अपराधों से लादे गये?

वो अपमानजनक धिक्कार की आवाज नहीं थी
   उनके मन में गहराई से ही हुई थी
छेदे हुए नाखून, कांटो का नूकीला ताज,
   दुःख का कारण नहीं था।

परंतु हर परिश्रम की आह ने धोखा दिया
   भारी निःश्वास उनके भीतर
कैसे उनकी बोझवाली आत्मा
   मनुष्य के पापो के बोझ से लादी गई थी।

जो नीचे आया था सहन करने,
   हमारे पापो का क्रूर बोझा,
हमें आपकी धार्मिकता दीजीये,
   और हमें हमारे प्रभु की ओर ले जाइये।
(‘‘प्रभु ने उन पर बोझ लादा'' विलीयम हेयली बाथरस्ट द्वारा, 1796 - 1877;
    ‘‘अद्भूत अनुग्रह'' की तर्ज पर)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन के पहले डो. क्रेगटन् एल. चान द्वारा पढा हुआ पवित्रशास्त्र : मती 24:47-56।
धार्मिक प्रवचन के पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘अकेले'' (बेन. एच. प्राइस द्वारा, 1914)।


रूपरेखा

वे उन्हें छोडकर भाग गए

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा

‘‘परंतु यह सब इसलिये हुआ है कि भविष्यवक्ताओं के वचन पूरे हों। तब सब चेले उसे छोडकर भाग गए'' (मती 26:56)।

(मती 26:46, 47, 48, 50; यूहन्ना 18:10; लूका 22:51; मती 26:53-54, 55)

प्ण् पहला, उन्होंने यीशु को छोडा और भाग गये भविष्यवक्ताओं के
वचनों को पूरा करने। जकर्याह 13:6-7; मती 26:31; मरकुस 14:27।

प्प्ण् दूसरा, उन्होंने यीशु को छोडा और भाग गये क्योंकि वे गिरती
हुई जाति के सदस्य थे। रोमियों 5:12; इफिसियों 2:5,3; रोमियों 8:7;
2 कुरिन्थियों 4:3।

प्प्प्ण् तीसरा, उन्होंने यीशु को छोडा और भागे क्योंकि उनके पास इससे
पहले पापो के पुराने सुसमाचार प्रचार में अपराधभाव नहीं था।
मती 26:35; यूहन्ना 16:30-32; लूका 22:62; यिर्मयाह 17:9;
रोमियों 7:24।