Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




आत्मा जीतनेवाले का पारितोषिक

THE SOUL WINNER’S REWARD

डो. आर. एल. हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजीलस के बप्‍तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की शाम, 30 जनवरी, 2011 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, January 30, 2011

‘‘और जो भूमि के नीचे सोए रहेंगे उन में से बहुत से जाग उठेंगे, कितने तो सदा के जीवन के लिये और कितने अपनी नामधराई और सदा तक अत्यंत घिनौने ठहरने के लिये। तब सिखानेालों की चमक आकाशमण्डल की सी होगी और बहुतों को धर्मी बनाते है, वे सर्वदा तारों के समान प्रकाशमान रहेंगे'' (दानिय्येल 12:2-3)।


ये विषय बात करता है आनेवाले दो पुनरूत्थान के बारे में। सच्चा मसीही मोहावस्था में उठाये जायेंगे ‘‘सदा के जीवन के लिये'' (दानिय्येल 12:2अ) प्रेरितों पौलुस उस बारे में स्पष्टता से बोले जब उन्होंने कहाँ,

‘‘क्योंकि प्रभु आप ही स्वर्ग से उतरेगा; उस समय ललकार, और प्रधान दूत का शब्द सुनाई देगा, और परमेश्वर की तूरही फूँकी जाएगी; और जो मसीह में मरे है, वे पहले जी उठेंगे। तब हम जो जीवित और बचे रहेंगे उनके साथ बादलों पर उठा लिये जाएँगे कि हवा में प्रभु से मिले; और इस रीति से हम सदा प्रभु के साथ रहेंगे'' (1 थिस्सलुनीकियों 4:16-17)।

फिर वहाँ दूसरा पुनरूत्थान है, उनके लिये जो मसीही नहीं है, जो मृत्यु से उठाये जायेंगे ‘‘नामधराई और सदा तक अत्यंत घिनौने ठहरने'' (दानिय्येल 12:2ब) के लिये। यह शापित पुनरूत्थान है बिना बचाये मरे हुओं के आखरी दण्ड में। प्रेरितों यूहन्ना इस बारे में बोले जब उन्होंने कहाँ,

‘‘फिर मैं ने छोटे बडे, सब मरें हुओं को सिंहासन के सामने खडे हुए देखा, और पुस्तकें खोली गई; और फिर एक और पुस्तक खोली गई, अर्थात जीवन की पुस्तक; और जैसा उन पुस्तकों में लिखा हुआ था, वैसे ही उनके कामों के अनुसान मरे हुओं का न्याय किया गया। समुद्र ने उन मरे हुओं को जो उसमें थे दे दिया, और मृत्यु और अधोलोकने उन मरे हुओं को जो उनमें थे दे दिया; और उन में से हर एक के कामों के अनुसार उनका न्याय किया गया। मृत्यु और अधोलोक आग की झील में डाले गये। यह आग की झील दूसरी मृत्यु है; और जिस किसी का नाम जीवन की पुस्तक में लिखा हुआ न मिला, वह आग की झील में डाला गया'' (प्रकाशितवाक्य 20:12-15)।

वे जो आखरी दण्ड के वक्त पुनरूत्थान से उठाये गये जैसे दानिय्येल ने कहॉ, ‘‘नामधराई और सदा तक अत्यंत घिनौने ठहरने'' अधोलोक में।

परंतु फिर दानिय्येल 12:3 में हमें कहा गया की वहाँ पर फर्क होगा उन मसीहीयों में जिसने उत्साह से आत्मा को जीता और जिन्होंने नहीं जीता,

‘‘तब सिखानेवालो की चमक आकाशमण्डल की सी होगी और जो बहुतों को धर्मी बनाते है वे सर्वदा तारों के समान प्रकाशमान रहेंगे'' (दानिय्येल 12:3)।

इस पद के लिये, डो. जोन. आर. राईस ने कहाँ,

(पहले) पुनरूत्थान में कयी पहले, आखरी होंगे और कयी आखरी पहले होंगे जैसे यीशु ने कहॉ। वहाँ पर बडा सा फर्क होगा मानवीय मूल्यांकन और फिर मूल्य में। और कौन पहला होगा? वे जो अब शायद आखरी गीने जाते हो, परंतु स्वर्ग की अनंत भव्यता में पहले गीने जाओं? दानिय्येल 12:3 हमें इन शब्दों में कहता है ... ‘‘और तब सिखानेवालो की चमक आकाशमण्डल की सी होगी, और जो बहुतों को धर्मी बनाते है, वे सर्वदा तारों के समान प्रकाशमान रहेंगे।''
     ओह, आत्मा जीतने की समज! जो व्यक्ति लंबी नजर करना चाहती है और यीशु के लीये मुख्य काम अब करें वो एक दिन अपने आपको मशहूर पायेगा। एक दिन वो ‘‘उठाया हुआ और चमकेगा!'' कयी सामान्य और अभी अन्जान आदमी और औरत उस दिन में ‘‘चमक आकाशमण्डल की सी होगी।'' और वो आत्मा जीतनेवाले जो धर्मी बनते है वे ‘‘सर्वदा तारो के समान प्रकाशमान रहेंगे,'' परमेश्वर के पवित्र वचन कहते है!

     अच्छा हो की हम अपनी सोच पृथ्वी के अलावा दूसरे अर्थतंत्र में भी ठीक करें! अच्छा हो की हम अपना मन उस पर लगाये जो आसानी से नहीं गुजरती ...
     मुझे कोई ताजुब्ब नहीं हुआ की नीतिवचन 11:30 कहता है, ‘‘बुध्धिमान मनुष्य लोगो के मन को मोह लेता है।'' हाँ, आत्मा को जीतनेवाला अच्छा है अनंत इच्छा, दीर्घ द्रष्टि के लिये (आगे भविष्य को देखते हुअें)! कितनी मूर्खता है हमारा समय और, काम और, शक्ति बर्बाद करना उन चीजों पर जो जल्दी ही चली जायेगी कायमी पारितोषिक के बीना ... आदमी जो देखता है (आत्मा को जीतने) वो आनेवाले संसार में महान होगा! (जोन. आर. राईस, डी.डी., ध गोल्डन पाथ टु सकसेसफुल पर्सनल सोल वीनींग, स्वार्ड अॉफ ध लोर्ड प्रकाशन, 1961, पृपृष्ठ. 302-303)।

फिर से, डो. राईस ने कहा,

यूहन्ना 3:36, यूहन्ना 5:24 और बहुत से दूसरे पवित्र शास्त्रो के अनुसार जो मसीह में विश्वास करता है वो अनंत जीवन पा चूका है। परंतु स्वर्ग में हमारे कामो के मुताबिक इनाम में फर्क आता है। ओह, प्रभु हमें अनुग्रह देंगे अनंत इनाम जीतने के लिये जो आत्मा को जीतने तक जायेगा! ‘‘तब सिखानेवालो की चमक आकाशमण्डल की सी होगी और जो बहुतों को धर्मी बनाते है वे सर्वदा तारो के समान प्रकाशमान रहेंगे'' (डो. राईस, पइपकण्, पृष्ठ. 305)।

डो. हेन्री सी. थाइसेन, धर्मोपदेशक ने डो. राईस की तरह ही कहाँ,

परमेश्वर ने अपने लोगो को स्वर्ग में खजाना इकट्ठा करने का मौका दिया है ... (मती 6:20) ... जैसे दूसरो के आत्मा के लिये जिम्मेदार, विश्वासु पुरस्कृत किया जाएगा जैसे उसमें कितनों को धर्मी बनाया। ‘‘जो बहुतों को धर्मी बनाते है, वे सर्वदा तारों के समान प्रकाशमान रहेंगे, (दानिय्येल 12:3) (हेन्री सी. थाईसेन, पीएच.डी., इन्ट्रोडक्टरी लेकर्चस इन सीस्टमेटीक थीयोलोजी, एडरमान्स प्रकाशन कुा, 1949 की प्रत, पृपृष्ठ. 456-457)।

डो. राईस ने अच्छा कहाँ उनके एक खूबसूरत गीत में,

कीतना कम समय! फसल की कटाई खत्म होगी।
   हमारी कटाई की गई, कटे हुअे हम घर लाए गये।
फसल की कटाई के प्रभु, यीशु को हमारा काम बताया जाये,
   और आशा रखते है की वे मुस्कुरायेंगे और,
वे कहेंगे की, ‘‘अच्छा काम कीया''।
   आज हम कटेंगे, या सुनहरी फसल की कटाई खो देंगे!
आज हमें खोये हुअे आत्मा को जीतने का मौका दिया गया है,
   ओह फिर हम कुछ बचायेंगे (प्यारो) को जलने से,
आज हम जायेंगे और कुछ पापीयों को अंदर लायेंगे।
   (‘‘कीतना कम समय'' डो. जोन. आर. राईस के द्वारा, 1895 - 1980;
      समूह गान याजक द्वारा परिवर्तित कीया हुआ।)

याजक विलीयम वुर्मब्रान्ड, ‘‘ध वोईस ओफ ध मार्टीयर'' के प्रणेता, ने हमे स्वर्ग में शायद क्या होगा जिस में धरती पर अपनी मसीही जीवन पर उत्साह से इनाम नहीं पाया है, अपने आत्मा को जीतने और मसीह के दूसरे कामो में उसका द्रष्टांत दीया। टोम वाईट, अभी के वर्तमान वरीष्ठ ‘‘वोइस अॉफ ध मार्टीयर'' के धार्मिक प्रवचन जो उन्होंने एक बार सूना था याजक वुम्रब्रान्ड द्वारा, उसकी सविस्तार व्याख्या देते हुए,

... उन्होंने कहा, शायद जब हमें उपर स्वर्ग में ले जाया जाये और यीशु हमें द्वार से ले जाये वे रूकेंगे और हमें चमकते, खूबसूरत आत्मा से मिलायेंगे जो बडा सन्मान पाता है। हम उत्त्ोजना से यीशु को पूछते है, ‘‘वो आदमी कौन है? (वो है) निसंदेह अदभूत। (उन्होंने) क्या किया उनके जीवन के साथ?'' फिर यीशु हमारी ओर फिरेंगे अपनी आखों से आसुँ के साथ और धीरे से कहेंगे... ‘‘ये आप भी हो सकते थे'' (ध वोईस अॉफ ध मार्टीयरस पुस्तिका, फरवरी, 2011, पृष्ठ. 2)।

टोम वाईट ने कहाँ,

मैं ... केन्द्रीय वियेतनाम से एक चीनी लडकी को मिला था जो 14 वर्ष की उम्र में जेल में गयी थी। उसका जुर्म था उसके गाँव के बच्चों को यीशु के बारे में पढाना। इस युवा औरतने वो नहीं खोया जो वो हो सकती थी। 14 वर्ष की उम्र में, उसने यीशु को जेल में भी बताया और सात वर्षाें के बाद भी उसकी गवाही जारी थीं। यही सच है गाओं फेन्ग के तीन साल के कारावास से लौटने के बाद; उसके मित्रोने उसके ‘‘खोये समय'' के लिये विलाप किया। गाओ ने जवाब दिया, ‘‘मै तीन साल तक जेल में जाकर यीशु के लीये कुछ करना पसंद करूंगा बजाय घर पर बैठकर उनके लिये कुछ नहीं करने के'' ... सरल रास्तों पर संतोष (प्राप्त) मत किजीये ... किसी तक नहीं पहुँचने क्योंकि आप आराम ‘‘चाहते'' हो ...
     रीचर्ड वुर्मब्रान्ड के मरने से 10 साल पहले, उन्होंने हमें एक ललकार में छोडा ... ये सरल से दो शब्द थे : ‘‘आक्रमक बनीये''। (टव्डए पइपकण्)।

यही तो है जो हमें चाहिये! ‘‘आक्रमक बनीये!'' हमारे साथ बाहर जाईये हर शनिवार शाम को इस शहर को धर्मोपदेश देने! ‘‘आक्रमक बनीये!'' उस चीनी लडकी की तरह बनीये जो मसीह के लीये आत्मा को जीतना चाहती थी! गाओ फेन्ग की तरह बनीये जो तीन साल चीनी जेल में बिताना पसंद करेंगे बजाय आत्मा को जीतना बंद करने के। ‘‘आर्कमक बनीये!'' स्वर्ग मे अपने लिये ये नहीं कहने दीजीये, ‘‘यही है जो आपने किया होता!''

पाकिस्तान में ये मुस्लीम कायदे के विरूद्ध है मसीह को गवाही देना और उन्हें आत्मा से जीतना। ‘‘वोईस अॉफ मार्टीयर'' बताता है कि एशिया बीबी मुस्लीम सहकार्य करनेवालो द्वारा तिरस्कृत की गयी थी। मसीही बनने के कारण। उन्होंने उसे कहाँ की वो मोहम्मद को माने। उसने आखिरकार उनसे कहाँ,

हमारे मसीह ने हमारे पापों के लिये उनका जीवन क्रूस पर बलिदान दिया। आपके भविष्यवेताने आपके लीये क्या किया? हमारे मसीह जीवीत है। आपके भविष्यवेता मृत है (टव्ड, पइपकण्, पृष्ठ. 8)

एशिया बीबी पाकिस्तान के क्रूर इश्वरीय निन्दा के कायदे से अपराधी ठहराई गई थी, जिससे वो कारावास में डाली गई सिर्फ मोहम्मद के लिये उस तरह बोलने के लिये। 30 से ज्यादा अदालती सुनवाई के बाद एशिया को नवंबर 2010 में मृत्यु की सजा सुनाई गई। मुस्लीम नेता कारी सलीम ने सीएनएन से कहाँ की जब उन्होंने उसकी मृत्यु की सजा के बारे में सूना, ‘‘मेरी आखों से आनंद के आँसु नीकले!'' उनको शर्म आनी चाहिये! आदमी अपने मनमें ऐसी पापभरी क्रूरता के लिये मसीह द्वारा जरूर माफ किये जाने चाहिये! एशिया को मृत्यु की सजा दी गई थी मसीह को गवाही देने के लिये। आज की तारीख में वो अभी तक दण्डीत नहीं हुई है, क्योंकि ज्यादातर उसके किस्से ने विश्वभर का ध्यान अपनी और केन्द्रित किया है, हजारो संसार भर के लोग (पोप को भी मिलाकर) पाकिस्तान सरकार को उसकी रिहाई की अरज करते है। एशिया बीबीने अपने जेल के कारागृह से कहाँ, ‘‘यीशु मेरा विश्वास है। वे मेरे साथ है'' (टव्डए पइपकण्)। आप उसके बारे में और दूसरो के बारे में पढ सकते हो जिन्होनें आत्मा को जितने की कोशिश में सताया गया हो ण्चमतेमबनजपवदण्बवउढध्नझ पर।ढध्चझ ढच बसेंेत्रष्चंतंऋपदकमदजष्झउस लडकी की तरह बनीये! जैसे याजक वुर्म्रब्रान्ड ने कहाँ, ‘‘आक्रमक बनीये।'' जैसे डो. राईसने कहॉ, ‘‘आत्मा जीतनेवाला अच्छा होता है दीर्घ दृष्टि की इच्छा से ... (लोग) जो (आत्मा जीतना) चाहते है वे (लोग) है जो आनेवाले संसार में बडा होगा।'' जैसे टोम वाइट ने कहॉ, ‘‘सरल रास्ता (पाकर) संतुष्ठ मत होईये ... किसी तक नहीं पहुँचना क्योंकि आप आराम ‘चाहते' हो।'' ‘‘आक्रमक बनीये।'' हर शनिवार रात 6.00 बजे हमारे साथ रहीये क्योंकि हम बाहर रास्तों पर, महाविद्यालय और मोल में जाते है खोये हुओं को धर्मोपदेश देकर उनको सुसमाचार प्रवचन सूनने कलीसिया में लाया जाये! अगले शनिवार और हर शनिवार हमारे साथ कलीसिया में आईये धर्मोपदेश के लिये।

महेरबानी करके खडे रहीये और अपने गीत के पर्चे का आखरी गीत गाईये, श्रेष्ठ धर्मप्रचारक याजक, डो. ओसवार्ल्ड, जे. स्मीथ द्वारा।

हमें घंटे के लिये सांकेतिक शब्द दीजीये,
   रोमांचकारी वचन, शक्तिशाली वचन,
युद्ध पुकारता है, जलती हुई सांसे जो बुलाती है जीतने या मरने।
   एक वचन कलीसिया को आराम से उठाने,
मास्टर की मजबूत अरज को ध्यान रखने को।
   बुलावा दिया गया है, हे यजमान, उठो,
हमारा सांकेतिक शब्रद है, सुसमाचार प्रचार!

खुश सुसमाचार प्रचारक अब घोषणा करते है,
   पूरे संसार के द्वारा, यीशु के नाम में;
वचन आसमान में गुंज रहा है; सुसमाचार प्रचार! सुसमाचार प्रचार!
   मरते हुए आदमीयों को, गीरती हुई जाति को,
सुसमाचार के अनुग्रह की भेंट बताईयें;
   संसार जो अभी अंधेरे में है, सुसमाचार प्रचार! सुसमाचार प्रचार!
(‘‘सुसमाचार प्रचार! सुसमाचार प्रचार!''
   ओसवाल्ड जे. स्मीथ, द्वारा वचन, 1889 - 1986;
    ‘‘एन्ड केन इट बी?'' की तर्ज पर, चार्ल्स वेस्ली, 1770-1788 द्वारा)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन के पहले डो. क्रेगटन् एल. चान द्वारा पढा हुआ पवित्र शास्त्र : मती 6:19-21।
धार्मिक प्रवचन के पहले श्रीमान बेन्जामिन किनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘कितना कम समय'' (डो. जोन. आर. राइस, द्वारा 1895-1980)।