Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




सच्चा माँस! सच्ची हड्डीयाँ! सच्चा लहू! - भाग 2

REAL FLESH! REAL BONES! REAL BLOOD! – PART II

डो. आर. एल हायर्मस, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल मे प्रभु के दिन की सुबह,
जून 20, 2010 को दिया गया धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Morning, June 20, 2010

“मेरे हाथ और मेरे पाँव को देखो कि मैं वही हूँ : मुझे छुकर देखो, क्योंकि आत्मा के हड्डी माँस नहीं होता, जैसा मुझ में देखते हो” (लूका 24:39)।


इस धार्मिक प्रवचन के भाग 1 के संदर्भ में, किसीने मुझे ई-मेल लिखा। उसने कहाँ, “ये साबित करना क्यूँ महत्वपूर्ण है यीशु के शरीर में थोडा लहू था जब वे मरे? ऐसे भी 20% लहू जीवित रहने के लिये काफी नही है, तो पुनरूत्थान के समय उन्हे पूरा 100% लहू मिला, या 95%, या 80% ये फिर भी प्रभु का चमत्कार है।” मुझे इसका जवाब देने दिजिये, क्योंकि इस समय ख्रिस्ती के इतिहास में ये एक पेचीदा सवाल है। लुथर ने कहाँ,

अगर मैं धर्म में अपना विश्वास ऊँची आवाज और स्पष्ट प्रदर्शन के साथ प्रभु के वचन के हर भाग को सिवाय कुछ खास के की छोटा मुदा जो दुनिया और दानव ये समय पर आक्रमण कर रहे है, मैं यीशु के पास अपने पापो का स्वीकार नहीं कर रहा हूँ, चाहे कितनी भी हिमंत से शायद मैं उन्हे विश्वास दिलाता हूँ। जहाँ पर लडाई बहुत आक्रमक होती है वहाँ सैनिक अपनी वफादारी का सबूत देते है; और पूरी लडाई में बिना रूके आगे बढ़ते है, वे शायद भाग जाये और दूसरो का अपमान करे अगर वो इस मुदे पर दर्द महेसूस करता है (मार्टीन लुथर, लुथरके कार्य, वेईमार एडीसन, ब्रीफवेसेल (कोरसपोन्डेन्स), भाग 3, पृपृष्ठ.81एफ एफ)।

ये साबित करना क्यों महत्वपूर्ण है कि “छोटा मुदा” (लुथर) की यीशु के देह में थोडा लहू था?

।. पहला, मैं मानता हूँ कीये महत्वपूर्ण है क्योंकि ये बताता है की यीशु का पुनरूत्थान वाला देह सच्चे माँस और हड्डीयों का देह था, ना की “आत्मा” या “राक्षस”।

रहस्यमय विचार के उनकी आत्मा मृत्यु से उठी, परन्तु उनका शारिरिक देह नहीं। डो. आर. ए. टोरेयन ये सुधारा जब उन्होंने कहाँ,

यीशु मसीह का मृत्युसे पुनरूत्थान ख्रिस्ती मान्यताओ के लिये नींव का पथ्थर है। नयी नियमावली में यह सीधे सीधे बताया गया है एक से चार या उससे ज्यादा बार... यीशु का पुनरूत्थान सुसमाचार के धार्मिक मान्यता के दो कायदे में से एक है, दूसरा है उनकी मृत्यु (1 कुरिन्थिये 15:1,3,4)... बिना पुनरूत्थान के यीशु की मृत्यु सिर्फ अच्छे शहीद की बलवान मृत्यु थी। पुनरूत्थान के साथ, ये मांगी हुई मृत्यु थी प्रभु के पुत्र की... यीशु मसीह का शारिरिक पुनरूत्थान सीधे सीधे ख्रिस्ती मान्यताओ की नींव है (आर. ए. टोरेय, डी. डी., “यीशु मसीह की मृत्यु से शारिरिक पुनरूत्थान की निश्चींत्ता और महत्व,” घ फन्डामेन्टलस, टेस्टीमनी पबलिसींग कम्पनी, एन. डी., भाग V, पृपृष्ठ. 81-82)।

मैं मानता हुँ, जब से यीशु के माँस और हड्डीयाँ हकीकत में, भौतिक रूप से मृत्यु से उठे, की कुछ लहू उनके माँस (sarx) और हड्डीयों (osteon) में जमा हुआ होगा। इस मुदे पर मैं बेन्जल से सहमत नहीं हूँ जिसने सोचा की उन्हे लहू का मिला हर दाग उनके मृत्यु के समय शरीर से नीकला हुआ था, और मैं डो. नोरमन गेइस्लर से सहमत हूँ की 1 कुरिन्थिश्यो 15:50 का गलत भाषांतर (“माँस और लहू परमेश्वर के राज्य के अधिकारी नहीं हो सकते”) “ने नये नियमावली के धार्मिक पाठशाला में पीछले साठ वर्षो से आजतक हानिकारक भाग अदा किया है” (देखिये नोरमन एल. गेइस्लर, पीएच. डी., पुनरूत्थान के लिये लडाई, वीप्फ अेन्ड स्टोक प्रकाशक, 1992, पृष्ठ. 123 - देखिये पृ.पृ.122-129)। डो. गेइस्लर ने कहाँ,

वहाँ पर कोई वैज्ञानिक, बाइबल का, या ख्रिस्ती धर्म का कारण नही है ये ऐतिहासिक ख्रिस्ती धार्मिक मंतव्य को छोड़ने का की यीशु मृत्यु से वो ही शाश्वत, देखिने वाले, भौतिक शरीर से उठे जो उनकी मृत्यु से पहले था (गेइस्लर, ibid., पृष्ठ.127)।

“मेरे हाथ और मेरे पाँव को देखो कि मैं वही हूँ : मुझे छुकर देखो, क्योंकि आत्मा के हड्डी माँस नहीं होता, जैसा मुझ में देखते हो” (लूका 24:39)।

ये सच है, जब वे मृत्यु से उठे और उपर फिर से स्वर्ग में गये तब उनके देह में जरूर से थोडा लहू रहा होगा,

“और उन्हें आशीष देने हुए, वह उनसे अलग हो गया, और स्वर्ग पर उठा लिया गया” (लूका 24:51)।

॥. दूसरा, मैं मानता हुँ की ये महत्वपूर्ण है क्योंकि आधुनिक बुध्धिशाली लोगोने कहाँ की यीशु का माँस मृत्यु से नहीं उठा और फिर से स्वर्ग में गया।

यीशु का पुनरूत्थान हुआ माँस (sarx) और हड्डीयों (osteon) चिकित्सक तरीके से मांगता है की उनकी माँस और हड्डीयों मे थोडा लहू बचा था। फिर भी मुक्तता का नीयो - रहस्यमय यीशु के पुनरूत्थान भौतिक देह का अस्वीकार करते है। मिशाल के तौर पे, मशहूर धर्मात्मा हेरी एमरसन फोस्डीक ने कहाँ, “मैं आत्मा की अमरता में मानता हुँ परन्तु माँस के पुनरूत्थान में नहीं” (हेरी एमरसन फोस्डीक, डी. डी., बाइबल का आधुनिक उपयोग, मेकमिलान, 1924, पृष्ठ. 129)। धर्मात्मा विध्वान एमील ब्रुनेर ने अंशतह ये ही बात कही,

माँस का पुनरूत्थान, नहीं! “देह का पुनरूत्थान” का ये मतलब नहीं है... माँस का शरीर (देखिये गेइस्लर, ibid., पृष्ठ. 89)।

रूडोल्फ बल्टमेन आगे बढ़ते है, यीशु के भौतिक, दैहिक पुनरूत्थान को एक “अंधश्रध्धा” कहते है (गेइस्लर, ibid., पृष्ठ. 90)। फूलर धार्मिक पाठशाला के, ज्योर्ज एल्डन लाड, ने कहाँ की उनका पुनरूत्थान “लाश का भौतिक जीवन में वापस आने का पुनःजन्म (पुनरूत्थान) नहीं था” (ज्योर्ज एल्डन लाड, मैं यीशु के पुनरूत्थान मे मानता हूँ, एरडमान्स, 1975, पृष्ठ.74)। ई. ग्लेन हीन्सन, दक्षिण बप्तीस के विद्वान धर्मात्मा, ने कहाँ, “मृत्यु से उठे यीशु को भौतिक नहीं परन्तु आत्मीक देह है” (हमारे पिताओं का विश्वास : यीशु मसीह, मेकग्राथ, 1977, पृष्ठ. 111)। अलबत ये सारे धर्मात्मा के संबोधन हमारे प्रभु यीशु मसीह के वचन के विरूध्ध है,

“मेरे हाथ और मेरे पाँव को देखो कि मैं वही हूँ : मुझे छुकर देखो, क्योंकि आत्मा के हड्डी माँस नहीं होता, जैसा मुझ में देखते हो” (लूका 24:39)।

जब डो. गेइस्लरने यीशु के भौतिक और दैहिक पुनरूत्थान का बचाव किया, एक सुसमाचार प्रचार के आगेवान ने कहाँ, “आप मानसिक रूप से बिमार हो।” और कलीसिया के शाखा के एक आगेवानने कहाँ, “गेइस्लर चूहा है” (नोरमन एल. गेइस्लर, पीएच. डी., पुनरूत्थान का बचाव, क्वेस्ट प्रकाशन, 1991, पृष्ठ. 110)। इन सब के बावजूद भी डो. गेइस्लर यीशु ने जो कहाँ उसका ओर दो हजार साल से पूराने ख्यालातवाले ख्रिस्ती जो मानते थे उसका बचाव किया,

“मेरे हाथ और मेरे पाँव को देखो कि मैं वही हूँ : मुझे छुकर देखो, क्योंकि आत्मा के हड्डी माँस नहीं होता, जैसा मुझ में देखते हो” (लूका 24:39)।

“और उन्हे आशीष देते हुए, वह उनसे अलग हो गया, और स्वर्ग पर उठा लिया गया” (लूका 24:51)।

मैं मान चूका हूँ की डेवीड हुम (1711-1776) का धार्मिक मान्यता के मंतव्य के पीछे आधुनिक दावा सीधा यीशु के माँस के पुनरूत्थान पर है। हुम ने सिखाया की “बाइबल में कोई चमत्कार मानने के लिये समर्थ नहीं है, यीशु के दैहिक पुनरूत्थान को मिलाकर (क्योंकि) ठ़ोस सबुत अपने ज्ञान का, की जो लोग मरते है वो कभी मृत्यु से फिर से नहीं उठते” (गेइस्लर, पुनरूत्थान के लिये लडाई, ibid., पृष्ठ. 68)। वही है, की अगर आप ये देख नहीं सकते, ये हकीकत के राज्य में नामुमकिन है, और जरूर नीचे अंधश्रध्धा के राज्य में। परन्तु हम कहते है की बाइबल, इंसान का तर्फ नही, प्रभु के सचकी आश्चर्यजनक चीज है। इसलिये हम शब्दो का अच्छी तरह से प्रयोग करके प्रभु यीशु के वचनो को स्वीकार सकते है,

“मेरे हाथ और मेरे पाँव को देखो कि मैं वही हूँ : मुझे छुकर देखो, क्योंकि आत्मा के हड्डी माँस नहीं होता, जैसा मुझ में देखते हो” (लूका 24:39)।

ये कहना महत्वपूर्ण है की यीशु के “माँस और हड्डीयों” में थोडा लहू (अंदाज से 20%) था क्योंकि उनकी देह पवित्र वाक्या के मुताबिक शाब्दिक और भौतिक तरीके से मृत्यु से उठा - और शाब्दिक, भौतिक देह, मृत्यु के समय, हमेशा थोडा लहू उनका पेशींयो और हड्डी के अंदर के तत्व में होता है।

॥।. तीसरा, मैं मानता हूँ की ये महत्वपूर्ण है क्योंकि बुध्धिवाद ये अस्वीकार करना है कि यीशु का कोई भी लहू स्वर्ग में है।

यीशु के बाइबल में और ऐतिहासिक माँस (sarx) के पुनरूत्थान का बचाव करने समय हमने ये जाना की वहाँ पर स्वर्ग में, लहू नही है ये मंतव्य सीधे सीधे और दूसरे तरह से बुध्धिवादी डेवीड हुमे के मंतव्य से आता है, नहीं की पवित्र वाक्या से। धर्मात्मा हेरी एमरसन फोस्डीक के कथन में बुध्धिवाद पर ध्यान दिजीये,

यीशु का लहू ले जाया गया (था) प्राचीन तर्क से...और अभी भी अर्धचमत्कारीक तर्क जो लहू की ताकत से संबधित है वो कुछ ख्रिस्ती गीतो मे बुना गया है (हेरी एमरसन फोस्डीक, डी. डी., बाईबल को समझने के लिये गाइड, र्हापर, 1938, पृष्ठ.230)।

ध्यान दिजीये फोस्डीक का बुध्धिवाद कीतने करीब से प्रतिबिंबित किया गया है डो. जोन मेकआर्थर के शब्दो में,

लहू के बारे में आँसुवाली आखें करना और रहस्यमय बनना कोई अकलमंदी वाली बात नहीं हैै! हम गीत गाते है, “वहाँ पर लहू की ताकत है,” आदि। हमे लहू के साथ पहले से वशमे नहीं आना है। वहाँ पर खूद लहू मे कोई बचाव नहीं है! हम यह नहीं कह सकते की यीशु का वोही लहू है जो पापो के लिये कुछ अच्छा है। इसलिये हमे उस कल्पनाशक्ति के बारे में जो रहस्यमय लहू के बारे में जो यहीं कही बह रहा है, उसके लिये पहले से वश में नहीं आना है (डो. मेकआर्थर के धार्मिक प्रवचन जो रेकार्ड किया गया वो डो. डी. ए. वेइट से bft@biblefortoday.org. से हाजिर है)

इसलिये बदलाव के विरूध्ध के बाइबाल शिक्षक जैसे डो. मेकआर्थर यीशु के लहू को नीची कक्षा में बाहर लाते है जैसे धर्मात्मा बाइबल शिक्षक फोस्डीक, ने आठ साल पहले किया। ये कैसे हुआ? ठीक है, जवाब यह है की धर्मात्मा की विरूध्धता और कुछ सुसमाचार प्रचार के संदर्भ बुध्धिवाद से प्रभावित है। मरी हुई लाश मृत्यु से उठती है उससे आत्मा मृत्यु से उठती है ये बात सोचना बुध्धिवादी के दिमाग मे सरल लगती होगी। और, यही तो, फुलर धार्मिक पाठशाला के ज्योर्ज लाडने यही कहाँ! बुध्धिशाली इंसानी दिमाग सोचता है ये मानना आसान है की आत्मा मृत्यु से उठती है उससे की “मरी हुई लाश”। और डो. मेकआर्थर का बुध्धिवाद भी इसी तरह का विवाद करता है इस बात के विरूध्ध मे जो कहते है यीशु का “भौतिक लहू”। फिर से, डो. मेकआर्थर ने अपने इब्रानियो 9:12 बाइबल की पढ़ाई पर जो कहाँ उस पर ध्यान दिजिये।

कुछ भी नहीं कहता की जो ये बता सके की यीशु अपना असली भौतिक लहू अपने साथ स्वर्ग के पवित्र स्थान पर ले गये (मेकआर्थर की बाइबल की पढ़ाई, ibid., इब्रानियो 9:12 पर टीप्पणी)।

डो. मेकआर्थर का बुध्धिशाली दिमाग ये “भौतिक लहू” उपर स्वर्ग मे ले जाया गया ये स्वीकार नहीं करता, वैसे ही जैसे ज्योर्ज लाड के बुध्धिशाली दिमाग ने “मरी हुई लाश” का पुनरूत्थान स्वीकार नहीं किया था।

ये मेरा मानना है कि डो. मेकआर्थर गलत है, की उनके कथन बुध्धिवाद के आधारित है, ना की पवित्रवाक्या के।

“और जब आनन्द के मारे उनको प्रतीति न हुई, और वे आश्चर्य करते थे, तो उसने उनसे पूछा, क्या यहाँ तुम्हारे पास कुछ भोजन है? उन्होंने उसे भुनी मछली का टूकडा दिया, उसने लेकर उनके सामने खाया” (लूका 24:41-43)।

“और उन्हें आशीष देते हुए, वह उनसे अलग हो गया, ओर स्वर्ग पर उठा लिया गया” (लूका 24:51)।

इसलिये, वही यीशु के पुनरूत्थानवाले देहने उनके सामने खाया था “स्वर्ग पर उठा लिया गया” (लूका 24:51) के पहले। डो. जोन आर. राईसने कहाँ,

उन्होंने उनके सामने खाया और शककरने वाले मन को भरोसा दिलाया। यही है यीशु मृत्यु से उठे हुए, उनके माँस ओर लहूवाले देह के साथ...क्योंकि यीशु यही बताते है की उन्होंने उनका माँस और हड्डीयाँ महेसूस की परन्तु लहू के बारे में कुछ नहीं बताया, कुछ लोगोने सोचा होगा की अपने (ख्रिसतीयोके) पुनरूत्थान वाले देह मे लहू नही होगा। सच है, 1 कुरिन्थियो 15:50 कहते है कि, “माँस और लहू परमेश्वर के राज्य के अधिकारी नहीं हो सकते”। परन्तु ये पद और आगे बताता है; “न नाशवान अविनाशी का अधिकारी हो सकता है”...इसका अर्थ ये नहीं है की माँस पुनरूत्थानवाले देह के राज्यमे प्रवेश नही कर सकता... जब से यीशु ने सरल, भौतिक खाना, खाया तब सक यहाँ हर कारण है ये मानने के लिये की हाजमे की भौतिक क्रिया हो रही थी, और वो की देह में माँस और हड्डीयाँ थे, लहू भी था ये कुदरती क्रियायें करने के लिये... उनके पुनरूत्थान के बाद यीशु का देह माँस और हड्डी का देह था, कुदरती क्रियाओके साथ। ये वो देह था जो खा सकता है, और खाना हजम कर सकता है, देह जो कोई भी महेसूस कर सके (जोन आर. राईस., डी. डी., इंसान का पुत्र ः लूका के मुताबिक सुसमाचार पर पद के बाद पद पर संभाषण, स्वोर्ड ओफ ध लोर्ड प्रकाशक, 1971, पृपृष्ठ. 556-557)।

“जब आनन्द के मारे उनको प्रतीति न हई, और वे आश्चर्य करते थे, तो उसने उनसे पूछा, क्या यहाँ तुम्हारे पास कुछ भोजन है? उन्होंने उसे भुनी मछली का टूकडा दिया, उसने लेकर उनके सामने खाया” (लूका 24:41-43)।

लूका के पहले के सुसमाचार मे, यीशु ने कहाँ की वे उनके साथ खायेंगे और पीयेंगे “परमेश्वर के राज्य में”।

“मुझे बड़ी लालसा थी कि दुःख भोगने के पहले यह फसह तुम्हारे साथ खाऊँ ः क्योंकि मैं तुम से कहता हूँ, कि जब तक वह परमेश्वर के राज्य मे पूरा न हो तब तक मैं उसे कभी न खाऊँगा। तब उसने कटोरा लेकर धन्यवाद किया और कहाँ इस को लो और आपस मे बाँट लो। क्योंकि मैं तुम से कहता हूँ की जब तक परमेश्वर का राज्य न आए तब तक मैं दाख का रस अब से कभी न पीऊँगा” (लूका 22:15-18)।

इसलिये, आखरी भोज के समय, यीशु ने चेलो से कहा की वे उनके साथ आने वाले राज्य मे यीशु ने उनसे कहाँ की वे “मेरे राज्य मे मेरी मेज पर खा और पी सकते है।” इसका अर्थ ये है की उनके पुनरूत्थानवाले देह को जरूरत होगी “लहू की कुदरती क्रिया करने के लिये” हाजमे की, जैसे डो. राईसने कहाँ (ibid.)। डो. राईसने कहाँ, “पुनरूत्थान हुअे ख्रिस्तीयोके देह मे प्रवाही होगा, जैसे यीशु के देह मे था, क्योंकि यीशु ने कहाँ ‘जब तक परमेश्वर का राज्य न आये तब तक मैं दाख का रस न पीऊँगा'” (राईस, ibid., पृष्ठ 558)।

इसलिये कम से कम उनकी माँस और हड्डीयो के अन्दर का लहू तो पुनरूत्थान हो के “और उपर स्वर्ग मे उठा लिया जायेगा” (लूका 24:51)। डो. राईस और बहुत से और लोगे और आगे जाते है, जैसे मैं करता हूँ, और कहते है की उन्होने उनके साथ जो लहू क्रुस पर उनके शरीर से बहाँ था वो ले गये। डो. राईसने कहाँ, “वे उनका पवित्र लहू स्वर्ग मे पेश करने अपने रास्ते पर थे” ( जोन आर. राईस., डी. डी., प्रभु का पुत्र : यूहन्ना के मुताबिक सुसमाचार पर पद के बाद पद द्वारा संभाषण, स्वोर्ड ओफ ध लोर्ड प्रकाशक, 1976, पृष्ठ. 393)।

अगर हम बाइबल गंभीरता से लेते है तो इतना तो नक्की है - कमसेकम जो लहू उनके माँस और हड्डी के अंदर के तत्व मे था वो अब स्वर्ग मे है। अगर कोई यीशु के सरल दैहिक पुनरूत्थान को मानता है, तो यहाँ पर ओर कोई प्रश्न नहीं उठने चाहिये, और ना ही यहस्यमय और बुध्धिवादीओ से प्रभावित होना चाहिये।

कैसे भी, वहाँ पर कुछ आधुनिक शिक्षक है, जैसे ज्योर्ज एल्डन लाड और जोन मेकआर्थर, जो कहते है की यीशु का लहू स्वर्ग मे नहीं है। वे कैसे सच हो सकते है जब बाइबल स्पष्टता से हमे कहता है की यीशु का लहू स्वर्ग मे है?

“तुम सिय्योन के पहाड़ के पास, और जीवते परमेश्वर के नगर, स्वर्गीय यरूशलेम, के पास और लाखों स्वर्ग दूतो, और उन पहिलौठों की साधारण सभा और कलीसिया, जिनके नाम स्वर्ग मे लिखे हुए है, और सब के न्यायी परमेश्वर के पास, और सिध्ध किए हुए धर्मियो की आत्माओं और नई वाचा के मध्यस्थ यीशु, और छिड़काव के उस लहू के पास आए हो” (इब्रानियों 12:22-24)।

बाइबल इब्रानियों 12:22-24 मे हम से कहता है की यीशु का लहू एक चीज है जो हम स्वर्ग में देखेंगे। ये पेदा हुआ, बदला गया, स्वर्ग मे पुनरूत्थान पाया, उनके माँस और हड्डीवाले देह के साथ - जैसे हेनोक का देह और लहू (इब्रानियों 11:5) और एलिय्याह का देह और लहू (2 राजाओं 2:11) “स्वर्ग पर उठा लिया गया” (लूका 24:51) था। सी. एच. स्पर्जनने कहाँ,

      जब हम स्वर्ग में उपर जाते है... हमे छिडकाव के लहू से आगे नहीं जाना चाहिये; ना, हमे देखना है वो वहाँ ज्यादा सच्चाई से पेश किया गया है कोई भी ओर जगह से। “क्या!” आप कहो, “यीशु का लहू स्वर्ग मे है?” हा! जो कीमती लहू के बारे मे बहुत कम पुराने ख्याल अपराधभाव और गंदा बोलते है उन्हे अपना मंतव्य सुधारने दिजिये... क्योंकि मेरे लिये इस भव्य विषय के अलावा कुछ सोचने और बोलने के लायक नहीं है। यीशु का लहू सुसमाचार का जीवन है (सी. एच. र्स्पजन, “छिड़काव का लहू,” ध मेट्रोपोलीटन टबरनेकल पुलपीट, पीलग्रीम प्रकाशन, 1975 मे फिर से छपा, भाग 32, पृष्ठ.121)।

ये सच्चाई महेसूस करना महत्वपूर्ण हे की कमसेकम यीशु का थोडा लहू स्वर्ग में है क्योंकि अगर उनका भौतिक, दैहिक पुनरूत्थान हकिकत है, तो वहाँ पर कमसेकम थोडा लहू जरूर होगा। आखीरकार, पुनरूत्थान पाये यीशु ने हम से खासतौर पे कहाँ की वे आत्मा नहीं है, उन्हे सच्चा माँस और हड्डीयाँ है (लूका 24:39)। इसलिये वहाँ पर कमसेकम उनका थोडा लहू हड्डीयो में और उस माँस में होगा जब वे मृत्यु से उठे और वापस सवर्ग में उपर चढ़े। ये वहाँ यीशु को जीवित रखने के लिये नहीं है, जैसे मेरे ई-मेल में प्रश्न रखा गया है। नहीं जरा भी नहीं! हकीकत में, यीशु का पुरा पुनरूत्थान ही चमत्कार है - शुरूआत से अंत तक! हमे उसे नीचे पानी में नही डालना चाहिये और कहे की यीशु “आत्मा” थे या प्रभु उनके लहू को स्वर्ग में नही ले जा सके! इस युग के बुध्धिवादी और रहस्यमयवादीयो को क्यो सर्मपण कर दे? डो. जे. वेरनोन मेकगी अभी भी हमारे राष्ट्र के श्रेष्ठ बाइबल शिक्षक है, अमरिका में लाखो लोग द्वारा रेडियो पर सूने गये और दुनियाभर में बहुत से दूसरे भाषावाले लोग द्वारा भी (Click www.thruthebible.org)। हमे संभवतः मानना ही चाहिये डो. मेकगीने यीशु के लहू के लिये क्या कहा,

उनका लहू अभी भी स्वर्ग मे है, और अनन्त युगो तक सदा वो वहाँ रहेगा हमे याद दिलाने जो भयानक किमंत यीशुने हमे बचाने के लिये चूकाई है (जे. वेरनोन मेकगी, टीएच. डी., बाइबल के द्वारा, थोमस नेल्सन प्रकाशक, 1983, भाग.5, पृष्ठ. 560)।

यही है जो हर खोये हुअे लोगो को आज चाहिये। अगर आप बचाये नहीं गये हो तो आपको सच्चे शारीरीक पुनरूत्थान पाये यीशु के पास आना है - पिता के दाहिने हाथ पर। वे क्रुस पर मरे आपके पापो को चुकाने के लिये। और आपको उनके लहू द्वारा अपने पापो से शुध्ध होने की जरूरत है क्योंकि,

“उसके पुत्र यीशु का लहू हमे सब पापों से शुध्ध करता है” (1 यूहन्ना 1:7)।

महेरबानी करके खडे रहीये और आपके गीत के पर्चे का आखरी गीत गाइये।

क्या आप लहू में साफ हुअे हो,
   मेम्ने के आत्मा - साफ करनेवाले लहू मे?
क्या आपके कपडे दाग रहित है? क्या वे बर्फ की तरह सफेद है?
   क्या आप मेम्ने के लहू से साफ हुअे थे?
(“क्या आप मेम्ने के लहू से साफ हुअे थे?” एलीसा ए. होफमन द्वारा, 1839-1929)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन के पहले डो. क्रेगटन एल. चान द्वारा पढ़ा गया पवित्र वाक्या : लूका 24:38-43।
धार्मिक प्रवचन के पहले श्रीमान बेन्जामिन कीनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
“ध स्ट्राइफ ईस ओ'अर”
(फ्रान्सीस पोट द्वारा अनुवाद किया गया, 1832-1909)।


रूपरेखा

सच्चा माँस! सच्ची हड्डीयाँ! सच्चा लहू! - भाग 2

डो. आर. एल हायर्मस, जुनि. द्वारा

“मेरे हाथ और मेरे पाँव को देखो कि मैं वही हूँ : मुझे छुकर देखो, क्योंकि आत्मा के हड्डी माँस नहीं होता, जैसा मुझ में देखते हो” (लूका 24:39)।

I.    पहला,  मैं मानता हूँ कि ये महत्वपूर्ण है क्योंकि ये बताया है की यीशु का पुनरूत्थान वाला देह सच्चे माँस और हड्डीयो का देह था, ना की “आत्मा” या “राक्षस”, 1 कुरिन्थियो 15:1, 3, 4, 50; लूका 24:51।

II.    दूसरा,  मैं मानता हूँ की ये महत्वपूर्ण है क्योंकि आधुनिक बुध्धिशाली लोगोने कहाँ की यीशु का माँस मृत्यु से नहीं उठा और फिर से स्वर्ग में गया, लूका 24:39,51।

III.   तीसरा,  मैं मानता हूँ की ये महत्वपूर्ण है क्योंकि बुध्धिवाद ये अस्वीकार करता है कि यीशु का कोई भी लहू स्वर्ग में है, लूका 24:41-43, 51;
1 कुरिन्थियो 15:50; लूका 22:15-18, 30; इब्रानियो 12:22-24; इब्रानियो 11:5; 2 राजाओ 2:11; 1 यूहन्ना 1:7।