Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २२१ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३७ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net .




फसह का लहू

THE BLOOD OF THE PASSOVER

डॉ. आर. एल. हायमर्स, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बेप्टीस टबरनेकल मे प्रभु की षाम,
मार्च 28, 2010 को दिया गया धार्मिक प्रवचन.
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, March 28, 2010

“मै उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा” (निर्गमन 12:13)।


इब्री लोगों के मिस्त्र गुलामों को निर्धारित जगह पर छोडने के अगली रात को, प्रभु ने उनसे कहां, हर घरमे, निर्दोश मेम्ना लेकर उसे मार दिजिये। और प्रभुने कहाँ,

“तब वे उसके लहू में से कुछ लेकर जिन घरो मे मेम्ने को खाऐंगे उनके द्वार के दोनों अलंगों और चौखट के सिरे पर लगाऐं” (निर्गमन 12:7)।

“क्योंकि उस रात को मैं मिस्त्र देष के बीच में होकर जाऊँगा, और मिस्त्र देष के क्या मनुश्य क्या पषु, सब के पहिलौटों को मारूंगा; और मिस्त्र के सारे देवताओ को भी मैं दन्ड दूँगा; मैं यहोवा हूँ। और जिन घरो में तुम रहोगे उन पर वह लहू तुम्हारे लिए चिन्ह ठहरेगा; अर्थात् मैं उस लहू को देखकर तुम को छोड़ जाऊँगा, और जब मैं मिस्त्र देष के लोंगो को मारूँगा, तब वह विपत्ति तुम पर न पड़ेगी और तुम नश्ट न होगे” (निर्गमन 12:12-3)।

इस महत्वपूर्ण दिन को, अप्रैल की षुरूवातमें, यहूदी लोग उस रात को याद करते है, जो पिषाक के नाम से जाना जाता है, फसह का पर्व, “फसह” षब्द अपनी किताब से आता है,

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा, और जब मैं मिस्त्र देष को लोगों को मारूँगा, तब वह विपत्ति तुम पर न पडेगी, और तुम नश्ट न होंगे” (निर्गमन 12:13)।

वो किताब कितनी अद्भूत है, जिसका अर्थ हर सच्चे ख्रिस्ती के मनमे है!

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा” (निर्गमन 12:13)।

चलिए आज के इस षाम को वह पद के बारे में सोचे। इसका संदेष अपने मन और दिमाग में गहराई तक जाने दे।

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा” (निर्गमन 12:13)।

आज इसका क्या मतलब है हमारे लिये?

I. पहला, वह लहू यीषु के लहू का प्रतीक था।

वेबस्टर का षब्दकोश हमें बताता है की उस जैसा “कोई चीज, या घटना जो प्रतिनिधित्व करती है या, दूसरे जैसा प्रतीक है, खास कर दूसरा जो आने वाला है, एक प्रतीक, एक चिन्ह।” अगर कहीं भी यीषु के लहू के जैसा कुछ है तो वह स्पश्ट और प्रतीक से ये ही है। पूर्ण पूराने नियमावली मे, भविश्य में यीषु के लहू के सारे अलग अलग नमूने और प्रतीक के साथ, इससे स्पश्ट कुछ भी नही है,

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा” (निर्गमन 12:13)।

फसह के पर्व के दौरान हुई यीषु की मृत्यु कोई अकस्मात नहीं था। दोपहर में उन्हें क्रुस पर चढानेसे पहले सेवकने यीषु से कहाँ,

“अखमारी रोटी के पर्व के पहले दिन, चेले यीषु के पास आकर पूछने लगे, तू कहाँ चाहता है कि हम तेरे लिये फसह खाने की तैयारी करें? उसने कहा, नगर मे अमुक व्यक्ति के पास जाकर उससे कहो गुरू कहता है कि मेरा समय निकट है मैं अपने चेलो के साथ तेरे यहाँ पर्व मनाऊँगा” (मती 26:17-18)

चेलेने वही किया जो यीषुने उनसे कहा। वे उस घर में गये और अखमारी रोटी तैयार की। और जैसे ही षाम हुई, यीषु अपने 12 चेलोके साथ अखमारी रोटी खाने बैठे।

“जब वे खा रहे थे तो यीषु ने रोटी ली, और आषीश माँगकर तोड़ी, और चेलो को देकर कहा, लो खाओ यह मेरी देह है। फिर उसने कटोरा लेकर धन्यवाद किया, और उन्हे देकर कहा, तुम सब इस में से पीओ; क्योंकि यह वाचा का मेरा वह लहू है जो बहुतो के लिये पापो की क्षमा के निमित्त बहाया जाता है” (मती 26:26-28)।

इसलिये, परमेष्वर के भोज में, रोटी और कटोरेसे, यीषु ने अर्थ दिया, निर्गमन की किताब के जैसे पूरा करना,

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा”
       (निर्गमन 12:13)।

देखिये क्या सरल लगता है, क्या अपने आप में सहज लगता है - और फिर भी आज मषहूर है। जानिये की रोटी और कटोरा दो अलग चीजे थी ! लहू और यीषु की मृत्यु दोनो एक ही चीज नही है, जैसे जोन मेकआर्थरने गलत सिखाया। डो. मेकआर्थरने बार बार कहा की लहू यीषु की मृत्यु के लिये “मेटोनियम” है। जो की, यीषु का लहू उनकी मृत्यु के लिये सिर्फ दूसरा षब्द है। वे कहते है की “लहू को मृत्यु षब्द के बदलेमे वापरा गया है” (घ मेकआर्थर स्टडी बाइबल, इब्रानीयो 9:14 पर टीप्पणी)। ये खतरनाक षिक्षण है, क्योंकि अगर लोग ये मानेंगे तो षायद उन्होने अपने पापो को साफ नही किया होता। वे जो यीषु की मृत्यु को मानता है परन्तु उनके लहू से इनकार करता है षायद लडखडाये और अपने पापो से साफ न हो पाये।

यीषु की मृत्यु उनके लहू के जैसी नही है। इसलिये परमेष्वर के भोज में दो चीजे है। रोटी हमे उनके क्रुस पर चढाये हुए षरीर की याद दिलाते है। कटोरा हमे उनके लहू की याद दिलाता है। डो. जोन गील ने कहा परमेष्वर के भोज में “रोटी और कटोरा दो अलग अलग चीजे है” (डो. जोन गील, डी.डी., अ बोडी अॉफ डीवाईनिटी, घ बप्तीस स्टानर्डड बेरर, एन.डी., भाग 2, पृश्ठ 919)।

चीजे जो अलग है वो समान नही है। रोटी उनके षरीर को चित्रित करती है, क्रुस पर चढकर तुटे हुए षरीर से हमारे पापो का प्रायष्चित करने। कटोरा उनके लहू का प्रतीक है, जो हमे सारे पापो से साफ करता है। कटोरा और रोटी प्रभु के भोज में अलग से लिया जाता है। वा पापो से बचने के दो चीजो का प्रतिनिधित्व है।

“तुम सब इसमें से पीओ; क्योंकि यह वाचा का मेरा वह लहू है, जो बहुतो के लिये पापों की (आजादी, बचाना-पक्का) क्षमा के निमित्त बहाया जाता है” (मती 26:27-28)।

प्रेरितो यूहन्नाने इस का अर्थ स्पश्ट किया जब उन्होने कहा,

“उसके पुत्र यीषु का लहू हमें सब पापो से षुध्द करता है”
       (1 यूहन्ना 1:7)

वो विरूध्द प्रतीक है। वो प्रतीक की संतुश्टी है, प्रतीक का अर्थ,

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा”
       (निर्गमन 12:13)।

ये कहता है

“नई वाचा के मध्यस्थ यीषु, और छिड़काव के उस लहू के पास आए हो” (इब्रानियो 12:24)।

“क्योंकि हमारा भी फसह जो मसीह है बलिदान हुआ है”
       (1 कुरिन्थियो 5:7)।

निर्गमन 12 मे मेम्ने का लहू यीषु का पक्का प्रतीक था,

“परमेष्वर का मेम्ना है, जो जगत का पाप उठा ले जाता है”
       (यूहन्ना 1:29)।

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा”
       (निर्गमन 12:13)।

वो लहू, जो इब्री लागोने मिस्त्र में अपने दरवाजे के अलंगो और चौखट पर लगाया, वह चित्र था

“उसके पुत्र यीषु मसीह का लहू (जो) हमें सब पापो से षुध्द करता है”
       (1 यूहन्ना 1:7)।

पापीयो का प्रमुख, यीषु बचायेंगे;
   सब उन्होने वचन दिया है, की वे ये करेंगे;
छिडकाव में धोओ, पापो के लिये खुला
   और मै गुजरूंगा, आप के पास से गुजरूंगा।
जब मैं लहू देखुंगा, जब मैं लहू देखुंगा,
   जब मैं लहू देखुंगा,
मै छोड़ जाऊँगा, मै तुम्हे छोड़ जाऊँगा।
    (“जब मैं लहू देखुंगा” जोन फूटे द्वारा, 19 वी.सदी)

II. दूसरा, लहू को लगाना ही चाहियें।

स्कोफिल्ड स्टडी बाइबल की निर्गमन 12:11 पर टीप्पणी में कहती है, “लहू को लगाना चाहिये (निर्गमन 12:7)। ये व्यक्ति विष्वाससे सही जवाब है...” की स्कोफिल्ड स्टडी बाइबल की टीप्पणी अेकदम सही है। जैसे इब्री लोगो को अपने घर के दरवाजे की चौखट और अलंगे पर लहू का होना जरूरी था, इसलिये आपको अपने पापो को षुध्द करने के लिये यीषु का लहू होना जरूरी है। अगर आपके पास लहू नही है तो यीषु प्रभु आप के पास से गुजरेंगे नही। परमेष्वर के दण्ड की तकलीफ, उनका गुस्सा और ष्‍ोश पापो के विरूध्द, आपके उपर आयेगा जैसे उन्होने मिस्त्रीयो पर किया!

प्रभुने कहा,

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा”
       (निर्गमन 12:13)।

परन्तु अगर प्रभु लहू नही देखते है, वे तुमको छोडेंगे नही!

“जब मूसा की व्यवस्था का न माननेवाला, दो या तीन जनों की गवाही पर ः बिना दया के मार डाला जाता है, तो सोच लो किवह कितने और भी भारी दण्ड के योग्य ठहरेगा, जिसने परमेष्वर के पुत्र को पाँवो से रौंदा और वाचा के लहू का जिसके द्वारा वह पवित्र ठहराया गया था, अपवित्र जाना...? (इब्रानियो 10:28-29)।

वह जिसके पास उसके पापो को षुध्द करने यीषु का लहू नही है वह प्रभुके भयंकर दण्ड के नीचे आ जायेंगे और,

“जीवते परमेष्वर के हाथों में पडना भयानक बात है”
       (इब्रानियो 10:31)।

इसलिये, मेरा आपसे ये सवाल है - क्या आपके पास यीषु का लहू है ? प्रभुने कहाँ,

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड जाऊँगा”
       (निर्गमन 12:13)।

क्या आपके पास यीषु का लहू है? स्कोफिल्ड की वो टीप्पणी याद रखे, “लहू लगाना जरूरी है (निर्गमन 12:7)। वैष्विक्ता सिखाती है की हर कोई सर्वत्र, बचाया जायेगा। परन्तु बाइबल कहता है,

“जो पुत्र पर विष्वास करता है, अनन्त उसका हैः परन्तु जो पुत्र की नहीं मानता, वह जीवन को नहीं देखेगा, परन्तु परमेष्वर का क्रोध उस पर रहता है” (यूहन्ना 3:36)।

आपके पाप बाहर टपक रहे है और यीषु के लहू से धोये जायेंगे तुरन्त ही जब आप परमेष्वर के पुत्र पर विष्वास करोगे। जोसेफ हार्ट, पुरीटीयन भजन कवि, यीषु के लहू वाले पसीने को अपने से गुजरने वाले का वर्णन करते है।

उनका देह, पसीने और लहूमे नहाया हुआ,
धरती पर जांबुली बाढ का छिटकाव;
गाढ़ा सा जबरजस्त बहाव बहा
मनुश्य (के पापो को धोने) को।
(“घ हाई प्रीस्ट” जोसेफ हार्ट द्वारा, 1712-1768)।

मेरे गुनाहो के पास जाकर देखो;
      न सहनेवाला बोज!
उनका लहू देखने पापीयो के लिये,
      मेरा कराहना, तडपना प्रभु!
(“घ विष” जोसेफ हार्ट द्वारा, 1712-1768)।

गेत्समनी में यीषु हमारे सामने खडे है, अपने खुद के लहूवाले पसीने से भीगे पहनावे मे। उन्होने अभी तक उनको पकडा नही था, नाही घसीटा था, नाही क्रुस पर चढाया था। कहाँसे वो लहू आया जो उनकी चमड़ी के छिद्रो से टपक रहा है? वो आपके पापो के दबाव से आ रहा है, परमेष्वर के गुस्से के बोझ से धरती पर दबकर। थोडी ही देर में सैनिक आये और उनके लहू से टपकते षरीर को ख़ीचकर बगीचे से ले गये। उन्होने उनको मुंह पर मारा, और उनकी दाढ़ी को जोर से खीचा। उन्होने उनको नंगा किया और उनकी पीठ को मार मार के चींथरा बना दिया। उन्होने उनके सिर पर काटों का ताज पहना दिया। उन्होने उनके हाथ और पैरों करे क्रुस पर किल से ठ़ोक दिया। वे लहू और तडपसे लटक रहे थे। और मिस्त्र के अंधकारसे प्रभु कह रहे थेः

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा”
      मन 12:13)।

क्या आप आयेंगे और उनके क्रुस के पास विष्वास से खडे रहेंगे? क्या आप लहूसे भीगे तारणहार के पास आज षाम को आयेंगे? आप अपने सारे पापो के प्रदूशण से षुध्द हो जायेंगे

“जो जगत की उत्पत्ति के समय से घात हुआ है, उस पषु की पूजा करेंगे?”
       (प्रकाषितवाक्य 13:8)।

चलिये खडे होकर आपके पर्चे का पांचवा भजन गाये।

हम यीषु के लहू के बारे मे बहोत बोलते है,
परन्तु, कितना कम समजते है!
उनकी तडप के बारे में, कितना गंभीर
देवदूत को पूर्ण जानकारी नही है।
परमेष्वर के पुत्र का तडपना देखो,
तडपना, चिल्लाना, पसीने का लहू!
दिव्य प्रेम की सीमा रहित गहराई!
यीषु, क्या आपका प्यार था !
(“आपकी अनजानी तडप” जोसेफ हार्ट द्वारा, 1712-1768, “ये मध्यरात्रि, और
जैतुन की डाली पर” के राग से वीलीयम बी. तपान द्वारा, 1774-1849)।

मेरे पापो को क्या धो षकता है? यीषु के लहू के अलावा कुछ नही;
मुझे फिर से पूर्ण क्या बना सकता है? यीषु के लहू के अलावा कुछ नही।
ओह ! अमूल्य बहाव जो मुझे बर्फ की तरह सफेद बनाता है;
और कोई तरीका मुझे मालूम नही, यीषु के लहू के अलावा।
    (“यीषु के अलावा कुछ नही” रोबर्ट लोव्री द्वारा, 1826-1899)।

प्रभु इस सुसमाचार प्रवचन को आषीर्वाद दे, और इसके द्वारा आप प्यारे तारणहार, यीषु के पास आओ, और उनके लहू से अपने पापो को धो लो, और सारे समय और अनन्ता के लिये बचाये जाओ! यीषु क्रुस पर मरे आपके पापो को चुकानें के लिये। उन्होने अपना लहू बहाया आपको सारे पापोसे षुध्द करने के लिये। उनका लहू आपके पापो को शुध्द करे। आंप प्रभु के गुस्से से बचाये जाओं!

“मैं उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा” र्मन 12:13)।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन के पहले डो. क्रेगटन एल. चान द्वारा पढ़ा गया पवित्र वाक्या : 21-28।
धार्मिक प्रवचन के पहले श्रीमान बेन्जानिन कीनकेड ग्रीफिथ व्दारा गाया हुआ गीतः
“जब मै लहू को देखुंगा” (जोन जी. फुटे द्वारा, 19 वी सदी)।


रूपरेखा

फसह का लहू

डॉ. आर. एल. हायमर्स, जुनि द्वारा

“मै उस लहू को देखकर, तुम को छोड़ जाऊँगा” (निर्गमन 12:13)।

(निर्गमन 12:7)

।.   पहला, वह लहू यीषु के लहू का प्रतीक था।, मती 26:17-18;
मती 26:26-28; 1 यूहन्ना 1:7; इब्रानियो 12:24;
1 कुरिन्थियो 5:7; यूहन्ना 1:29।

॥.  दूसरा, लहू को लगाना ही चाहियें, इब्रानियो 10:28-29, 31;
यूहन्ना 3:36; प्रकाषितवाक्य 13:8।