Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २१५ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३५ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। लिये उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net.




उड़ाऊ पुत्र का गलत अर्थ लगाना

(उड़ाऊ पुत्र पर धार्मिक प्रवचन क्रमांक 2)

MISINTERPRETING THE PRODIGAL SON
(SERMON NO. 2 ON THE PRODIGAL SON)
(Hindi)

डॉ. आर. एल. हायमर्स, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्‍तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की षाम, 25 अगस्‍त, 2013, को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Evening, August 25, 2013

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है। और वे आनन्‍द करने लगे'' (लूका 15:24)।

उड़ाऊ पुत्र का दृश्‍टांत बाइबल में एक सबसे पसंद की हुई कहानी है। और फिर भी आज यह एक सबसे ज्‍यादा गलत अर्थ लगाया हुआ वाक्‍यखण्‍ड है। मैं दृश्‍टांत का संक्षिप्‍त लेख प्रमाण दूंगा, और फिर मैं आपको दिखाऊँगा कि अच्‍छे अभिप्राय के प्रचारकों द्वारा भी, यह किस प्रकार मोड़ा और दूशित किया गया है।

जैसे मैं इस षाम यह संदेष लाऊँगा, मैं इस दृश्‍टांत के साथ दो प्रकार से व्‍यवहार करूँगा। पहला, मैं दिखाऊँगा किस प्रकार यह ‘‘निर्णायक्‍ता'' द्वारा दूशित किया गया है। दूसरा, मैं बताऊँगा हकीकत में इसका अर्थ क्‍या है। और फिर मैं दिखाऊँगा यह आपको किस प्रकार लागू होता है। परंतु हम षुरूआत करेंगे पूरे दृश्‍टांत पर जाकर।

यीषु ने कहा की वहाँ आदमी था जिसे दो पुत्र थे। छोट़ा पुत्र उसके पिता के पास आया, और अभी उसके पैतृक धन में हिस्‍से के लिये पूछा, पिता की मृत्‍यु से पहले। पिता सहमत हुए, और छोट़े पुत्र को उसका आधा पौतृक धन दिया। छोट़े पुत्र ने सबकुछ लेकर घर छोड़ दिया। वह दूर देष में गया और सारे पैतृक धन का अपव्‍यय किया दूराचार और पापभरे जीवन में।

जब उसने सारे पैसे खर्च कर दिए थे, तब अकाल पड़ा और वह भूख से मर रहा था। वह उस देष के नागरिक के पास गया जिसने उसे बाहर सूअरों को खाना खिलाने भेजा। वह इतना भूखा था कि उसे सूअर जो खा रहे थे वह भूसा खाना था, और किसी ने उसे कुछ भी खाने के लिये नहीं दिया।

फिर वह अपने ज्ञान में आया और प्रत्‍यक्ष किया की उसके पिता के सेवक के पास पर्याप्‍त रोटी थी खाने, जब कि वह भूखा मर रहा था। उसने अपने पिता के घर लौटने का निर्णय किया और उनसे कहा, ‘‘पिताजी, मैंने स्‍वर्ग और आपके सामने पाप किया, और मैं आपका पुत्र कहलाने के लायक नहीं हूँ; मुझे आपका एक नियुक्‍त सेवक बनाओ।'' वह उठा और उसके पिता के पास आया। जब वह आ रहा था, उसके पिता दौडे और उसे आलिंगन किया और उसे चूमा। उसके पिता ने एक मूल्‍यवान जामा उसपर रखा, एक अंगूठी उसकी अंगूली में, और जूते उसके पैरो में। पिता ने गाय के बछड़े को मारा और बड़ा खाना बनाया। पिताने कहा,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है। और वे आनन्‍द करने लगे'' (लूका 15:24)।

वह दृश्‍टांत की मूल रूपरेखा है। अब, मैं पीछे जाऊँगा और आपको दिखाऊँगा कैसे यह हमारे दिन में गलत अर्थ लगाया गया है, और फिर मैं आपको दिखाऊँगा इसका हकीकत में अर्थ क्‍या है।

।. पहला, जिस प्रकार यह दृश्‍टांत गलत अर्थ लगाया गया है बहुत से आधुनिक प्रचारकों द्वारा।

मुझे पसंद नहीं है कहना कि डॉ. जे. बर्नोन मेकगी ने इस दृश्‍टांत का गलत अर्थ लगाया, परंतु उन्‍होंने किया। डॉ. मेकगी ने कहा, ‘‘यह पापी का चित्र नहीं है जो बचाया जाता है ... इस कहानी में हमारे प्रभु ने कहा वहाँ पर कभी भी कोई प्रष्‍न नहीं था जैसे लड़का पुत्र था या नहीं ... वह सारा समय पुत्र था ... सिर्फ जिसे पिता के घर जाना है वह पुत्र है; और एक दिन पुत्र कहेगा, ‘मैं उठुँगा और मेरे पिता के पास जाऊँगा''' (जे. वेरनोन मेकगी, टीएच.डी., थ्रु ध बाइबल, थोमस नेल्‍सन प्रकाषक, 1983, भाग IV, पृपृश्‍ठ 314, 315; लूका 15:11-19 पर टीप्‍पणी)।

इसलिये, डॉ. मेकगी ने गलती से कहा कि यह युवा आदमी हर समय बचाया गया था। उसने द्रोह किया और गहरे, विस्‍तृत पाप के जीवन में गया, परंतु वह फिर भी बचाया गया। बाद में उसने अपने पाप का पष्‍चाताप किया और जीवन पुनःसमर्पित किया।

मुझे क्षमा करना कहने के लिये कि यह दिखाता है कैसे डॉ. मेकगी आधुनिक ‘‘निर्णायक्‍ता'' द्वारा प्रभावित थे। इसलिये बहुत से आधुनिक प्रचारक, जैसे बीली ग्रेहाम, ने दृश्‍टांत का अर्थ किया। उन्‍होंने क्‍यों वह किया? उन्‍होंने यह किया क्‍योंकि लाखो लोगो ने ‘‘निर्णय'' किए थे और फिर वापस पाप में गए। एकमात्र तरीका ये प्रचारक इसे समझा सकते है वह है कहना वे उड़ाऊ पुत्र के समान है, और किसी दिन वे जागेंगे और अपने स्‍वयं को पुनःसमर्पित करेंगे। आप उन्‍हें कहते सुनते हो कि वे है ‘‘बचाए हुए'' षराबी, ‘‘बचाए हुए'' ड्रग के व्‍यसनी, और ‘‘बचाए हुए'' वेष्‍या भी। जैसे 88% सारे ‘‘कलीसिया बच्‍चे'' उनका कलीसिया छोड़ते है ‘‘कभी लौटकर नहीं आने'' (बार्ना) और उन सभी ने ‘‘निर्णय'' किया होता है, याजक उनके मातापिता को झूठी आषा देते है कहते हुए वे उड़ाऊ है, बचाए हुए पर पतित। वे कहते है ये सारे लोग, जो गहरे पाप में रहते है और कलीसिया नहीं जाते, ‘‘बचाए गए'' है उसी प्रकार। उन्‍हें सिर्फ इतना करना है, वापस आना है और किसी भविश्‍य के समय में उन्‍हें अपने स्‍वयं को पुनःसमर्पित करना है। परंतु अगर वे वह ना भी करे, फिर भी वे बचाए हुए है। जैसे डॉ. मेकगी ने कहा, ‘‘वहाँ कभी कोई ऐसा प्रष्‍न नहीं था जैसे लड़का पुत्र था या नहीं। वह सारा समय पुत्र ही था''। इसलिये, बील क्‍लीन्‍टन, बेपटीस्‍ट, ‘‘पुत्र'' थे तब भी जब वे ओवल कार्यालय में मोनिका लेवीन्‍स्‍की के साथ व्‍यभिचार कर रहे थे। इसी प्रकार, दूसरा बेपटीस्‍ट, जीमी कार्टर ‘‘पुत्र'' थे जब वे बाइबल की पूर्णता का अस्‍वीकार करते थे और कहते थे कि मोर्मोन्‍स सच्‍चे मसीही है तब भी! थोड़े वर्श पहले एक स्‍त्री जो वेष्‍याओं के घर की मुख्‍य थी यहाँ लोस एंजलिस में, उसने कहा कि वह ‘‘फिर से जन्‍मी मसीही'' थी। एक सुसमाचार प्रचारक नेता ने मुझे कहा, ‘‘उसका अनुमान मत करो''। कैसी मूर्खता! यह सुसमाचार प्रचार करने का व्‍याकुल करनेवाला चिन्‍हे कहा जाता है ‘‘एन्‍टीनोमीयानीझम'' ‘‘अधिकार विरूद्धता'', और यह बाहर आती है मान्‍यता से कि कोई पाप के सुअर के बाड़े में रहे और उसी समय परमेष्‍वर का बालक भी हो। वे कहेजानेवाले ‘‘षरीर पर मन लगानेवाले मसीही'' है। परंतु डॉ. मार्टीन लोयड-जोन्‍स ने कहा, ‘‘यह [रोमियों 8:5-8] का गलत अर्थ है कहना कि ‘वे जो षरीर के पीछे है' वे कहेजानेवाले ‘षरीर पर मन लगानेवाले' मसीही है; क्‍योंकि हम देखते है कि प्रेरितो कहते है कुछ उनके बारे में जो इसे अषक्‍य बनाता है की वे मसीही होने चाहिए हर समय ... मसीहीता, जैसे प्रेरितो ने हमें कहा था बहुत बार, षमिल करता है संपूर्ण, मूल सिद्धांत का बदलाव मनुश्‍य के स्‍वभाव में (डी. मार्टीन लोयड-जोन्‍स, एम.डी., एक्‍सपोझीषन ओफ रोमन्‍स 8:5-17, ‘‘ध सन्‍स ओफ गोड'', रोमियों 8:5-17 की स्‍पश्‍टता, ‘‘परमेष्‍वर के पुत्र'', बेनर ओफ ट्रुथ ट्रस्‍ट, 2002 में फिर से छपा हुआ, पृश्‍ठ 3)।

मैं हकीकत में तिरस्‍कार करता हूँ डॉ. मेकगी को सही करने। उन्‍होंने मुझे बाइबल का महान्‌ व्‍यवहार सिखाया 1960 और 70 के पहले वर्शों के दौरान, जैसे मैंने हर दिन उन्‍हें रेडियो पर सुना। मैं अक्षरषः पीछ़े हटा उन्‍हें उड़ाऊ पुत्र के उनके मंतव्‍य पर ठीक करने के विचार से। परंतु मेरे पास कोई और पर्याय नहीं था। डॉ. मेकगी ने कहा कि वे स्‍वयं बचाए गए जब ‘‘बहुत वर्शो पहले सुसमाचार प्रचारक ने दक्षिणी ओक्‍लोहामा में इस दृश्‍टांत का इस्‍तेमाल किया सुसमाचार प्रस्‍तुत करने ... एक रात उन्‍होंने प्रचार दिया उड़ाऊ पुत्र पर, और वह रात मैं आगे गया'' (ibid., पृश्‍ठ 314)। परंतु फिर डॉ. मेकगी ने कहा, ‘‘पापी केसे बचाया जाता है उस पर यह दृश्‍टांत नहीं है'' (ibid.)। उन्‍होंने कहा यह ‘‘आदि रूप में'' केसे परमेष्‍वर लेते है ‘‘वापस पुत्र को जो पाप करता है'' के बारे में है।

डॉ. मेकगी को वह विचार पुराने-रीति के प्रचारक जिन्‍होंने उन्‍हें बचाया ओक्‍लोहामा में से नहीं मिला। नहीं, उनहें वह विचार मिला आधुनिक नये - सुसमाचार प्रचार करनेवाले प्रचारकों जैसे बीली ग्रेहाम द्वारा, जो पुकारते है ‘‘पुनःसमर्पण'' के लिये सीधे - स्‍पश्‍ट परिवर्तनों के बजाय। ये ‘‘नया'' रास्‍ता दृश्‍टांत की ओर देखने का, ने उत्‍पन्‍न किया कहेजानेवाले ‘‘पतित मसीहीयों'' के परिपूर्ण सागर को जो कभी भी परिवर्तित नहीं हुए। जैसे डॉ. लोयड-जोन्‍स ने कहा, यह ‘‘असंभव है कि वे किसी प्रकार से मसीही हो''।

मैंने हाल ही में एक लेख पढ़ा सुसमाचार प्रचारक द्वारा लिखा हुआ जिन्‍होंने कहा,

मैं दक्षिण केरोलीना में रहता हूँ, और मुझे दक्षिण से प्रेम है, और मैं वहाँ से किसी को भी तिरस्‍कार नहीं करता, परंतु ऐसा लगता है वहाँ हरएक कहता है वह बचाया गया है! ... कुछ दक्षिणी राज्‍यों में, वहाँ कलीसिया है करीबन हर रास्‍ते के नुक्‍कड पर। हमारे राजकरणी और चलचित्र के सितारे भी कहते है की वे बचाए गए है ... फिर भी हमारे पास है ज्‍यादा कत्‍ल, बलात्‍कार, ड्रग्‍स, कामोत्‍तेजक चित्र या लेख, तलाक, झूठ बोलना, और चोरी हर समय से अधिक ... तो गलत क्‍या है? क्‍यों हमारे स्‍थानीय कलीसिया नश्‍ट हो रहे है विकास और सीमा बाहर जाने में? ... परेषानी क्‍या है? (जेरी सिव्‍न्‍केस्‍टी, ‘‘गोसपल सोक्‍ड और गोसपल थर्सटी?'', ‘‘सुसमाचार में भीगा हुआ या सुसमाचार का प्‍यासा?'', फ्रन्‍टलाइन सामायिक, जुलै/अगस्‍त 2013, पृश्‍ठ 38)।

मैं आपसे कहूँगा परेषानी क्‍या है - हमारे पास लाखों लोग है जिन्‍होंने ‘‘निर्णय'' किए है परंतु परिवर्तित नहीं है! वही है परेषानी! और यह सिर्फ दक्षिण में ही नहीं हो रहा है। यह सारे अमरिका में है! हाल ही में एक प्रचारक ने मुझे कहा कि सुसमाचार प्रचार में एक प्रचारक ने मुझे कहा कि सुसमाचार प्रचार में करीबन हर एक द्वार उन्‍होंने खटखटाया, लोग उन्‍हें चले जाने को कहते है क्‍योंकि वे पहले से ही बचाये गए है! उन्‍होंने कहा वे कलीसिया नहीं आयेंगे और वे पश्‍चाताप नहीं करेंगे - क्‍योंकि वे सोचते है वे पहले ही बचाए गए है! वह परिणाम है ‘‘निर्णायक्‍ता'' के दषकों का और पूर्णरूप से झूठा विचार की ‘‘उड़ाऊ पुत्र'' हकीकत में मसीही है! मैं कहता हूँ, ‘‘ऐसे झूठे सुसमाचार से दूर रहो! इसने अक्षरषः अमरिका को नश्‍ट किया है!'' इसके साथ खिन्‍न रहो! इसे समाप्‍त करके रहो! इसे बाहर फेंको! इसने लाखों आत्‍माओं को षापित किया है, हमारे कलीसियाओं को अपंग बनाया है, और इसने हमारे राश्‍ट्र के लिये आध्‍यात्‍मिक नाष लाया है! मुझे परवाह नहीं कौन इसे बढ़ावा देता है - डॉ. मेकगी, बीली ग्रेहाम, पोप फ्रान्‍सीस, या मसीह के विरोधी - यह उत्‍पाती षिक्षा है, पूरी ष्‍ौतान के ज़हर से भरी हुई! जो हमें हमारे पाठ पर वापस ले जाता है,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है। और वे आनन्‍द करने लगे'' (लूका 15:24)।

(यहाँ क्‍लिक करें पढ़ने दूसरा धार्मिक प्रवचन जो मैंने प्रचार किया था उड़ाऊ पुत्र पर, षीर्शक है, ‘‘परिवर्तन का मूल रूप आदर्ष''। आपको उसे इस धार्मिक प्रवचन के साथ पढ़ना चाहिए)।

॥. दूसरा, यह दृश्‍टांत मसीह द्वारा दिया गया था दिखाने कि कैसे खोए पापी, अपराधों और पाप करने में मरे हुए, बचाए गए है!

एक बार एक आदमी को जानता था जिसने अपनी पत्‍नी को छोड़ा और दूसरी स्‍त्री के साथ भाग गया। फिर उसने बन्‍दूक से बेंक को लूटा, और बहुत वर्शो के लिये जेल में गया बेन्‍क लूटने के कारण। वह व्‍यभिचारी, एक चोर और एक बेन्‍क लूटेरा था। परंतु उसने कहा वह बचाया गया था उस समय! मैंने उससे पूछा क्‍या होता जब वह बन्‍दूक के साथ वह बेन्‍क लूट रहा था तब अगर उन्‍माद होता। सीधे चेहरे के साथ उसने कहा, ‘‘बन्‍दूक जमीन पर गिर जाती जब मैं परमेष्‍वर को हवा में मिलने उन्‍मादी होता!'' मैंने उससे कहा वह गलत था, कि वह कभी भी परिवर्तित नहीं हुआ था। उसने उड़ाऊ पुत्र को याचना की और गलत अनुमान दिया जो मैंने क्षण पहले समझाया उसका, कि वह ‘‘पुत्र'' था सबके साथ। मैंने बाइबल खोली। मैंने उसकी पहली अंगूली मेरे हाथ में ली और उसकी अंगूली को लूका 15:24 पर रखा। मैंने कहा ‘‘इसे पढ़ो''। मुझे कहना पड़ा तीन या चार बार आखिरकार उसके वह रूकते हुए पढ़ने से पहले,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है...'' (लूका 15:24)।

उसने मुझे देखा उसकी आँखो में असभ्‍य नजर के साथ, जैसे वह पकड़ा गया हो! फिर वह बिना समझे चिल्‍लाया, ‘‘परंतु वह नहीं है जो इसका अर्थ है!'' मैंने कहा, ‘‘मैंने तूझे नहीं कहा इसका अर्थ क्‍या है। मैंने सिर्फ तूझे इसे पढ़ने को कहा''। फिर मैंने वह उसके लिये पढ़ा,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है...''।

फिर मैंनै कहा, ‘‘आदमी के अपने पिता ने कहा वह ‘मरा हुआ' था। आदमी के अपने पिता ने कहा वह ‘खोया हुआ' था। अगर उसके अपने पिता ने वह कहा, तो आप कौन होते हो उसके विरूद्ध कहनेवाले?'' बात काटते हुए, अगर आप डॉ. मेकगी की टीप्‍पणी को देखो, आप देखोगे कि उन्‍होंने लूका 15:24 पर कोई समालोचना नहीं दी! वे नहीं कर सके! इसने उनकी झूठी पध्‍धति को पूरी तरह से नश्‍ट कर दिया होता! लूका 15:24 में पिता ने कहा उसका पुत्र ‘‘मरा हुआ'' था - वह है ‘‘अपराधों और पापों में मरा हुआ'' (इफिसियों 2:1,5)। फिर पिता ने कहा, ‘‘वह खोया हुआ था''। क्‍या षक्‍यतः ज्‍यादा स्‍पश्‍ट हो सकता था? उड़ाऊ चित्रण करता है खोए पापी का!

यीषु ने तीन दृश्‍टांत दिये लूका के पाँचवे पाठ में फरीसियों को उत्तर देने। उन्‍होंने षिकायत की थी कि उसने पापीयों के साथ खाया (लूका 15:2)। उन्‍होंने ये तीन दृश्‍टांत दिए दिखाने परमेष्‍वर कैसे आनन्‍दित होते है जब पापी बचाया जाता है! तीन में से हरएक दृश्‍टांत दिखाते है कि प्रभु खोए पापीयों को प्राप्‍त करेंगे और माफ करेंगे। उन्‍होंने खोए भेंड का दृश्‍टांत पद 3 से 7 में दिया। उन्‍होंने खोए सिक्‍के का दृश्‍टांत दिया पद 8 से 10 में। और फिर उन्‍होंने खोए पुत्र का दृश्‍टांत पद 11 से 32 में दिया। तीनो दृश्‍टांतो में मुख्‍य मुद्‌दा है कि परमेष्‍वर बहुत आनंदित होते है ‘‘मन फिरानेवाले पापी'' पर (लूका 15:7,10,24)। विलक्षण प्रकार से, डॉ. रायरी भी सहमत न हुए डॉ. मेकगी और बीली ग्रेहाम के साथ। डॉ. रायरी को यह सही मिला। लूका 15:24 पर उनकी टीप्‍पणी में, उन्‍होंने कहा, ‘‘खोया हुआ, इस पाठ में आठ बार आदमी का खोयापन दृढ़ किया गया है। वी वी 4 (दो बार), 6, 8, 9, 17, 24, 32'' (चार्ल्‍स सी. रायरी, टीएच.डी., पीएच.डी., ध रायरी स्‍टडी बाइबल, मूडी प्रेस, 1978, पृश्‍ठ 1576; लूका 15:4 पर टीप्‍पणी)। ‘‘आदमी का खोयापन दृढ़ किया गया है''। एकदम सही!

डॉ. मेकगी ने हकीकत की उड़ाऊ ‘‘पुत्र'' कहा गया था पर अधिक दबाव डाला इस दृश्‍टांत में ‘‘पुत्र'' का अर्थ नहीं है कि वह बचाया गया था। डॉ. जोन मेकआर्थर सही थे उनके विष्‍ोश मुद्‌दे पर जब उन्‍होंने कहा कि यह दृश्‍टांत ‘‘चित्रण करता है सारे पापियों का (परमेष्‍वर पितामह से संबंधित सर्जन द्वारा) जो उनके सम्‍भावित विष्‍ोश अधिकार बर्बाद करते है और उनके [प्रभु के] साथ कोई रिष्‍ते से इन्‍कार करते है, बजाय चुनते है पापभरे स्‍व-अनुग्रह का जीवन'' (जोन मेकआर्थर, डी.डी., ध मेकआर्थर स्‍टडी बाइबल, वर्ड बाइबलस, 1997, पृश्‍ठ 1545; लूका 15:12 पर टीप्‍पणी)।

डॉ. मेकआर्थर ने भी षुद्ध ढंग से कहा कि उड़ाऊ पुत्र ‘‘मुक्‍ति के लिये उमेदवार था'' जब वह ‘‘अपने आपे में आया'' (ibid., लूका 15:17 पर टीप्‍पणी)। यह दिखाता है कि मेकआर्थर षुद्ध ढंग से कहते है उड़ाऊ खोया हुआ था। मैं डॉ. मेकगी की तरफ हूँ डॉ. मेकआर्थर के सामने बहुत से मुद्‌दों पर, खास करके मसीह के लहू पर। डॉ. मेकगी सही है उस महत्‍वपूर्ण विशय पर, और जोन मेकआर्थर सही नहीं है। परंतु उड़ाऊ पुत्र के परिवर्तन पर, हमारा पाठ मुझे दबाव देता है जोन मेकआर्थर के साथ सहमत होने,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है...'' (लूका 15:24)।

दूसरी बात कहते हुए, सारी पुरानी टीप्‍पणीयाँ कहती है कि उड़ाऊ पुत्र खोया हुआ था, और फिर इस दृश्‍टांत में परिवर्तित हुआ। कोई भी पुराने भाश्‍यकार नहीं कहते उसने उसका जीवन ‘‘पुनःसमर्पित'' किया और वह बचाया गया था! मेथ्‍यु पुले (1624-1679) ने हमारे पाठ के लिये कहा, ‘‘पाप भरी आत्‍मा मृत आत्‍मा है ... पापी का परिवर्तन मृत्‍यु से पुनरूत्‍थान है। कोई भी आत्‍मा सक्षम नहीं है किसी भी सच्‍चे प्रमोद की, जब तक इसे परमेष्‍वर से पुनःमिलाया न जाए मसीह के लहू द्वारा'' (लूका 15:24 पर टीप्‍पणी; ए कोमेन्‍ट्री ओन ध होली बाइबल, पवित्र बाइबल पर टीप्‍पणी, ध बेनर ओफ ट्रुथ ट्रस्‍ट, 1990 में फिर से छपा हुआ, भाग III, पृश्‍ठ 247)।

मेथ्‍यु हेन्री (1662-1714) ने कहा, ‘‘दृश्‍टांत परमेष्‍वर का वर्णन करता है सारी मानवजाति के सामान्‍य पिता की तरह, आदम के पूरे परिवार को ...'' मेथ्‍यु हेन्री कहते गए कि उड़ाऊ पुत्र वर्णन करता है ‘‘एक पापी, हम में से हरएक हमारी स्‍वाभाविक अवस्‍था में ... उड़ाऊ की हालत ... हमें वर्णन देती है पापभरी अवस्‍था, वह भयानक अवस्‍था जिस में आदमी गिरा हुआ है''। फिर मेथ्‍यु हेन्री आगे बढ़ते गए देने नौ तरीके जो उड़ाऊ चित्रण करता है खोया आदमी (मेथ्‍यु हेन्रीस कोमेन्‍ट्री ओन ध होल बाइबल, संपूर्ण बाइबल पर मेथ्‍यु हेन्री की टीप्‍पणी, हेन्‍ड्रीकसन प्रकाषन, 1996 में फिर से छपा हुआ, भाग V, पृपृश्‍ठ 599-600)।

डॉ. जोन आर. राइस ने पीछे देखा उच्‍चकोटि की टीप्‍पणीयों के पुराने तरीकों को। डॉ. राइस असहमत थे डॉ. मेकगी के कथन के साथ कि ‘‘यह पापी का चित्र नहीं है जो बचाया जाता है''। डॉ. राइस ने इससे एकदम विरूद्ध कहा। डॉ. राइस ने कहा, ‘‘उड़ाऊ पुत्र चित्रीत करता है खोए पापी को'' (जोन आर. राइस, डी.डी., आदमी का पुत्र, स्‍वोर्ड ओफ ध लोर्ड प्रकाषक, 1971, पृश्‍ठ 372; लूका 15:11-16 पर टीप्‍पणी)।

सी. एच. स्‍पर्जन, प्रचारकों के राजकुमार, देते है यही मंतव्‍य उनके धार्मिक प्रवचन ‘‘उड़ाऊ का उत्‍कर्श'' में (ध मेट्रोपोलीटन टबरनेकल पुलपीट, पलग्रीम प्रकाषन, 1975 में फिर से छपा हुआ, भाग XLI, पृपृश्‍ठ 241-249)। हमारा पाठ कहता है,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है। और वे आनन्‍द करने लगे'' (लूका 15:24)।

स्‍पर्जन ने हमारे पाठ के लिये कहा, ‘‘आत्‍मा का परिवर्तन पर्याप्‍त है धर्मी के मन में अनन्‍त आनंद बनाने'' (ibid., पाठ की स्‍पश्‍टता, पृश्‍ठ 251)। इन सारे भाश्‍यकारों का प्रभाव स्‍पश्‍टता से दिखाते है कि उड़ाऊ खोया आदमी था, और दृश्‍टांत दिखाता है कैसे वह परिवर्तित हुआ था। वही मंतव्‍य दिया गया है प्रधानस्‍त्रोत विद्वानो द्वारा संपूर्ण युगो तक - जब तक हमारे समय की ‘‘निर्णायक्‍ता'' ने परिवर्तन को ‘‘अस्‍पश्‍ट'' और अषुद्ध बनाया!

III. तीसरा, यह दृश्‍टांत दिखाता है सच्‍चे परिवर्तन में आपको क्‍या होना चाहिए।

अगर आप परिवर्तित होने और सच्‍चे मसीही बनने की आषा करते हो, आपको वही चीजों से गुजरना होगा जिससे उड़ाऊ गुजरा। अगर आप नहीं करोगे, परमेष्‍वर आपको नहीं कह सकेंगे,

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है...'' (लूका 15:24)।

अब आप इन सारे स्‍पश्‍टता और अप्रधान स्‍थान से जानकार हो, और आपका मन फँसते जाता है। आदमी ऊपर बैठो! स्‍त्री ऊपर बैठो! अब मैं आपसे बात कर रहा हूँ! आपको पसार होना ही चाहिए कम से कम कुछ चीजों से जिससे उड़ाऊ पसार हुआ था या आप अधोलोक में जाओगे! आपको अनुभव करना ही चाहिए जो उसने अनुभव किया, या आप अनन्‍तता बिताएंगे गंधक की ज्‍वाला, गोलची में और दुश्‍टात्‍मा द्वारा दी हुई यातना में, और आपके अपने अंतःकरण द्वारा टूकड़ों में फाड़े जाओगे! यहाँ है आपको जिस के द्वारा जाना ही चाहिए, कम से कम कुछ हद तक, बचाए जाने के लिये। यीषु आपकी जगह मरे, आपके पापो के लिए चुकाने, क्रूस पर। वे मृत्‍यु से उठे आपको जीवन देने। परंतु वहाँ आमतौर पर परिश्रम होता है मसीह के पास आने में। निम्‍नलिखित मुद्‌दे लिये गये है उड़ाऊ के दश्‍टांत सेः

1.  अपने स्‍वयं को कबूल कर लेना चाहिए की आपका मन यर्थाथ में स्‍वार्थी है और उसे प्रभु से जितना हो सके दूर रहना है। हमारे पास परिचित लोग है जो पूछताछ कक्ष में आए थे और कहा उन्‍हें बचाए जाना है जो, उसी समय, कलीसिया छोड़ने का विचार कर रहे थे! यह गहरा स्‍वयं-धोखा है। क्‍यों परमेष्‍वर को देना चाहिए बचानेवाला अनुग्रह उस व्‍यक्‍ति को जो संसार में वापस जाने के बारे में सोचता है? ‘‘यदि कोई संसार से प्रेम रखता है, तो उसमें पिता का प्रेम नहीं है'' (1 यूहन्‍ना 2:15)। ‘‘वह व्‍यक्‍ति दुचिता है और अपनी सारी बातों में चंचल है'' (याकूब 1:8)।

2.  परमेष्‍वर से प्रार्थना करो आपको इस संसार की षून्‍यता दिखाने। आपको स्‍कीड रो पर रास्‍ते का व्‍यक्‍ति नहीं बनना है, जानने की आपको वहाँ नहीं जाना है! परमेष्‍वर आपको किसी भी भौतिक जीवन ष्‍ौली की निःसारता दिखा सकते है। परमेष्‍वर से कहो आपको ईष्‍वररहित जीवन की षून्‍यता दिखाने। ‘‘तुम्‍हें इसलिये नहीं मिलता कि माँगते नहीं'' (याकूब 4:2)।

3.  जागो! अपने स्‍वयं के पास आओ! प्रभु से प्रार्थना करो आपको दिखाने कि आप ‘‘भूख के साथ नश्‍ट'' हो रहे हो, जब आपको षान्‍ति और आनंद मिल सकता था! जिस प्रकार आप अभी हो, आपको आंतरिक षान्‍ति नहीं है! क्‍यों पाप में जाते रहे जब आप मसीह द्वारा माफ किए जा सकते हो? ‘‘दुश्‍टों के लिये षान्‍ति नहीं है, मेरे परमेष्‍वर का यही वचन है'' (यषायाह 57:21)

4.  आपके पाप के बारे में सोचो। व्‍यक्‍तिगत पापों, और आपके पापभरे मन के बारे में भी सोचो। आपके पाप के बारे में गहराई से सोचो जब तक आप उड़ाऊ के साथ कह सको, ‘‘मैंने स्‍वर्ग के विरोध में और तेरी दृश्‍टि में पाप किया है'' (लूका 15:18)। मेरे याजक डॉ. तीमोथी लीन बचाए नहीं गए थे जब तक उन्‍होंने उनके पापों की लंबी सूचि न लिखी। वे बार बार उस पापों की सूचि पर जाते रहे जब तक प्रभु ने उन्‍हें अपराधभाव न दिया, और वे जानते थे वे खोए पापी थे! मैं आपको नहीं कहता आपको वह करना है, परंतु यह षायद किसी को सहाय करे।

5.  अपने स्‍वयं को प्रभु पुत्र पर फेंको, ‘‘क्‍योंकि परमेष्‍वर एक ही है, और परमेष्‍वर और मनुश्‍यों के बीच में भी एक ही बिचवई है, अर्थात्‌ मसीह यीषु जो मनुश्‍य है'' (1 तीमुथियुस 2:5)। यीषु ने कहा, ‘‘बिना मेरे द्वारा कोई पिता के पास नहीं पहुँच सकता'' (यूहन्‍ना 14:6)। ‘‘प्रवेष करने का यत्‍न करो'' (लूका 13:24)। वे जो सिर्फ दैवयोग से सोचते है, मसीह के पास आने से वे बचाए नहीं जाएँगे। यह आपके जीवन में सबसे महत्‍वपूर्ण चीज होनी ही चाहिए! ‘‘प्रवेष करने का यत्‍न करो''! जब आप मसीह को पाओगे यह कितने भी प्रयत्‍न का अच्‍छा परिणाम होगा, कितना भी ‘‘यत्‍न''। यीषु ने कहा, ‘‘मेरे पास आओ ... मैं तुम्‍हें विश्राम दूँगा'' (मती 11:28)। ‘‘उसके पुत्र यीषु का लहू हमें सब पापों से षुद्ध करता है'' (1 यूहन्‍ना 1:7)।

यह पुराना भक्‍तिगीत आज रात आपकी प्रार्थना हो -

मैं प्रभु से बहुत दूर भट़का,
   अब मैं घर आ रहा हूँ;
पाप की बहुत लंबी राह पर मैं चला,
   प्रभु, मैं घर आ रहा हूँ।
मैंने बहुत से बहुमूल्‍य वर्श बर्बाद किए,
   अब मैं घर आ रहा हूँ;
मैं अब पश्‍चाताप करता हूँ कड़वे आँसूओं के साथ,
   प्रभु, मैं घर आ रहा हूँ।
घर आ रहा हूँ, घर आ रहा हूँ,
   ज्‍यादा भटकना कभी भी नहीं,
आपके प्रेम की बाहें खुल्‍ली करो,
   प्रभु, मैं घर आ रहा हूँ।
(‘‘प्रभु, मैं घर आ रहा हूँ'' वीलीयम जे. कीर्कपेट्रीक द्वारा, 1838-1921)।

अगर आपको हमारे साथ बचाए जाने के बारे में बात करनी हो, मेहरबानी करके अभी आपकी बैठक छोड़ो, और सभागृह के पीछे जाओ। डॉ. केगन आपको षांत कक्ष में ले जाएँगे प्रार्थना के लिये। डॉ. चान, मेहरबानी करके किसी के लिये प्रार्थना कीजिये आज रात यीषु पर भरोसा करने। आमीन।

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान एबल प्रुद्योम्‍म द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्‍त्रः लूका 15:21-24।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्‍जामिन कीनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीतः
‘‘अब मैं यीषु के योग्‍य हूँ'' (नोर्मन जे. फ्‍लेटोन द्वारा, 1903-1992)।


:रूपरेखा

उड़ाऊ पुत्र का गलत अर्थ लगाना
(उड़ाऊ पुत्र पर धार्मिक प्रवचन क्रमांक 2)

डॉ. आर. एल. हायमर्स, जुनि. द्वारा

‘‘क्‍योंकि मेरा यह पुत्र मर गया था, फिर जी गया है; खो गया था, अब मिल गया है। और वे आनन्‍द करने लगे'' (लूका 15:24)।

I.   पहला, जिस प्रकार यह दृश्‍टांत गलत अर्थ लगाया गया है बहुत से आधुनिक प्रचारकों द्वारा, लूका 15:24।

II.  दूसरा, यह दृश्‍टांत मसीह द्वारा दिया गया था दिखाने कि कैसे खोए पापी, अपराधों और पाप करने में मरे हुए, बचाए गए है! इफिसियों 2:1,5;
लूका 15:7,10,24।

III. तीसरा, यह दृश्‍टांत दिखाता है सच्‍चे परिवर्तन में आपको क्‍या होना चाहिए,
1 यूहन्‍ना 2:15; याकूब 1:8; 4:2; यषायाह 57:21; लूका 15:18;
1 तीमुथियुस 2:5; यूहन्‍ना 14:6; लूका 13:24; मती 11:28; 1 यूहन्‍ना 1:7।