Print Sermon

इन संदेशों की पांडुलिपियां प्रति माह २१५ देशों के १,५००,००० कंम्प्यूटर्स पर इस वेबसाइट पते पर www.sermonsfortheworld.com जाती हैं। सैकड़ों लोग इन्हें यू टयूब विडियो पर देखते हैं। किंतु वे जल्द ही यू टयूब छोड़ देते हैं क्योंकि विडियों संदेश हमारी वेबसाईट पर पर पहुंचाता है। यू टयूब लोगों को हमारी वेबसाईट पर पहुंचाता है। प्रति माह ये संदेश ३५ भाषाओं में अनुवादित होकर १२०,००० प्रति माह हजारों लोगों के कंप्यूटर्स पर पहुंचते हैं। लिये उपलब्ध रहते हैं। पांडुलिपि संदेशों का कॉपीराईट नहीं है। आप उन्हें बिना अनुमति के भी उपयोग में ला सकते हैं। आप यहां क्लिक करके अपना मासिक दान हमें दे सकते हैं ताकि संपूर्ण संसार जिसमें मुस्लिम व हिंदु भी सम्मिलित है उनके मध्य सुसमाचार फैलाने के महान कार्य में सहायता मिल सके।

जब कभी आप डॉ हिमर्स को लिखें तो अवश्य बतायें कि आप किस देश में रहते हैं। अन्यथा वह आप को उत्तर नहीं दे पायेंगे। डॉ हिमर्स का ईमेल है rlhymersjr@sbcglobal.net.




आगामी राजा

THE COMING KING
(Hindi)

डॉ. आर. एल. हायमर्स, जुनि. द्वारा
by Dr. R. L. Hymers, Jr.

लोस एंजलिस के बप्तीस टबरनेकल में प्रभु के दिन की
सुबह, 4 अगस्त, 2013 को दिया हुआ धार्मिक प्रवचन
A sermon preached at the Baptist Tabernacle of Los Angeles
Lord’s Day Morning, August 4, 2013

‘‘पिलातुस ने उससे कहा, तो क्या तू राजा है? यीषु ने उत्तर दिया, तू कहता है कि मैं राजा हूँ। मैंने इसलिये जन्म लिया, और इसलिये संसार में आया हूँ कि सत्य की गवाही दूँ'' (यूहन्ना 18:37)।


यह धार्मिक प्रवचन डॉ. डब्ल्यु ए. क्रीसवेल, टेक्सास, डल्लास के पहले बेपटीस्ट कलीसिया के सम्मानित और निवृत, सत्तावन वर्शो से याजक, 1944 से उनकी मृत्यु तक, जनवरी 2002, 92 वर्श की आयु, के द्वारा दिए गए प्रचार का प्रकाषित और संक्षेप किया हुआ वर्णन है। उनके धार्मिक प्रवचन उत्त्ोजित करनेवाले थे। मेरा मन रोमांचक होता था हर समय जब मैंने उनको प्रचार देता हुआ सुना था। मैं उनको बीसवी सदी के उत्तरार्ध के तीन महान् प्रचारकों में से एक मानता हूँ। और मैं आज इस सुबह आपको देता हूँ डॉ. क्रीसवेल के महान् धार्मिक प्रवचन, ‘‘आगामी राजा'' का प्रकाषित वर्णन। मेहरबानी करके आपकी बाइबल में यूहन्ना 18:37 पर फिरो, और प्रभु के वचन पढ़ने खड़े रहो।

‘‘पिलातुस ने उससे कहा, तो क्या तू राजा है? यीषु ने उत्तर दिया, तू कहता है कि मैं राजा हूँ। मैंने इसलिये जन्म लिया, और इसलिये संसार में आया हूँ कि सत्य की गवाही दूँ'' (यूहन्ना 18:37)।

आप बैठ सकते हो।

मसीह रोमी प्रधान पुन्तियुस पीलातुस के सामने खड़े हैं, वे तुच्छ व्यक्ति है। कांटो का ताज़ उनके सिर पर रखा गया, उनके चेहरे पर लहू की धार बहाते हुए। उनकी पीठ पर रोमी सैनिको द्वारा कोड़ो से लहू भरा माँस नीकलने तक मारा गयी। उसकी आवाज में अविष्वास से, पिलातुस कहता है, ‘‘क्या तू राजा है?'' यीषु सबसे ज्यादा दृढ तरीके में उत्तर देते है जो ग्रीक भाशा इसे स्पश्ट कर सकती है, प्रष्न दोहराने के लिये। ‘‘तू कहता है कि मैं राजा हूँ। मेंने इसलिये जन्म लिया, और इसलिये संसार में आया हूँ कि सत्य की गवाही दूँ'' (यूहन्ना 18:37)। यीषु उद्धारक, मसीह और राजा है!

निरपेक्ष स्वीकृति में, प्रभु परमेष्वर ने अब्राहम और इस्त्राएल के सारे वंषजो को सदा के लिये पेलेस्टीन Palestine की भूमि का वचन दिया। हम भजन संहिता 105 में पढ़ते है,

‘‘वह अपनी वाचा को सदा स्मरण रखता आया है, यह वही वचन है, जो उसने हजार पीढ़ियों के लिये ठहराया है। वही वाचा जो उसने अब्राहम के साथ बाँधी, और उसके विशय में उसने इसहाक से षपथ खाई; और उसी को उसने याकूब के लिये विधि करके, और इस्त्राएल के लिये यह कहकर सदा की वाचा करके दृढ़ किया : मैं कनान देष को तुझी को दूँगा, वह बाँट में तुम्हारा निज भाग होगा'' (भजन संहिता 105:8-11)।

बाकी सारा संसार दूसरे राश्ट्रो के लिये है, परंतु कनान देष की भूमि, पेलेस्टीन की भूमि, इस्त्राएल के वंषजो के लिये, यहूदी लोगों के लिये योग्य है। यह षपथ है परमेष्वर की अब्राहम को, इसहाक को, और याकूब को सदा निरपेक्ष स्वीकृति द्वारा।

वही प्रभु परमेष्वर ने दाउद से कहा कि उसे पुत्र होगा जो उसके सिहांसन पर सदा और सदा के लिए बैठेगा, बिना अंत की दुनिया में। प्रभु परमेष्वर ने दाऊद से कहा,

‘‘और जब तेरी आयु पूरी हो जाएगी, और तू अपने पुरखाओं के संग सो जाएगा, तब मैं तेरे निज वंष को तेरे पीछे खड़ा करके उसके राज्य को स्थिर करूँगा ... वरन् तेरा घराना और तेरा राज्य मेरे सामने सदा अटल बना रहेगा : तेरी गद्दी सदैव बनी रहेगी'' (2 षमूएल 7:12,16)।

प्रभु परमेष्वर जिन्होंने अब्राहम, इसहाक और याकूब को षपथ दी थी कि वे सदा सदैव कनान देष पर राज करेंगे ये वही प्रभु परमेष्वर है जिन्होंने दाऊद को षपथ दी थी कि उसे पुत्र होगा जो सदा के लिये इस्त्राएल पर षासन करेगा। वह आगामी राजा उनके परदादा दाऊद का वंष और वंष परंपरा का होगा। भविश्यवक्ता यषायाह ने वर्णन किया उस षक्तिषाली, आगामी राजा, दाऊद के पुत्र,

‘‘तौ भी संकट - भरा अन्धकार जाता रहेगा। पहले तो उसने जबूलून और नप्ताली के देषों का अपमान किया, परन्तु अन्तिम दिनों में ताल की और यरदन के पार की अन्य जातियों के गलील को महिमा देगा। जो लोग अन्धियारे में चल रहे थे उन्होंने बड़ा उजियाला देखा; और जो लोग घोर अन्धकार से भरे हुए मृत्यु के देष में रहते थे, उन पर ज्योति चमकी ... क्योंकि हमारे लिये एक बालक उत्पन्न हुआ, हमें एक पुत्र दिया गया है : और प्रभुता उसके काँधे पर होगी, और उसका नाम अद्भूत युक्ति करनेवाला पराक्रमी परमेष्वर, अनन्तकाल का पिता, और षान्ति का राजकुमार रखा जाएगा। उसकी प्रभुता सर्वदा बढ़ती रहेगी, और उसकी षान्ति का अन्त न होगा, इसलिये वह उसको दाऊद की राजगद्दी पर इस समय से लेकर सर्वदा के लिये न्याय और धर्म के द्वारा स्थिर किए और सम्भाले रहेगा। सेनाओं के यहोवा की धुन के द्वारा यह हो जाएगा'' (यषायाह 9:1-2, 6-7)।

उस भविश्यवाणी के सातसो पच्चास वर्शो बाद, स्वर्गदूत गिब्राइल, मरियम नामकी यहूदी कुवाँरी लड़की के सामने आए। स्वर्गदूत ने उससे कहा कि वह उस भविश्यवाणी में कहे हुए, पहिले से नियुक्त किए हुए बालक, आगामी राजा, दाऊद के पुत्र की माता होगी। स्वर्गदूत ने कहा,

‘‘देख, तू गर्भवती होगी, और तेरे एक पुत्र उत्पन्न होगा; तू उसका नाम यीषु रखना। वह महान् होगा, और परमप्रधान का पुत्र कहलाएगा : और प्रभु परमेष्वर उसके पिता दाऊद का सिंहासन उसको देगा : और वह याकूब के घराने पर सदा राज्य करेगा : और उसके राज्य का अन्त न होगा। मरियम ने स्वर्गदूत से कहा, यह कैसे होगा, मैं तो पुरूश को जानती ही नहीं? स्वर्गदूत ने उसको उत्तर दिया, पवित्र आत्मा तुझ पर उतरेगा, और परमप्रधान की सामर्थ्य तुझ पर छाया करेगी : इसलिये वह पवित्र जो उत्पन्न होनेवाला है, परमेष्वर का पुत्र कहलाएगा'' (लूका 1:31-35)।

नौ महिने बाद बालक जन्मा था। चौंके हुए गड़ेरिये के सामने, करीब के ख़ेत में, स्वर्गदूत का समूहगान गानेवाले दिखे और गाया, ‘‘आकाष में परमेष्वर की महिमा, और पृथ्वी पर उन मनुश्यों में जिन से वह प्रसन्न है, षान्ति हो'' (लूका 2:14)। षपथ किए हुए वाचा के राजा आखिरकार आ गए!

तिबिरियुस कैसर के पंद्रहवे वर्श में, तीस वर्शीय यीषु को बपतिस्मा दिया गया था यूहन्ना बपतिस्मा देनेवाले द्वारा यरदन नदी में। उनकी माता मरियम द्वारा, वे दाऊद के वंषज थे नातान की वंषावलि से। यूसुफ, मरीयम के पति द्वारा, वे कायदाकीय रीति से सुलैमान Soloman की वंषावलि से दाऊद के वंषज थे। दोनों तरह से फायदे के हक्क द्वारा और लहू के वारसे के द्वारा यीषु वचन किए हुए राजा थे!

बाद में एक दिन, निष्चिंत समय गिब्राइल द्वारा भविश्यवक्ता दानिय्येल को पहले कहा गया था, जकरयाह द्वारा निष्चिंत प्रकार की भविश्यवाणी में, प्रभु यीषु मसीह यरूषलेम में आए, नम्र और गधे पर सवार, अपने स्वयं को वाचा के राजा की तरह प्रस्तुत करने, षान्ति के राजकुमार। जैसे वे यरूषलेम के पवित्र षहर में आए, लोग चिल्लाए, ‘‘परमप्रधान में होषाना! धन्य है वह, जो प्रभु के नाम से आता है! दाऊद के पुत्र को होषाना!'' जब षास्त्रीयों और फरीसियों ने लोगों को चिल्लाने से रोकने की कोषिश की, यीषु ने जवाब दिया, ‘‘यदि वे चुप रहे, तो पत्थर चिल्ला उठेंगे'' (लूका 19:40)।

वह प्रभु के चुने हुए लोगों में वाचा का महान दिन था। यह सारे इतिहास में महान उत्कृश्ट पल था। वाचा के राजा आए थे, यिषु, यहुदीयों के राजा। परन्तु वहाँ और ज्यादा है।

।. पहला, वे अस्वीकारे हुए राजा है।

यीषु इस्त्राएल की उच्चतम अदालत सेन्हेड्रीन में गवाही देने के तख्त पर खड़े हो गए। उनके सामने महायाजक जो सेन्हेड्रीन के अध्यक्ष थे वे खड़े थे। महायाजक प्रभु से कहते है,

‘‘मैं तुझे जीवते परमेष्वर की षपथ देता हूँ कि यदि, तू परमेष्वर का पुत्र मसीह है, तो हम से कह दे। यीषु ने उससे कहा, तूने आप ही कह दिया : वरन् मैं तुमसे यह भी कहता हूँ कि अब से तुम मनुश्य के पुत्र को सर्वषक्तिमान के दाहिनी ओर बैठे, और आकाष के बादलों पर देखोगे'' (मती 26:63-64)।

जब प्रभु ने वह कहा, महायाजक ने उनके कपड़े फाड़े और सेन्हेड्रीन की ओर मुड़ गया और कहा, ‘‘आपने उनकी इष्वर-निन्दा सुनी, आप क्या कहते हो?'' उन्होंने पुकारा, ‘‘उसे क्रूस पर चढ़ा दो, उसे क्रूस पर चढ़ा दो!''

उस समय प्रधान दण्ड सेन्हेड्रीन से ले लिया गया, और पैरवी करनेवाले रोमी को दिया। यहूदी, इसीलिये, प्रभु यीषु को पुन्तियुस पिलातुस के पास ले गए, और उन्हें द्रोह और राजविरोध के लिये दोशी ठहराया, कहते हुए, ‘‘वे कहते है वे राजा है''। प्रभु यीषु वहाँ खड़े थे, इतने धैर्यवान, इतने षान्त! पिलातुस ने कहा, ‘‘वे? राजा?'' ‘‘हाँ, वे कहते है वे मसीह, एक राजा है। वे राजविरोध और विद्रोह के अपराधी है''। पिलातुस ने कहा, ‘‘मैं उसे कोड़ो से मारूँगा और उसे जाने दूँगा''।

इसलिये रोमी सैनिको ने उसे मारा, और तिरस्कार में दोनों यहूदी और इस नम्र नासारत, ने उन्हें कांटो का ताज पहनाया, उनके खंदे पर बैंजनी रंग का कपड़ा रखा, उनके हाथ में लकड़ी रखी राजदंड के लिये, और उपेक्षा से उनके घुटने झुका दिये, कहते हुए, ‘‘हेइल, Hail, यहूदियों के राजा''।

पिलातुस ने उसे देखा भयानक कोड़ो की मार से लहू बहाते, काँटो के ताज और गंदे, फटे पुराने, चीथरे हुए पहिनावे के साथ हास्यास्पद व्यक्ति, उसे बाहर लोगों के सामने लाया और कहा, ‘‘देखो आपका राजा!'' उन्होंने उत्तर दिया, ‘‘हमारे पास कैसर के अलावा राजा नहीं है, उसे क्रूस पर चढ़ा दो!''

ड़र के कारण, पुन्तियुस पिलातुस ने उसे सैनिकों को सौंप दिया जो उन्हें काल्वरी ले गए और उन्हें क्रूस पर चढ़ाया, किल से उनको क्रूस पर लटकाया। परंतु उनके सिर के ऊपर पिलातुस ने दोश लिखा, ‘‘यह यीषु है, राजा!'' फरिसियों ने कहा, ‘‘मत लिखो ‘यह यीषु है राजा'। ऐसे लिखो ‘यह यीषु है जिसने कहा वह राजा है।''' पिलातुस ने उत्तर दिया, जो मैंने लिखा, मैंने लिखा।'' यीषु राजा की तरह क्रूस पर चढ़ाए गए, और वह राजा ही मरे - अस्वीकार किए हुए राजा। ‘‘वह अपने घर आया और उसके अपनों ने उसे ग्रहण नहीं किया'' (यूहन्ना 1:11)।

॥. दूसरा, वे बहिश्कार किए हुए राजा है।

जब यीषु क्रूस पर मरे, ष्‍ौतान षायद आनंदित हुआ होगा! ऐसा लगता है हम सुन सकते है ष्‍ौतान को चिल्लाते हुए षास्त्रीयों और फरीसियों के मुख से,

‘‘इसने औरों को बचाया; और अपने आप को नहीं बचा सकता। यह तो इस्त्राएल का राजा है, अब क्रूस पर से उतर आए तो हम उस पर विष्वास करें'' (मती 27:42)।

मैं सुन सकता हूँ ष्‍ौतान को षास्त्री, फरिसियों और सदुकी द्वारा आनंदित होते हुए, जैसे वे चलते है ऊपर और नीचे यीषु के सामने जैसे वे क्रूस पर मरते है।

परंतु ष्‍ौतान को जानकारी नहीं थी आगे क्या होगा। यह प्रभु के मन में गुप्त रखा गया था कि वहाँ पर अवकाष, क्षणिक विराम, होगा उनकी क्रूस पर मृत्यु और उनके दोबारा राजा की तरह आने में। वहाँ पर क्षणिक विराम होगा (पौलुस इसे ‘‘मस्टेरीयन'', एक रहस्य कहते है इफिसियों 3 में)। उस क्षणिक विराम में पवित्र आत्मा का युग होगा जिसमें परमेष्वर सारे संसार के लोगों को उनके अपने लिये पुकारेंगे। वे कहे जाएँगे ‘‘एक्क्लेसिया'', ‘‘पुकारा हुआ'', हमारी भाशा में, ‘‘कलीसिया''।

मुक्ति का सुसमाचार हर एक जगह सब आदमीयों को प्रचार किया जाएगा। जब कभी आदमी यीषु की ओर फिरेगा और विष्वास करेगा, वह भी सामिल किया जाएगा कलीसिया, परमेष्वर के परिवार में। वहाँ एक विष्वास का परिवार होगा - यीषु और अन्य जातियों, ग्रीक और बार्बेरीयन, काले और ष्वेत और पीले और भूरा, पुरूश और स्त्री, षिक्षित और अषिक्षित, धनवान और गरीब, प्रभु की दृश्टि में सारे समान बहुमूल्य, प्रभु के मुक्त परिवार से संबंधित, नया सर्जन कलीसिया कहलाता है, मसीह की नववधू।

परंतु राज्य का क्या? क्या वहाँ कोई राज्य नहीं होगा? क्या परमेष्वर राज्य भूल गए है? आप देखो, यीषु कलीसिया के सर्वोपरी है। परंतु वे कलीसिया के ‘‘राजा'' नहीं कहलाते। वहाँ नयी नियमावली इस प्रकार के कोई षब्द नहीं है। राज्य पर यीषु राजा है - परंतु क्या कभी भी राज्य आएगा? क्या यीषु सदैव संसार पर षासन करेंगे?

यीषु के फिर से स्वर्ग में चढ़ने से पहले, प्रेरितो पाठ एक में, चेलों ने उन से पूछा, ‘‘हे प्रभु, क्या तू इसी समय इस्त्राएल को राज्य फेर देगा?'' (प्रेरितो 1:6)। वह एकदम निष्चिंत पल था यीषु के लिये कहने, ‘‘वहाँ पर कोई भी राज्य नहीं होगा। वहाँ कभी भी राज्य नहीं होगा।'' परंतु यीषुने उनको वह नहीं कहा। बजाय उन्होंने कहा, ‘‘उन समयों या कालों को जानना आपके लिए नहीं है, जिनको पिता ने अपने ही अधिकार में रखा है ... [परंतु] तुम पर आएगा तब तुम सामर्थ्य ... पृथ्वी की छोर तक मेरे गवाह होंगे'' (प्रेरितो 1:7,8)। उन्होंने उनसे कहा बाहर जाकर आत्मा जीतने, कलीसिया भरने, मुक्ति में जमा होने। राज्य आएगा, परंतु यह भविश्य में। किसी महिमा भरे दिन राज्य आएगा!

॥।. तीसरा, वे आगामी राजा है।

यीषु दो तरीकों से आते है। वे पहले रात में चोर की तरह आते है। दोबारा वे आते है बिजली की चमक की तरह जो आसमान को अलगाता है और पूर्व से पष्चिम में चमकता है। इसलिये प्रभु यीषु आते है पेराऊसीया में, एपोकालुप्सीस, षासनकर्ता राजा की महान् आकाषवाणी।

पहले, वे रात में चोर की तरह आते है। वे आते है बिना घोशणा किए, अचानक षांत से, गुप्तता से। वे चोर की तरह आते है उनके अलंकार चुराने। वे चोर की तरह आते है उनके लोगों को आनंदित करने। हम सब को बदलना चािए। हम जो जीवित है और रहेंगे, जब वे आते है, अचानक आनंदित होने चाहिए प्रभु को हवाँ में मिलने।

वे जो मसीही की तरह मरे है, वे पहले उठेंगे। तूरही बजनी चाहिए और मसीह में मरे हुए पहले उठने चाहिये। फिर सब जीविंत मसीही पकड़े जाऐंगे परमेष्वर को हवा में मिलने। हम सब उठ़ाने चाहिए, और हम सब बदलने चाहिए। हम सब ऊपर पकड़े जाने चाहिए मसीह को हवा में मिलने। जैसे यह था हनोक के दिनों में, अचानक से वह गया था। जैसा यह था एलिय्याह के दिनों में, प्रभु ने उसे ऊपर लिया चक्रवात में। जैसा यह था लूत के दिनों में और स्वर्गदूत उसे बाहर लाया परमेष्वर का न्याय धरती पर आने से पहले। इस प्रकार मसीह आने चाहिए, चोरी से, गुप्तता से, जैसे एक चोर रात में, उनके लोगों को बड़े क्लेष का न्याय आने से पहले आनंद से।

फिर, वे आते है स्पश्टरूप में, और हर एक आँख उन्हें देखेगी, पारोउसीया और एपोकलुप्सीस। जैसे बीजली पूरे स्वर्ग में चमकती है, वैसे ही महिमा और मसीह का अस्तित्व दिखना चाहिए। आकाषवाणी के अंतभार्स (apocalypse) का पाठ है प्रकाषितवाक्य 1:7, ‘‘देखो, वह बादलों के साथ आनेवाला है; और हर एक आँख उसे देखेगी''।

प्रभु यीषु मसीह आ रहे है उनके लोगों के साथ, स्वर्ग से उतरकर। वे आ रहे है प्रभु की महिमा में प्रभु पुत्र की तरह, और प्रभु के पुत्र की तरह। वे आ रहे है उनकी अपनी महिमा में अब्राहम के बेटे की तरह, दाऊद के पुत्र की तरह, आदमी के पुत्र की तरह, प्रभु के पुत्र की तरह!

वे आ रहे है यहूदियों के राजा की तरह। वे आ रहे है राश्ट्रो के राजा की तरह। वे आ रहे है राजाओं के राजा की तरह। वे आ रहे है प्रभु, पेन्टोक्राटर, सर्वषक्तिमान प्रभु, पवित्र त्रिदेव के दूसरे व्यक्ति की तरह। वे आ रहे है संसार के पुनःसर्जक और पुनःउद्धारक की तरह। वे आ रहे है सारे सर्जन के प्रभु और राजा की तरह।

फिर भविश्यवक्ताओं के सारे कथन लागू होने चाहिए जैसे मीका,

‘‘वह बहुत से देषों के लोगों का न्याय करेगा, और दूर दूर तक की सामर्थी जातियों के झगड़ों को मिटाएगा; इसलिए वे अपनी तलवारें पीटकर हल के फाल, और अपने भालों से हँसिया बनाएँगे; जब एक जाति दूसरी जाति के विरूद्ध तलवार फिर न चलाएगी'' (मीका 4:3)।

षान्ति के राजकुमार आयेंगे। तब यषायाह की सुन्दर भविश्यवाणी लागू होगी,

‘‘तब भेड़िया भेड़ के बच्चे के संग रहा करेगा, और चीता बकरी के बच्चे के साथ बैठा करेगा, और बछड़ा और जवान सिंह और पाला-पोसा हुआ बैल तीनों इकट्ठे रहेंगे, और एक छोटा लड़का उनकी अगुवाई करेगा। गाय और रीछनी मिलकर चरेंगे, और उनके बच्चे इकट्ठे बैठेंगे; और सिंह बैल के समान भूसा खाया करेगा। दूध-पीता बच्चा करैत के बिल पर खेलेगा, और दूध छुड़ाया हुआ लड़का नाग के बिल में हाथ डालेगा। मेरे सारे पवित्र पर्वत पर न तो कोई दुःख देगा और न हानि करेगा; क्योंकि पृथ्वी यहोवा के ज्ञान से ऐसी भर जाएगी जैसा जल समुद्र में भरा रहता है'' (यषायाह 11:6-9)।

मसीह के दोबारा आने के विचार से मानव के मन में दो प्रतिवचन आते है। एक है डर। अगर आपका मन संसार में है, और आपका जीवन अहंकार और पाप को दिया गया है, तो मसीह के दोबारा आने का विचार डरावना है, जैसे प्रकाषितवाक्य के छठ्ठे पाठ में वर्णन किया है,

‘‘और [व] पहाड़ों और चट्टानों से कहने लगे, हम पर गिर पड़ो, और हमें उसके मुँह से जो सिंहासन पर बैठ है, और मेम्ने के प्रकोप से छिपा लो : क्योंकि उन के प्रकोप का भयानक दिन आ पहुँचा है; अब कौन ठहर सकता है?'' (प्रकाषितवाक्य 6:16-17)।

वे जो मसीह को अस्वीकार करते है और पाप में जी रहे है उनको, मसीह का आना डर है। परंतु जो बचाए हुए है, उनको हमारे उद्धारक का दिखना सब चीज़ों से प्यारा, और मधुर और बहुमूल्य है। जैसे पवित्र प्रेरितो यूहन्ना ने कहा प्रकाषितवाक्य की किताब के अंत में, ‘‘आमीन। हे प्रभु यीषु आ'' (प्रकाषितवाक्य 22:20)।

यह षायद दोपहर में हो, यह षायद संधिप्रकाष में हो,
यह षायद संयोगवष की मध्यरात्रि का कालापन हो
उनकी महिमा की चमक में प्रकाष में फटे,
यीषु अपने स्वयं को प्राप्त करते है।

जब उसके यजमान पुकारे होषाना स्वर्ग से नीचे उतरते,
आदरणीय संतो और स्वर्गदूतों के साथ उपस्थित होते है,
उनके ललाट पर अनुग्रह के साथ, जैसे महिमा के प्रभामण्डल के साथ,
यीषु अपने स्वयं को प्राप्त करते है।

ओह आनंद! ओह प्रसन्नता! हमें मरे बिना जाना चाहिए,
बीमारी नहीं, दुःख नहीं, भय नहीं और रोना नहीं,
बादलों से पकड़े हुए प्रभु के साथ महिमा में,
यीषु अपने स्वयं को प्राप्त करते है।

ओह, प्रभु यीषु, कितना लंबा, कितना लंबा,
षीघ्र हम पुकारेंगे आनंदित गीत,
मसीह लौटे! हल्लिलूय्याह!
हल्लिलूय्याह! आमीन, हल्लिलूय्याह! आमीन!
(‘‘मसीह लौटे'' एच. एल. टर्नर द्वारा, 1878)।

स्वागत राजा, प्रभु, उद्धारक, भाग्यवान् यीषु!

(संदेश का अंत)
आप डॉ0हिमर्स के संदेश प्रत्येक सप्ताह इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं क्लिक करें
www.realconversion.com अथवा www.rlhsermons.com
क्लिक करें ‘‘हस्तलिखित संदेश पर।

आप डॉ0हिमर्स को अंग्रेजी में ई-मेल भी भेज सकते हैं - rlhymersjr@sbcglobal.net
अथवा आप उन्हें इस पते पर पत्र डाल सकते हैं पी. ओ.बॉक्स 15308,लॉस ऐंजेल्स,केलीफोर्निया 90015
या उन्हें दूरभाष कर सकते हैं (818)352-0452

ये संदेश कॉपी राईट नहीं है। आप उन्हें िबना डॉ0हिमर्स की अनुमति के भी उपयोग में ला सकते
 हैं। यद्यपि, डॉ0हिमर्स के समस्त वीडियो संदेश कॉपीराइट हैं एवं केवल अनुमति लेकर
ही उपयोग में लाये जा सकते हैं।

धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान एबल प्रुद्योम्म द्वारा पढ़ा हुआ पवित्रषास्त्रः यषायाह 9:1-2, 6-7।
धार्मिक प्रवचन से पहले श्रीमान बेन्जामिन कीनकेड ग्रीफिथ द्वारा गाया हुआ गीत :
‘‘मसीह लौटै'' (एच. एल. टर्नर द्वारा, 1878)।


रूपरेखा

आगामी राजा

डॉ. आर. एल. हायमर्स, जुनि. द्वारा

‘‘पिलातुस ने उससे कहा, तो क्या तू राजा है? यीषु ने उत्तर दिया, तू कहता है कि मैं राजा हूँ। मैंने इसलिये जन्म लिया, और इसलिये संसार में आया हूँ कि सत्य की गवाही दूँ'' (यूहन्ना 18:37)।

(भजन संहिता 105:8-11; 2 षमूएल 7:12;16; यषायाह 9:1-2, 6-7;
लूका 1:31-35; 2:14; 19:40)

।. पहला, वे अस्वीकारे हुए राजा है, मती 26:63-64; यूहन्ना 1:11।

॥. दूसरा, वे बहिश्कार किए हुए राजा है, मती 27:42;
प्रेरितो 1:6,7,8।

॥।. तीसरा, वे आगामी राजा है, प्रकाषितवाक्य 1:7; मीका 4:3; यषायाह 11:6-9; प्रकाषितवाक्य 6:16-17; 22:20।